पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX52344.450.04 %
  • NIFTY15683.35-0.05 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47122-0.57 %
  • SILVER(MCX 1 KG)68675-1.23 %
  • Business News
  • International
  • Coronavirus Outbreak Vaccine Latest Update; USA Brazil Russia UK France Cases And Deaths From COVID 19 Virus

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना दुनिया में:पिछले 24 घंटे में 7.51 लाख नए केस, 13,843 की मौत; भारत में सबसे ज्यादा संक्रमित और मौत के मामले

वॉशिंगटनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दुनिया में कोरोना में मामले लगातार बढ़ रहे हैं। बीते दिन दुनिया में 7 लाख 51 हजार 488 कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई और 13,843 की मौत भी हुई। सबसे ज्यादा मामले अब भी भारत में रिकॉर्ड किए जा रहे हैं। यहां बीते 24 घंटे में 3.62 लाख नए केस आए और 4,126 लोगों की मौत हुई। भारत के बाद ब्राजील में 76,638 नए केस आए और 2,545 की मौत हुई।

अमेरिका में वैक्सीनेटेड लोगों से पाबंदियां खत्म

अमेरिका में सेंटर्स फॉस डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन यानी CDC ने एक अहम फैसला लिया है। ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’के मुताबिक, CDC ने कहा है कि ऐसे लोग जो फुली वैक्सीनेट हो चुके हैं, वे बिना मास्क के अपनी एक्टिविटीज फिर शुरू कर सकते हैं। इन्हें 6 फीट की दूरी रखना भी अब जरूरी नहीं होगा। कुछ दिन पहले CDC ने इसका प्रस्ताव हेल्थ मिनिस्ट्री को भेजा था। वहां से हरी झंडी मिलने के बाद अब इस पर CDC ने मुहर लगा दी।

रिपोर्ट के मुताबिक, इस फैसले के दो अहम पहलु हैं। पहला- वैक्सीनेशन करा चुके लोगों को मास्क से राहत मिलेगी। दूसरा- जिन लोगों ने अब तक वैक्सीनेशन नहीं कराया है, वे इस बारे में फिर विचार करेंगे। अमेरिका जैसे दुनिया के सबसे ताकतवर देश में मास्क और वैक्सीनेशन को लेकर शुरुआत में काफी हल्का उत्साह देखा गया था। राष्ट्रपति चुनाव के दौरान ट्रम्प समर्थकों में महज 20% लोग ही ऐसे थे, जिन्होंने मास्क पहने थे। हालांकि, 20 जनवरी को बाइडेन एडमिनिस्ट्रेशन के आने के बाद मास्क मेंडेटरी किया गया और वैक्सीनेशन को लेकर जागरुकता तेज की गई।

WHO ने भारत में दूसरी लहर की वजह बताई

  • देश में कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने की प्रमुख वजहों में पिछले महीने हुए चुनाव और कुंभ भी हैं। यह बात विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की रिपोर्ट से भी साबित हो गई है। कोरोना को लेकर WHO की तरफ से बुधवार को जारी अपडेट में कहा गया है कि भारत में कोरोना संक्रमण बढ़ने के पीछे कई संभावित वजह हैं।
  • हालांकि, WHO ने किसी इवेंट का नाम तो नहीं लिया, लेकिन कहा कि कई धार्मिक और राजनीतिक इवेंट्स में भारी भीड़ जुटना भी संक्रमण बढ़ने की वजहों में शामिल है। इन इवेंट्स में कोताही बरती गई। WHO ने यह भी कहा है कि संक्रमण बढ़ने में इन फैक्टर्स की कितनी भूमिका रही, इस बारे में स्थिति साफ नहीं है।

पिछले हफ्ते दुनियाभर में जितने केस आए, उनमें से 50% भारत के थे
दुनियाभर में कोरोना की स्थिति को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि पिछले हफ्ते संक्रमण के नए मामलों और मौतों में थोड़ी कमी आई है। इस दौरान 55 लाख नए केस आए और 90,000 लोगों की जान गई। कुल केसों में 50% मामले और 30% मौतें भारत में हुईं। पिछले हफ्ते साउथ-ईस्ट एशिया के कुल मामलों में से 95% भारत के थे और कुल मौतों में से 93% भारत में हुई थीं।

कोविड-19 महामारी को रोका जा सकता था : पैनल
इंडिपेंडेंट एक्सपर्ट्स के एक पैनल ने दावा किया है कि कोरोनावायरस या कोविड-19 से निपटा जा सकता था, इस पर काबू पाया जा सकता था, लेकिन दुनियाभर की सरकारों ने हर स्तर पर लापरवाही बरती और इसके चलते लाखों लोगों को जान गंवानी पड़ी।

यह रिपोर्ट इंडिपेंडेंट पैनल फॉर पैन्डेमिक प्रिपेयर्डनेस एंड रिस्पॉन्स (IPPPR) ने जारी की है। इसके मुताबिक, महामारी नाकामियों और लापरवाहियों का ‘टॉक्सिक कॉकटेल यानी जहरीला मिश्रण’ है।

अब तक 16.10 करोड़ केस
दुनिया में कोरोना के अब तक 16.10 करोड़ से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 33.44 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है जबकि 13.98 करोड़ लोगों ने कोरोना को मात दी है। फिलहाल 1.88 करोड़ लोगों का इलाज चल रहा है। इनमें 1.87 करोड़ लोगों में कोरोना के हल्के लक्षण हैं और 1.05 लाख लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है।

टॉप-10 देश, जहां अब तक सबसे ज्यादा लोग संक्रमित हुए

देशसंक्रमितमौतेंठीक हुए
अमेरिका33,586,136597,78526,620,229
भारत23,702,832258,35119,728,436
ब्राजील15,361,686428,25613,924,217
फ्रांस5,821,668107,1194,960,097
तुर्की5,072,46243,8214,801,291
रूस4,905,059114,3314,518,529
ब्रिटेन4,441,975127,6404,256,103
इटली4,131,078123,5443,655,112
स्पेन3,592,75179,2083,291,156
जर्मनी3,558,14886,0093,220,300

(ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus/ के मुताबिक हैं)

खबरें और भी हैं...