• Home
  • Consumer
  • Arogya Setu App is required for all except children up to 14 years, must arrive at least 2 hours before flight time

घरेलू उड़ानें 25 मई से /14 साल तक के बच्चों को छोड़ सभी के लिए आरोग्य सेतु ऐप जरूरी, फ्लाइट के टाइम से कम से कम 2 घंटे पहले पहुंचना होगा

  • एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर जारी किया
  • कोरोनावायरस की वजह से देश में घरेलू उड़ानें 25 मार्च से बंद हैं

Moneybhaskar.com

May 21,2020 01:18:50 PM IST

नई दिल्ली. नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बुधवार को कहा कि 25 मई से कुछ डोमेस्टिक फ्लाइट शुरू हो जाएंगी। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआई) ने आज पैसेंजर और एयरपोर्ट ऑपरेटर्स के लिए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (एसओपी) भी जारी कर दिया है। 14 साल तक के बच्चों को छोड़ बाकी सभी यात्रियों को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना जरूरी होगा। फ्लाइट के टाइम से कम से कम 2 घंटे पहले पहुंचना पड़ेगा। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया देश में 100 से ज्यादा एयरपोर्ट की जिम्मेदारी संभालती है। दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु और हैदराबाद एयरपोर्ट का मैनेजमेंट प्राइवेट कंपनियां के पास है। एएआई ने एसओपी में क्या कहा है, सवाल-जवाब में समझिए-एयरपोर्ट तक पहुंचने के लिए क्या इंतजाम होंगे?
एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के मुताबिक राज्य सरकारों और प्रशासन से पब्लिक ट्रांसपोर्ट और प्राइवेट टैक्सी उपलब्ध करवाने के लिए कहा है। ताकि, यात्रियों और एयरपोर्ट स्टाफ को कनेक्टिविटी मिल सके। पर्सनल व्हीकल से भी जा सकेंगे।

एक व्हीकल में कितने लोग बैठ सकेंगे?

एएआई ने यह साफ नहीं बताया है, सिर्फ इतना कहा है कि तय संख्या में ही लोगों को बैठने की इजाजत होगी। ये नियम एयरपोर्ट स्टाफ और यात्रियों के लिए लागू होगा।

फ्लाइट के टाइम से कितनी देर पहले पहुंचना होगा?

कम से कम दो घंटे पहले पहुंचना जरूरी होगा। एयरपोर्ट टर्मिनल में उन पैसेंजर को ही एंट्री मिलेगी, जिनकी फ्लाइट अगले चार घंटे में होगी।

प्रोटेक्शन के लिए क्या जरूरी?

सभी यात्रियों को मास्क और गलव्ज पहनना जरूरी होगा।

आरोग्य सेतु ऐप में ग्रीन सिग्नल नहीं हुआ तो?

14 साल तक के बच्चों को छोड़ सभी को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना पड़ेगा। एंट्री गेट पर इसकी जांच की जाएगी। जिनके ऐप में ग्रीन सिग्नल नहीं होगा, उन्हें एंट्री नहीं मिलेगी।

थर्मल स्क्रीनिंग कहां होगी?

एयरपोर्ट टर्मिनल बिल्डिंग में एंट्री से पहले ही एक तय जगह पर स्क्रीनिंग जोन से गुजरना होगा। इसके लिए थर्मल स्क्रीनिंग स्टेशन तैयार किए जा रहे हैं।

एयरपोर्ट पर खाने-पीने की सुविधा मिलेगी?

संक्रमण से बचाव के उपायों के साथ फूड आउटलेट खुलेंगे। भीड़ नहीं हो, इसके लिए यात्रियों को पार्सल लेने के लिए कहा जाएगा। डिजिटल पेमेंट पर जोर रहेगा। सेल्फ ऑर्डर बूथ बनाए जाएंगे।

एयरपोर्ट पर ट्रॉली मिलेगी?

डिपार्चर और एराइवल एरिया में ट्रॉली नहीं मिलेगी। जिन यात्रियों को वाकई जरूरत होगी, उन्हें मांगने पर ट्रॉली दी जाएगी। सभी ट्रॉली सैनिटाइज की जाएंगी।

लगेज सैनिटाइज किया जाएगा?

टर्मिनल बिल्डिंग में एंट्री से पहले बैगेज को सैनिटाइज किया जाएगा। इसकी जिम्मेदारी एयरपोर्ट ऑपरेटर की होगी। एंट्री गेट, स्क्रीनिंग जोन में सोशल डिस्टेंसिंग के लिए एक-एक मीटर की दूरी पर मार्किंग की जाएगी। जूते-चप्पलों को डिसइन्फेक्ट करने के लिए एंट्रेस पर ब्लीच में भीगे मैट या कार्पेट रखे जाएंगे।

व्हील-चेयर, मैग्जीन की सुविधा मिलेगी?

जरूरतमंदों को पहले से सैनिटाइज की हुई व्हील-चेयर मिलेगी। एयरपोर्ट टर्मिनल बिल्डिंग या लाउंज में न्यूजपेपर या मैग्जीन नहीं मिलेगी।

हवाई यात्रियों के लिए ये 3 बातें जानना भी जरूरी

1. कितनी उड़ानें शुरू होंगी?

सरकार ने साफ नहीं बताया है लेकिन, न्यूज एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक शुरुआत में 30% उड़ानों के साथ डोमेस्टिक ऑपरेशन शुरू किए जा सकते हैं।

2. क्या किराया बढ़ेगा?

सरकार हवाई किरायों की अधिकतम लिमिट तय कर सकती है। ताकि, एयरलाइंस मनमानी नहीं कर सकें।

3. इंटरनेशनल फ्लाइट कब से शुरू होंगी

वंदे भारत मिशन के तहत विदेशों में फंसे भारतीयों को लाने के लिए स्पेशल फ्लाइट ऑपरेट हो रही हैं, लेकिन रूटीन कब शुरू होंगी इस बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं दी गई है।

X

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.