पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX48690.8-0.96 %
  • NIFTY14696.5-1.04 %
  • GOLD(MCX 10 GM)475690 %
  • SILVER(MCX 1 KG)698750 %
  • Business News
  • WPI Inflation Rises To 7.39 Per Cent In March Against 4.17 Per Cent In February: Govt Data

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

महंगे क्रूड ऑयल ने बिगाड़ा आपका बजट:8 साल के उच्च स्तर पर थोक महंगाई दर, मार्च में 3.22% के बड़े उछाल के साथ 7.39% पर पहुंची

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • क्रूड पेट्रोलियम उत्पादों की थोक कीमतों में सबसे ज्यादा उछाल
  • सब्जियों, आलू और गेहूं की थोक कीमतों में गिरावट रही

रिटेल महंगाई दर के बाद अब थोक महंगाई दर ने भी आम आदमी को झटका दिया है। थोक महंगाई दर को मापने वाला होलसेल प्राइस इंडेक्स (WPI) मार्च में 3.22% बढ़कर 7.39% पर पहुंच गया है। फरवरी में यह 4.17% पर था। मार्च में क्रूड पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में लगी आग के कारण थोक महंगाई दर 8 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है। महंगे क्रूड उत्पादों के कारण देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतों ने रिकॉर्ड बनाया है।

मार्च में सभी कमोडिटीज में महंगाई बढ़ी

सरकार की ओर से जारी डाटा के मुताबिक, मार्च में होलसेल प्राइस इंडेक्स की सभी कमोडिटीज में महंगाई दर में बढ़ोतरी हुई है। डाटा के मुताबिक, मार्च में प्राइमरी आर्टिकल्स में महंगाई दर 6.40% रही है। जबकि फरवरी में प्राइमरी आर्टिकल्स में महंगाई की दर 1.82% रही थी। फ्यूल एंड पावर सेगमेंट में सबसे ज्यादा 9.67% की बढ़ोतरी हुई है। मार्च में फ्यूल एंड पावर में महंगाई दर 10.25% रही है जो फरवरी में 0.58% थी। मैन्युफैक्चर्ड प्रोडक्ट्स में महंगाई दर फरवरी की 5.81% के मुकाबले मार्च में 7.34% रही है। वहीं, फूड इंडेक्स में मार्च में महंगाई दर 5.28% रही है जो फरवरी में 3.31% थी।

क्रूड पेट्रोलियम एंड नेचुरल गैस की कीमतों में भारी उछाल

डाटा के मुताबिक, प्राइमरी आर्टिकल्स में शुमार क्रूड पेट्रोलियम एंड नेचुरल गैस की कीमतों में मार्च में 8.64% और फूड आर्टिकल्स की कीमतों में 1.90% का उछाल रहा है। जबकि मिनरल्स की कीमतों में 0.35% की बढ़ोतरी हुई है। वहीं, फूड आर्टिकल्स की कीमतों में फरवरी के मुकाबले 0.45% की गिरावट आई है। फ्यूल एंड पावर सेगमेंट में शुमार मिनरल ऑयल्स की कीमतों में 9.76% का उछाल रहा है। जबकि कोयले की कीमतों में 0.08% की गिरावट आई है। हालांकि, मार्च महीने में बिजली की कीमतों में कोई बदलाव नहीं आया है।

मैन्युफैक्चर्ड प्रोडक्ट्स सेगमेंट 16 ग्रुप में बढ़ी कीमत

डाटा के मुताबिक, मैन्युफैक्चर्ड प्रोडक्ट्स सेगमेंट में कुल 22 में से 16 ग्रुप में शामिल वस्तुओं की कीमतों में मार्च में उछाल रहा है। इसमें फर्नीचर, मोटर व्हीकल, ट्रेलर एंड सेमी ट्रेलर, मशीनरी और उपकरण, इलेक्ट्रिकल उपकरण, बेसिक मेटल्स, अन्य नॉन मैटेलिक मिनरल प्रोडक्ट, रबर एंड प्लास्टिक प्रोडक्ट, फार्मास्यूटिकल्स, मेडिसिनल कैमिकल एंड बॉटेनिकल प्रोडक्ट्स, केमिकल एंड केमिकल प्रोडक्टस, पेपर एंड पेपर प्रोडक्ट्स, लकड़ी और बने उत्पाद, अपैरल, टैक्सटाइल और फूड प्रोडक्ट्स शामिल हैं। वहीं, मैन्युफैक्चरिंग से अलग 5 ग्रुप में शामिल उत्पादों की कीमतों में गिरावट रही है। इसमें अन्य ट्रांसपोर्ट उपकरण, प्रिटिंग, चमड़ा और इससे जुड़े उत्पाद और तंबाकू उत्पाद शामिल हैं। बेवरेजेस की कीमतों में कोई बदलाव नहीं आया है।

आलू की कीमतों में सबसे ज्यादा गिरावट

मार्च में आलू की थोक कीमतों में सबसे ज्यादा 33.40% की गिरावट रही है। एक साल पहले समान अवधि में आलू की थोक कीमतों में 61.36% की तेजी रही थी। इसके अलावा गेहूं की थोक कीमतों में 7.80%, सब्जियों की थोक कीमतों में 5.19% और खाद्यान्नों की थोक कीमतों में 4.08% की गिरावट रही है। चमड़ा और इससे जुड़े उत्पादों की थोक कीमतों में 0.68% की गिरावट रही है।