• Home
  • Economy
  • 30 percent retail shops will be closed in the next 6 months if the government does not get financial help says RAI

कारोबार  /सरकार से आर्थिक मदद न मिलने पर अगले 6 माह में बंद हो जाएंगी 30 फीसदी खुदरा दुकानें, करीब 60 लाख के रोजगार पर पड़ेगा असर : आरएआई

  • देश में खुदरा उद्योग में लगभग 60 लाख लोग कार्यरत हैं।

Moneybhaskar.com

Mar 29,2020 09:31:00 PM IST

नई दिल्ली. रिटेलर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (आरएआई) के सीईओ राजगोपालन ने रविवार को कहा कि खुदरा कारोबार फरवरी से बुरी तरह प्रभावित हुआ है, और पिछले महीने यह सामान्य कारोबार का 50-60 प्रतिशत था और मार्च में यह लगभग शून्य हो गया है। उन्होंने कहा कि मौजूदा कारोबारी माहौल बहुत खराब नजर आ रहा है और ऐसी स्थिति लगातार जारी रहता है, तो अधिकांश खुदरा कारोबारी बहुत अधिक परेशानी में पहुंच जाएंगे।

कारोबारियों के लिए प्रतिदिन का खर्च उठाना मुश्किल

राजगोपालन ने कहा कि खुदरा कारोबारियों को प्रतिदिन भुगतना पड़ रहा है और ऐसे में उनका खर्च कैसे चले। किराए की लागत उनकी आय का लगभग आठ प्रतिशत और वेतन लागत आय का लगभग सात-आठ प्रतिशत है। उन्होंने कहा कि उन्हें आपूर्तिकर्ताओं को भी भुगतान करना पड़ता है और भुगतान अभी लंबित हैं, लेकिन उनके पास इसके लिए कोई आमदनी नहीं है। आरएआई के सीईओ ने कहा कि उनके 85 प्रतिशत खर्च फिक्स हैं। यदि सरकार ने हस्तक्षेप नहीं किया तो अगले 6 माह में करीब 30 प्रतिशत खुदरा कारोबारी की दुकानें हमेशा के लिए बंद हो जाएंगी।

सरकार से आर्थिक मदद की मांग

राजगोपालन ने आईएएनएस से कहा कि उनकी संस्था ने आर्थिक मदद के लिए सररकार को पत्र लिखा है कि खुदरा कारोबारियों का व्यापार जारी रखने के लिए सरकार को कुछ कदम उठाने की जरूरत है, जैसे किराए में सब्सिडी और कर्मचारियों के वेतन का भुगतान। देश में खुदरा उद्योग में लगभग 60 लाख लोग कार्यरत हैं, और राजगोपालन के अनुसार उनमें से अधिकांश इस समय संकट में हैं। उन्होंने कहा कि इनमें से कई लोगों को इस माह और अगले माह का भी वेतन मिलेगा, लेकिन उसकी कीमत खुदरा कारोबारी चुकाएंगे। उनके पास इतने पैसे नहीं हैं कि दो-तीन महीनों के वेतन का भार उठा सकें। उन्होंने कहा कि हमारी तरफ से सरकार से संपर्क किया गया है और दुकान के किराए के लिए, वेतन भुगतान के लिए सब्सिडी की मांग की गई है और कर्ज भुगतान पर कुछ समय के लिए रोक लगाने का भी आग्रह किया है।

X

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.