पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57858.150.64 %
  • NIFTY17277.950.75 %
  • GOLD(MCX 10 GM)486870.08 %
  • SILVER(MCX 1 KG)63687-1.21 %

अमेरिका के स्कूलों में फुल टाइम टीचरों की कमी:वैकल्पिक टीचरों की डिमांड बढ़ी, नई भर्ती में कॉलेज डिग्री में दे रहे छूट

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कई स्कूल क्लासेज कैंसिल कर रहे थे, अब पढ़ाई आई फिर से पटरी पर। - Money Bhaskar
कई स्कूल क्लासेज कैंसिल कर रहे थे, अब पढ़ाई आई फिर से पटरी पर।

अमेरिका के वर्जीनिया राज्य के हंटिंगटन शहर के एक प्रारंभिक स्कूल में फुल टाइम टीचरों की कमी आ गई। कई टीचर छुट्‌टी पर चले गए तो कुछ ने नौकरी छोड़ दी। स्कूल को कुछ क्लासेज कैंसिल करनी पड़ गईं। रिमोट क्लासेज से बच्चों को पढ़ाई में समस्या आ रही थी तो स्कूल प्रशासन ने सब्सटीट्यूट (वैकल्पिक) टीचरों का रुख किया।

स्कूलों ने वैकल्पिक टीचरों की कॉलेज की अनिवार्यता को भी खत्म कर दिया। वैकल्पिक टीचरों की डिमांड में खासी तेजी आ गई। ऐसे में कई टीचरों ने इन वैकल्पिक पदों के लिए आवेदन कर दिया। वैकल्पिक टीचरों को स्कूलों में ज्यादा क्लासेज मिलने लगीं। लिहाजा इससे उनके वेतन में भी इजाफा हुआ। दरअसल अमेरिका में वैकल्पिक टीचरों के पदों के लिए आवश्यक योग्यता रखने वाले लोग स्कूलों को अपने आवेदन देकर रखते हैं।

स्कूलों में जब भी फुल टाइम टीचरों की कमी आती है तो उन्हें बुलाया जाता है। इस बीच अमेरिका में कोरोना काल और अन्य अवकाश पड़ने के कारण कई राज्यों में फुल टाइम टीचरों की कमी आ गई। अब स्कूलों ने कॉलेज डिग्री की अनिवार्यता को अस्थायी रूप से खत्म कर दिया है। नई व्यवस्था से स्कूल भी चलने लगे हैं।

कुछ शिक्षाविद और कई अभिभावक वैकल्पिक टीचरों की व्यवस्था के विरोध में भी

अमेरिका के मिसौरी और ओरेगॉन उन राज्यों में शामिल हैं जहां वैकल्पिक टीचरों की नियुक्ति में कॉलेज डिग्री में छूट दी गई है। इस व्यवस्था को लेकर कुछ शिक्षाविदों और कई अभिभावकों ने विरोध भी जताया है। उनका कहना है कि केवल क्लासेज को नियमित रूप से जारी रखने के नाम पर इस प्रकार से वैकल्पिक टीचरों को योग्यता में छूट देने से बच्चों के शैक्षणिक विकास पर प्रतिकूल असर पड़ेगा। पढ़ाई के लिए प्रशिक्षित और कॉलेज डिग्री की अनिवार्यता को लागू किया जाए। स्कूल फुल टाइम टीचर नियुक्त करें।