पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61305.950.94 %
  • NIFTY18338.550.97 %
  • GOLD(MCX 10 GM)478990 %
  • SILVER(MCX 1 KG)629570 %
  • Business News
  • National
  • Coronavirus Vaccine Supply; Narendra Modi Govt Will Export Vaccine Abroad Next Month

विदेशों में वैक्सीन एक्सपोर्ट करेगा भारत:स्वास्थ्य मंत्री बोले- अगले 90 दिनों के अंदर देश में 100 करोड़ टीकों का स्टॉक होगा, सरप्लस वैक्सीन विदेश भेजेंगे

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भारत अगले महीने से फिर दूसरे देशों को कोरोना वैक्सीन के डोज की सप्लाई शुरू कर देगा। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा कि वैक्सीन मैत्री के तहत अक्टूबर से फिर सप्लाई शुरू कर दी जाएगी। भारत कोवैक्स प्रोग्राम के तहत टीके सप्लाई कर वसुधैव कुटुंबकम के ध्येय को पूरा करेगा। इससे दुनिया को कोरोना के खिलाफ मिलकर लड़ने में मदद मिलेगी।

मांडविया ने कहा कि अगले महीने यानी अक्टूबर में देश को वैक्सीन के 30 करोड़ डोज मिलेंगे। इसके साथ ही भारत के पास अगले 90 दिनों में 100 करोड़ टीकों का स्टॉक हो जाएगा। सब कुछ ठीक रहा तो अक्टूबर-नवंबर में भारत कोवैक्स कंट्रीज को वैक्सीन मैत्री के तहत टीके सप्लाई करने की स्थिति में होगा।

उन्होंने कहा कि यह सबकुछ देश की जरूरतें पूरी करने के बाद ही किया जाएगा। हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता अपने नागरिकों को वैक्सीनेट करने की है। उसके बाद ही देश के बाहर वैक्सीन सप्लाई करने के बारे में सोचा जाएगा।

10 दिन में लगाए गए 11 करोड़ डोज
मांडविया ने आगे बताया कि देशभर में वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ी है। इसे और तेज किया जा रहा है। प्रधानमंत्री के जन्मदिन (17 सितंबर) पर देशभर में ढाई करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई गई। यह हमारे लिए ऐतिहासिक दिन था। देश में अब तक 81 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन डोज दिए जा चुके हैं। पिछले 10 करोड़ डोज सिर्फ 11 दिन में लगाए गए हैं।

बेहतर स्वास्थ्य सुविधा के लिए सभी AIIMS सहयोग करें
मांडविया ने कहा है कि उन्होंने सभी एम्स को एक-दूसरे के साथ कॉर्डिनेशन करने के लिए कहा है। इससे जनता को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने में मदद मिलेगी। उन्होंने सोमवार को नई दिल्ली एम्स में बैठक कर देश के 6 एम्स की समीक्षा की।

उन्होंने कहा कि एम्स में आधुनिक बुनियादी ढांचे और कई बीमारियों के स्पेशलिस्ट डिपार्टमेंट के निर्माण कार्य और रिसर्च के बारे में चर्चा हुई। मैं देश के सभी एम्स से आह्वान करता हूं कि एक दूसरे के साथ समन्वय करें, ताकि हम जनता को सर्वोत्तम स्वास्थ्य सेवा प्रदान कर सकें।

खबरें और भी हैं...