पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX48690.8-0.96 %
  • NIFTY14696.5-1.04 %
  • GOLD(MCX 10 GM)475690 %
  • SILVER(MCX 1 KG)698750 %
  • Business News
  • Db original
  • Explainer
  • All You Need To Know About Blood Pressure; The Need For Oxygen And Other Vitals Of The Human Body | What Is Normal Blood Pressure | What Is Normal Oxygen Level?

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भास्कर नॉलेज सीरीज-1:6 मिनट में आधा किलोमीटर चलें या दौड़ें, अगले 30 सेकंड में पल्स 80 के नीचे तो आप स्वस्थ हैं

15 दिन पहलेलेखक: पवन कुमार
  • कॉपी लिंक

कोरोना ने हर व्यक्ति को सेहत के प्रति सजग बना दिया है। हर कोई ये जानना चाहता है कि वह पूरी तरह स्वस्थ है या नहीं। बीपी, शुगर जांचने के उपकरणों की खरीद भी बढ़ गई है। मगर हमारे इन हेल्थ पैरामीटर्स पर भ्रांतियां भी बहुत हैं। कितना बीपी सामान्य है और कितने पर हमें परेशान होने की जरूरत है। हमारे स्वस्थ होने का पैमाना क्या है। ऐसे ही सवालों पर दैनिक भास्कर के पवन कुमार ने हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष डॉ. के.के. अग्रवाल से बात की। जानिए उनकी राय...

महामारी के इस दौर में सामान्य व्यक्ति को अपने किन हेल्थ पैरामीटर्स की मॉनिटरिंग करनी चाहिए?

  • सकारात्मक सोच के साथ-साथ अपनी पुरानी बीमारी को नियंत्रित में रखने के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क में रहें, जो दवा ले रहे हैं उसे नियमित तौर पर लेते रहें। ब्लड प्रेशर और मधुमेह काे हर हाल में नियंत्रित रखें। सामान्य व्यक्ति के लिए आदर्श पल्स रेट 72 होती है। मगर रोज की गतिविधियों में यह 65 से 100 के बीच चढ़ती-उतरती रहती है। यदि आप छह मिनट में 1700 फीट यानी आधा किलोमीटर चल या दौड़ लेते हैं और इसके बाद आपकी पल्स रेट अगले आधे मिनट में 80 से नीचे आ जाती है आप यह मान सकते हैं कि शरीर के मुख्य हेल्थ पैरामीटर्स यानी ब्लड प्रेशर, शुगर या ऑक्सीजन सैचुरेशन लेवल ठीक हैं। आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है।

सामान्य परिस्थितियों में किसी व्यक्ति का ब्लड प्रेशर कितना होना चाहिए? क्या यह महिलाओं और पुरुषों के लिए अलग-अलग है?

  • सामान्य परिस्थिति में ब्लड प्रेशर 120/80 होना चाहिए। दिल हर धड़कन के साथ शरीर में रक्त का प्रवाह करने वाली नसों पर एक दबाव बनाता है। इसे ही हम ब्लड प्रेशर कहते हैं। नसों से रक्त गुजरते वक्त जो प्रेशर होता है उसे सिस्टोलिक प्रेशर कहते हैं, जो सामान्य रूप से 120 होता है। रक्त गुजरने के तुरंत बाद का दबाव डायस्टोलिक प्रेशर कहलाता है, जो सामान्यत: 80 होता है। महिला और पुरुष में इसमें कोई खास अंतर नहीं होता है।

ब्लड प्रेशर किस सीमा के बाद हाई या लो की श्रेणी में माना जाएगा?

  • यदि ब्लड प्रेशर सामान्य यानी 120/80 से ज्यादा 140/90 हो जाए तो 100/70 हो जाए तो यह असामान्य ब्लड प्रेशर माना जाएगा। हालांकि कई कारणों से सामान्य ब्लड प्रेशर ही 120/80 से कुछ कम या कुछ ज्यादा हो सकता है। अत: प्रेशर में मामूली अंतर से परेशान होने की जरूरत नहीं है।

यदि कोई व्यक्ति कोरोनाकाल में ही ब्लड प्रेशर मापने के प्रति सजग हुआ हो और प्रेशर 120/80 से कम या ज्यादा आए तो क्या करना चाहिए?

  • यदि आपने ब्लड प्रेशर की नियमित मॉनिटरिंग नहीं की है तो आप नहीं जान सकते कि आपके शरीर के लिए सामान्य ब्लड प्रेशर कितना है। ऐसे में सिर्फ एक बार प्रेशर मापकर आप किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंच सकते। इसका सरल तरीका है कि आप दिनभर में तीन से चार बार ब्लड प्रेशर मापें और इसका चार्ट बना लें। यदि ब्लड प्रेशर हर बार एक ही रीडिंग के आस-पास आए और आपको अन्य कोई दिक्कत न महसूस हो रही हो तो स्थिति सामान्य है, लेकिन यदि रीडिंग में दिन भर में काफी बदलाव आए या असामान्य ब्लड प्रेशर के साथ आपको अन्य दिक्कतें भी महसूस हों तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

असामान्य ब्लड प्रेशर से तत्काल क्या खतरे हैं? क्या किसी बीमारी या अटैक की शुरुआत है?

  • लगातार असामान्य ब्लड प्रेशर रहे तो डॉक्टर की सलाह लेना बेहतर है। अचानक ब्लड प्रेशर बहुत ज्यादा बढ़ने या घटने से शरीर कोलैप्स कर सकता है। ऊपरी बीपी 200 और नीचे का यदि 120 हो जाए तो नाक से ब्लीडिंग हो सकती है ब्रेन हैमरेज हो सकता है।
  • बीपी बढ़ने से दिल की धड़कन बढ़ जाएगी। कई बार दिल की धड़कन बढ़ने से बीपी तेज हो जाता है।

एक सामान्य व्यक्ति का ऑक्सीजन सैचुरेशन लेवल कितना होना चाहिए? क्या यह स्वत: कम या ज्यादा हो सकता है?

  • एक सामान्य व्यक्ति का ऑक्सीजन सैचुरेशन 95 होना चाहिए। यदि 93 से कम होता है तो ऑक्सीजन सपोर्ट देना चाहिए और यदि 90 से नीचे हो जाता है तो मरीज को अस्पताल में भर्ती करना चाहिए। हालांकि कई बार वातावरण साफ-सुथरा होने से भी ऑक्सीन सैचुरेशन कम या ज्यादा हाे सकता है। पेट के बल लेटने पर सामान्य से ज्यादा ऑक्सीजन शरीर के अंदर जाती है।

कितने ऑक्सीजन लेवल पर हमें चिंता करनी चाहिए और कितने पर डॉक्टर की सलाह या हॉस्पिटल ले जाने की जरूरत है?

  • 90 से कम ऑक्सीजन सैचुरेशन होने पर परेशानी बढ़ सकती है। तुरंत मरीज को डॉक्टर के पास ले जाना चाहिए और कृत्रिम ऑक्सीजन देना चाहिए।

घरों में थर्मामीटर से टेम्परेचर मापना अब आम बात है, पैमाना क्या है?

  • अस्पताल हो या घर अब हर जगह डिजिटल थर्मामीटर से ही शरीर का तापमान मापा जाता है। थर्मामीटर में जो तापमान दिखता है वही तापमान सही होता है। यह कहना है कि शरीर का तापमान थर्मामीटर के दर्शाए गए तापमान से ज्यादा या कम होता है, सही नहीं है।

सामान्य तौर पर बॉडी का तापमान कितना होता है?

  • आमतौर पर बॉडी का सामान्य तापमान 98.4 होता है। कोविड में एक डिग्री के करीब बढ़ जाता है। यह भी देखा गया है कि शाम के समय कोरोना मरीजों का तापमान एक डिग्री बढ़ जाता है।
खबरें और भी हैं...