• Home
  • Economy
  • The second installment of Bharat Bond ETF will come in July, plans to raise Rs 14,000 crore on getting more response from the market

ऑफरिंग /भारत बांड ईटीएफ की दूसरी किश्त जुलाई में आएगी, बाजार से ज्यादा रिस्पांस मिलने पर 14,000 करोड़ रुपए जुटाने की योजना

भारत बांड ईटीएफ के तहत कई कंपनियों में खरीदारी का मौका मिलता है भारत बांड ईटीएफ के तहत कई कंपनियों में खरीदारी का मौका मिलता है

  • भारत बांड ईटीएफ के जरिए 3,000 करोड़ रुपए जुटाए जाएंगे पर ग्रीन शू ऑप्शन भी इसमें है
  • इसकी दो नई सीरीज की मैच्योरिटी है। एक अप्रैल 2025 और दूसरी अप्रैल 2031 में समाप्त होगी

Moneybhaskar.com

May 22,2020 04:59:00 PM IST

मुंबई. एडलवाइस एसेट मैनेजमेंट ने शुक्रवार को कहा कि वह जुलाई में भारत बॉन्ड ईटीएफ की दूसरी किश्त को दो नई सीरीज के साथ लॉन्च करेगा। इसके जरिए बाजार से 14,000 करोड़ रुपए जुटाने की योजना है। दो नई सीरीज की मैच्योरिटी अप्रैल 2025 और अप्रैल 2031 की होगी।

मांग के आधार पर राशि होगी तय

एडलवाइस असेट मैनेजमेंट ने कहा कि इस इश्यू के माध्यम से बाजार की मांग के आधार पर 11,000 करोड़ रुपए अतिरिक्त जुटाने का लक्ष्य है। इसके जरिए जो राशि जुटाई जाएगी वह 3,000 करोड़ रुपए ही होगी। पर अगर इस दौरान ज्यादा रिस्पांस निवेशकों से आता है तो इसे बढ़ाकर 14,000 करोड़ रुपए तक किया जा सकता है।

फंड्स ऑफ फंड्स भी लांच किए जाएंगे

एडलवाइस म्युचुअल फंड की सीईओ राधिका गुप्ता ने कहा कि यह लॉन्चिंग यील्ड कर्व पर विभिन्न मैच्योरिटीज में भारत बॉन्ड ईटीएफ को आगे बढ़ाने के लिए हमारे विजन के अनुरूप है। इससे निवेशकों को विभिन्न समय के होराइजन के साथ अपनी निवेश जरूरतों से मेल खाने के लिए और अधिक विकल्प मिलेंगे। फंड हाउस ने कहा कि इसी तरह की मैच्योरिटीज के साथ भारत बॉन्ड फंड्स ऑफ फंड्स (एफओएफ) उन निवेशकों के लिए लॉन्च किए जाएंगे, जिनके पास डीमैट अकाउंट नहीं है।

नाबार्ड, एनएचपीसी, एनटीपीसी आदि कंपनियां हैं शामिल

बांड ईटीएफ निफ्टी भारत बांड सूचकांकों में निवेश करता है। इसमें एक्जिम बैंक, एचपीसीएल, हुडको, आईआरएफसी, नाबार्ड, एनएचएआई, एनएचपीसी, एनटीपीसी, पीएफसी, एनपीसीआईएल, पावर ग्रिड, आरईसी और सिडबी सहित एएए रेटेड सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियां शामिल हैं। पिछले साल दिसंबर में भारत बांड ईटीएफ के पहले चरण में सफलतापूर्वक 12,400 करोड़ रुपए से अधिक की राशि जुटाई गई थी।

अच्छी भागीदारी रहती है निवेशकों की

भारत बांड ईटीएफ प्रोग्राम में एक्सचेंजों पर निवेशकों की भागीदारी और अच्छी लिक्विडिटी देखने को मिलती है। फंड हाउस ने कहा कि bid-ask spread (बाय एंड सेल कोट्स के बीच का अंतर) 5 से 10 बीपीएस की रेंज में रहा है। इन ईटीएफ में दैनिक औसत कारोबार मूल्य 3 से 3.5 करोड़ रुपए के बीच रहा है, जिससे यह भारत में अधिक लिक्विड ईटीएफ में से एक है।

X
भारत बांड ईटीएफ के तहत कई कंपनियों में खरीदारी का मौका मिलता हैभारत बांड ईटीएफ के तहत कई कंपनियों में खरीदारी का मौका मिलता है

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.