• Home
  • YouTube Shorts 15 Second Videos Vs TikTok Facebook | What is YouTube Short? All You Need To Know Youtube Video Platform

भास्कर एक्सप्लेनर /टिकटॉक के बाद इंस्टा रील्स का मार्केट भी खत्म! 15 सेकंड्स के वीडियो बनाने के लिए यूट्यूब लाया अपना शॉर्ट्स

  • फिलहाल यूट्यूब शॉर्ट्स का बीटा वर्जन भारत में लॉन्च हुआ है
  • ज्यादातर मोबाइल्स में बीटा वर्जन अपडेट नहीं हो सका है
  • टेस्ट सफल होने पर अगले अपडेट्स में सब तक पहुंचेगा नया वर्जन

रवींद्र भजनी

Sep 16,2020 10:54:25 AM IST

दुनिया के सबसे बड़े यूजर जेनरेटेड वीडियो प्लेटफॉर्म यूट्यूब ने शॉर्ट वीडियो बनाने वाले प्लेटफॉर्म्स को चुनौती देने का फैसला किया है। एनालिस्ट की माने तो टिकटॉक के भारत में बैन होने के बाद इंस्टाग्राम रील्स समेत जितने भी प्लेटफॉर्म आए थे, उनके लिए यूट्यूब के सामने टिकना ही बड़ी चुनौती होगी।

सबसे पहले बात करते हैं यूट्यूब और शॉर्ट वीडियो से उसके रिश्ते की। यूट्यूब की शुरुआत ही 2005 में 18 सेकंड के वीडियो 'मी एट द ज़ू' से हुई थी। इसके बाद चार्ली बिट माय फिंगर लोगों को इतना पसंद आया कि 'वायरल वीडियो' नाम की खोज करनी पड़ी। आइए जानते हैं कि क्या है नई सर्विस और आप इसका इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं-

सबसे पहले, क्या है यूट्यूब शॉर्ट्स?

  • यूट्यूब ने अपना शॉर्ट वीडियो प्लेटफॉर्म YouTube Shorts लॉन्च किया है। इसके लिए अलग से कोई ऐप डाउनलोड करने की जरूरत नहीं है। बल्कि, यह उसी प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है, जिसका इस्तेमाल आप करते आए हैं।
  • यूट्यूब शॉर्ट्स पर दो तरह के वीडियो अपलोड हो सकेंगे। 1. नए कैमरा टूल्स का इस्तेमाल करते हुए 15 सेकंड्स के वीडियो बना सकेंगे। 2. यदि कैमरा टूल्स को एक्सेस नहीं कर पा रहे हैं तो 60 सेकंड्स तक के वर्टिकल वीडियो अपलोड कर उनके टाइटल और डिस्क्रिप्शन में #Shorts लिखना होगा। इससे उन्हें पहचाना जाएगा।
  • यह शॉर्ट्स वीडियो यूट्यूब के होम पेज पर, शॉर्ट्स वीडियो शेल्फ में दिखेंगे। यह यूट्यूब ऐप में और भी कई जगहों पर दिखेंगे। यूट्यूब 60 सेकंड तक के वर्टिकल वीडियो भी हाइलाइट करेगा। इस समय शॉर्ट्स का बीटा वर्जन है यानी यह अपडेट हो रहा है।

आपको कैसे पता चलेगा कि शॉर्ट्स कैमरा अपडेट मिला है या नहीं?

  • यदि आपके पास शॉर्ट्स कैमरे का एक्सेस है तो आप तुरंत यूट्यूब ऐप से शॉर्ट वर्टिकल वीडियो बना सकते हैं। आपके पास एक्सेस आया है या नहीं, यह देखने के लिए आपको यह करना होगा-
  • YouTube ऐप खोलें। '+' आइकन (या iOS में वीडियो कैमरा आइकन) दबाएं
  • 'वीडियो' सिलेक्ट करें
  • यदि 'शॉर्ट्स वीडियो बनाएं' दिखता है, तो इसका मतलब कि आपके पास शॉर्ट्स कैमरे का एक्सेस है। आप अपना पहला शॉर्ट्स वीडियो बना सकते हैं।

यदि शॉर्ट्स कैमरे का एक्सेस नहीं है तो क्या करें?

  • अगर आपको अब तक शॉर्ट्स कैमरे का एक्सेस नहीं मिला है, तब भी आप अपने वर्टिकल वीडियो अपलोड कर सकते हैं, लेकिन यह 60 सेकंड से छोटे होने चाहिए। ऐसे वीडियो को अपलोड करने के बाद टाइटल और डिस्क्रिप्शन में #Shorts का इस्तेमाल जरूर करें।
  • आपको हमेशा ऐसा नहीं करना पड़ेगा। कुछ समय में आप तक भी यूट्यूब शॉर्ट्स का अपडेट पहुंच जाएगा। उसके बाद आप भी शॉर्ट्स कैमरा टूल्स का इस्तेमाल कर सकेंगे।

अब, इंस्टाग्राम रील्स का क्या होगा?

  • टिकटॉक बैन होने के बाद भारत में कई शॉर्ट वीडियो प्लेटफार्म आए। इसमें प्रमुख था- इंस्टाग्राम का रील्स। यूट्यूब के शॉर्ट्स के आने के बाद इंस्टाग्राम रील्स पर किस तरह और कितने वीडियो बनेंगे, यह देखना दिलचस्प रहेगा।
  • इंस्टाग्राम रील्स के लिए अलग से ऐप डाउन लोड करने की जरूरत नहीं है। रील्स में भी 15 सेकंड तक का वीडियो बनता है। इस वीडियो को इंस्टा स्टोरी या फीड पर पोस्ट कर सकते हैं।
  • रील्स आपको एआर इफेक्ट और म्युजिक का इस्तेमाल कर एडिटिंग का विकल्प देता है। वीडियो का स्पीड कंट्रोल और टिकटॉक का 'Duet' फीचर भी इसमें है।

यूट्यूब के आने से मार्केट में क्या पोजिशन बनेगी?

  • भारत में तकरीबन 60 करोड़ स्मार्टफोन है, जो अगले साल तक 75 करोड़ का आंकड़ा पार कर सकते हैं। स्टैटिस्टा के आंकड़ों को देखें तो भारत में 90% यूजर एंड्रॉइड फोन का इस्तेमाल करते हैं। यानी 55 करोड़ लोगों के पास एंड्रॉइड फोन है। उनके पास यूट्यूब इन-बिल्ट है। यह टिकटॉक के 20 करोड़ और इंस्टाग्राम के 10 करोड़ एक्टिव यूजर्स से कई गुना ज्यादा है।
X

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.