• Home
  • Economy
  • US Senate, White House agree on USD 2 trillion rescue for virus hit US economy

अमेरिका ने घोषित किया सबसे बड़ा 151 लाख करोड़ रुपए का राहत पैकेज, हर आदमी को मिलेंगे 90 हजार रुपए

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लंबे समय से राहत पैकेज लाने का संकेत दे रहे थे। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लंबे समय से राहत पैकेज लाने का संकेत दे रहे थे।

  • आज सीनेट में मंजूरी के लिए पेश किया जाएगा कोरोना से राहत दिलाने वाले आर्थिक पैकेज
  • राहत पैकेज की घोषणा के बाद भारत समेत एशिया के शेयर बाजारों मे भी तेजी आ गई है

Moneybhaskar.com

Mar 25,2020 06:05:00 PM IST

वॉशिंगटन। कोरोनावायरस महामारी के कारण अर्थव्यवस्था में आ रही गिरावट को थामने के लिए अमेरिका 2 लाख करोड़ डॉलर (करीब 151 लाख करोड़ रुपए) का राहत पैकेज जारी करने जा रहा है। पैकेज को लेकर ह्वाइट हाउस और सीनेट के बीच सहमति बन गई है। इस खबर से अमेरिकी शेयर बाजार डाउ जोंस में मंगलवार को 11.4 फीसदी की उछाल देखी गई। यह 1929 की महामंदी के बाद से एक दिन में डाउ जोंस की सबसे बड़ी उछाल है। अमेरिका में बुधवार रात (भारतीय समयानुसार) को डील सीनेट में पेश होगी। वहां से पास हो जाने के बाद इससे जुड़ा पूरा ब्यौरा सामने आएगा। इस पैकेज को अमेरिकी इतिहास का सबसे बड़ा राहत पैकेज बताया जा रहा है। सदन से पास होते ही यह दुनिया में किसी भी देश द्वारा किसी भी स्थिति में जारी किया गया सबसे बड़ा राहत पैकेज हो जाएगा।

किसको क्या मिलेगा

  • - 25,000 करोड़ डॉलर का फंड ऐसे लोगों के लिए जिनकी नौकरी कोरोनावायरस के कारण चली गई या जिनका रोजगार प्रभावित हुआ है। ऐसे लोगों तक सरकार सीधे चेक भेजेगी।
  • - सालाना 75 हजार डॉलर या इससे कम ग्रॉस कमाई करने वाले व्यक्ति को 1200 डॉलर का सहयोग मिलेगा। मौजूदा दरों के अनुसार यह रकम भारतीय रुपए में 90 हजार के करीब होती है। वहीं, 1,50,000 डॉलर सालाना ग्रॉस कमाई करने वाली दंपत्ति को 2400 डॉलर का सहयोग मिलेगा। साथ ही हर बच्चे के लिए 500 डॉलर अलग से मिलेंगे।
  • - 35 हजार करोड़ डॉलर का एमरजेंसी लोन फंड अमेरिका की छोटी कंपनियों के लिए, ताकि उनका बिजनेस बंद न हो।
  • - 25 हजार करोड़ डॉलर का फंड एम्प्लॉयमेंट इंश्योरेंस बेनिफिट के तौर पर जारी किया जाएगा।
  • - 50 हजार करोड़ डॉलर का फंड संकटग्रस्त कंपनियों को लोन के तौर पर दिया जाएगा।
  • - डील में एक विशेष प्रावधान किया है। इससे राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प, उनके परिवार का कोई सदस्य, कांग्रेस का कोई सदस्य इस पैकेज की राशि से कोई लोन या निवेश हासिल नहीं कर पाएंगे। यह प्रावधान रकम के गलत इस्तेमाल को रोकने के लिए किया गया है।
  • - अगर कोरोना के कारण नौकरी गई है तो पति-पत्नी के लिए 2400 डॉलर, हर बच्चे के लिए 500 डॉलर अलग।

एशियाई शेयर बाजारों में आई तेजी

अमेरिका में राहत पैकेज की घोषणा का एशियाई बाजारों में सकारात्मक असर देखने को मिला और लगातार दूसरे दिन तेजी जारी रही। जापान का निक्की 5.7 प्रतिशत की बढ़त में रहा। हांगकांग का हैंगसेंग, ऑस्ट्रेलिया का सिडनी शेयर बाजार, सिंगापुर शेयर बाजार और न्यूजीलैंड का वेलिंगटन शेयर बाजार दो प्रतिशत से अधिक की तेजी में रहा। दक्षिण कोरिया का कोस्पी और ताईवान शेयर बाजार चार प्रतिशत से अधिक चढ़ गया। चीन का शंघाई कंपोजिट भी दो प्रतिशत से कुछ अधिक की बढ़त में रहा। भारतीय शेयर बाजार भी बुधवार को करीब 7 फीसदी की तेजी के साथ बंद हुए।

अमेरिका में कोरोना से अब तक 706 लोगों की मौत

अमेरिका में कोरोना वायरस (कोविड-19) के मामले दिन-प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहे हैं और अब तक इस महामारी से देश में 706 लोगों की मौत हो चुकी है। जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केन्द्र (सीएसएसई) ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी। सीएसएसई के मुताबिक अमेरिका में अब तक कोरोना संक्रमण के 53,740 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में इससे सर्वाधिक मौतें हो चुकी हैं जिसके बाद किंग्स काउंटी में इस महामारी का प्रकोप देखने को मिला है।

X
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लंबे समय से राहत पैकेज लाने का संकेत दे रहे थे।अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लंबे समय से राहत पैकेज लाने का संकेत दे रहे थे।

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.