पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX49792.120.8 %
  • NIFTY14644.70.85 %
  • GOLD(MCX 10 GM)490860.22 %
  • SILVER(MCX 1 KG)659170.23 %
  • Business News
  • What Common People Want From Budget 2021 22, A Small Wish List For New Year

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

छोटी सी आशा:बजट 2021-22 से क्या चाहते हैं आम लोग, नए साल के लिए एक छोटी सी विश लिस्ट

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नए साल यानी वित्त वर्ष 2021-22 के सरकारी बजट का वक्त पास आ रहा है। कोविड-19 से पूरे साल परेशान रही आम जनता को उसमें बड़ी राहत की जरूरत है। बजट में सरकार से उसकी क्या उम्मीदें हो सकती हैं, आइए जानते हैं।

1 मेडिकल कॉस्ट के लिए डिडक्शन बढ़े

कोविड-19 के चलते लोगों में सेहत को लेकर जागरूकता बढ़ी है। ऐसे में हेल्थ चेक अप पर अभी मिल रहे 5000 रुपये का डिडक्शन बढ़ाना सही रहेगा। आम जनता की तरफ से मेडिकल टेस्ट और ट्रीटमेंट के लिए डिडक्शन की उम्मीद जायज होगी।

2 रेजिडेंशियल स्टेटस में रिलैक्शेन जरूरी

रेजिडेंशियल स्टेटस के हिसाब से टैक्सेबल इनकम के आकलन के लिए नॉर्म्स में रियायत की उम्मीद करना भी वाजिब होगा क्योंकि इंटरनेशनल एयर ट्रैवल पर लगी पाबंदियों के चलते बहुत से लोग भारत में फंसे रह गए हैं।

3 PF विड्रॉल पर पांच साल की शर्त हटे

पांच साल तक नौकरी में नहीं रहने पर पीएफ से पैसा निकाले जाने पर टैक्स लगता है। कोविड-19 के दौरान हुए जॉब लॉस को देखते हुए पांच साल की शर्त हटाया जाने की उम्मीद की जा सकती है।

4 WFH इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए स्टैंडर्ड डिडक्शन मिले

कोविड-19 के चलते वर्क फ्रॉम होम न्यू नॉर्मल हो गया है। प्रोफेशनल्स को कम्युनिकेशन और इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए एडिशनल खर्च करना पड़ रहा है। इन खर्चों के लिए स्टैंडर्ड डिडक्शन का बेनेफिट देना स्वागत योग्य कदम होगा।

5 हाउसिंग प्रॉपर्टी एक्सपेंडिचर का स्टैंडर्ड डिडक्शन बढ़े

महामारी के चलते हाउसिंग प्रॉपर्टी की मांग घटी है और रेंटल इनकम में कमी आई है। प्रॉपर्टी खाली होने के बावजूद हाउस ओनर्स को उनसे होने वाली इनकम वाले मेंटेनेंस कॉस्ट भरना पड़ रहा है। ऐसे कम से कम दो साल के लिए 30 पर्सेंट के स्टैंडर्ड डिडक्शन का रेट बढ़ाना सही रहेगा।

Open Money Bhaskar in...
  • Money Bhaskar App
  • BrowserBrowser