• Home
  • Economy
  • Finance Minister may announce economic package for aviation and tourism sector due to corona virus

वित्त मंत्री की बैठक आज, एविएशन-टूरिज्म सेक्टर के लिए हो सकता है आर्थिक पैकेज का ऐलान, कोरोना वायरस के चलते उठाना पड़ रहा है नुकसान

  • पीएम मोदी ने कोविड-19- इकोनॉमिक रेस्पांस टॉस्क फोर्स के गठन का ऐलान किया है। 

Moneybhaskar.com

Mar 20,2020 04:08:34 AM IST

नई दिल्ली. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की आज केंद्रीय मंत्रालय के शीर्ष नेतृत्व के साथ बैठक होगी, जिसमें सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई) मंत्री नितिन गडकरी, पशुपालन मंत्री गिरिराज सिंह, नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी और पर्यटन मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल शामिल होंगे। बैठक में कोरोना वायरस से प्रभावित होने वाले सेक्टर के लिए आर्थिक पैकेज पर चर्चा होगी। वित्त मंत्री की पहले ही इस मामले को लेकर कई मंत्रियों और उनके विभागों के साथ की चरणों की बैठक हो चुकी है।

बैठक में आर्थिक पैकेज का लिया जा सकता है निर्णय

ऐसे में वित्त मंत्री की आज के बैठक में किसी ठोस नतीजे पर पहुंचा जा सकता है। सूत्रों की मानें, तो केंद्र सरकार की ओर से एविएशन, टूरिज्म समेत उन सेक्टर के लिए आर्थिक पैकेज का ऐलान किया जा सकता है, जिन्हें कोरोना की वजह से नुकसान उठाना पड़ रहा है और जो सीधे तौर पर अर्थव्यवस्था से जुड़े हैं। गौरतलब है कि पीएम मोदी ने गुरुवार को राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा कि सरकार ने कोविड-19 इकोनॉमिक रेस्पांस टॉस्क फोर्स के गठन का फैसला लिया है। इस टास्क फोर्स का नेतृत्व वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण कर रही हैं।

सरकार देगी 12 हजार करोड़ की मदद!

सरकार एविएशन सेक्टर को 12 हजार करोड़ का मदद कर सकती है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक वित्त मंत्रालय कई प्रस्ताव पर विचार कर रही है। इसमें एविएशन फ्यूल टैक्स से तत्काल राहत समेत कई अन्य उपाय शामिल हैं। विमानन सलाहकार कंपनी सीएपीए इंडिया ने एक रिपोर्ट में बताया है कि एअर इंडिया को छोड़कर बाकी अन्य कंपनियों को जनवरी-मार्च तिमाही में 50 से 60 करोड़ डॉलर का घाटा होने का अनुमान है। डिमांड ने मिलने पर भारतीय विमानन कंपनियां शुरुआती स्तर पर करीब 150 विमानों को परिचालन से रोक सकती हैं। बता दें कि वर्तमान में छह बड़ी घरेलू विमानन कंपनियों के पास करीब 650 विमानों का बेड़ा है।

विदेशी पर्यटकों से भार को होती है 28 अरब डॉलर की आय

सीआईआई की पर्यटन समिति ने कोरोना वायरस महामारी के पर्यटन उद्योग पर असर का आकलन किया है। इसके मुताबिक, अक्टूबर से मार्च के बीच भारत आने वाले विदेशी पर्यटकों की संख्या वार्षिक आगमन की 60-65 फीसदी होती है। भारत को विदेशी पर्यटकों से 28 अरब डॉलर से अधिक की आय होती है। रिपोर्ट के अनुसार, कोरोना वायरस महामारी की खबरें नवंबर से आना शुरू हुईं और इसके बाद यात्रा टिकटों, होटल बुकिंगों इत्यादि का कैंसिलेशन शुरू हुआ। अब मार्च में कई भारतीय पर्यटन स्थलों पर बुकिंग का कैंसिलेशन 80 फीसदी के उच्चतम स्तर तक पहुंच गया है।

X

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.