पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX52443.71-0.26 %
  • NIFTY15709.4-0.24 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476170.12 %
  • SILVER(MCX 1 KG)66369-0.94 %
  • Business News
  • The Price Has Increased 9 Times So Far This Month, Reached Above Rs 110 In Madhya Pradesh And Rajasthan

आज फिर महंगा हुआ पेट्रोल:इस महीने अब तक 9 बार बढ़ चुके हैं दाम, मध्य प्रदेश और राजस्थान में 110 रुपए के ऊपर पहुंचा

नई दिल्ली12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना महामारी के बीच पेट्रोल के लगातार महंगे होने से आम आदमी को महंगाई की मार झेलनी पड़ रही है। आज इस महीने पेट्रोल 9वीं बार महंगा हुआ है। हालांकि डीजल के रेट में कोई बदलाव नहीं हुआ है। दिल्ली में शनिवार को इंडियन ऑयल (IOC) के पेट्रोल पंप पर पेट्रोल की कीमत 101.84 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है। वहीं डीजल की कीमत 89.87 रुपए प्रति लीटर पर स्थिर है। इससे पहले गुरुवार को पेट्रोल में 35 पैसे और डीजल में 15 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई थी।

देश के प्रमुख शहरों में पेट्रोल-डीजल के दाम

शहरपेट्रोल (रुपए/लीटर)डीजल (रुपए/लीटर)
श्रीगंगानगर113.21103.15
अनूपपुर112.78101.05
परभणी110.1398.18
भोपाल110.2098.67
जयपुर108.7199.02
मुंबई107.8397.45
दिल्ली101.8489.87

जुलाई के पहले पखवाड़े में पेट्रोल की खपत कोविड-पूर्व से अधिक
देश में पेट्रोल की खपत कोविड-पूर्व स्तर पार कर गई है। इसकी मुख्य वजह लॉकडाउन की पाबंदियों में ढील के बाद गाड़ियों का सड़कों पर आना है। शुक्रवार को जारी डेटा के मुताबिक, जुलाई के पहले 15 दिनों में (पखवाड़े) पेट्रोल की बिक्री बढ़कर 10.3 लाख टन हो गई, जो कोविड-पूर्व यानी 2019 के समान पखवाड़े की तुलना में 3.44% अधिक है। इस साल अप्रैल में कोरोना की दूसरी लहर शुरू होने के साथ ईंधन की मांग घटने लगी थी।

ईंधन पर खर्च बढ़ने से खाने और स्वास्थ्य की जरूरतों में कटौती कर रहे लोग
भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की आर्थिक शाखा की एक रिपोर्ट के मुताबिक पेट्रोल-डीजल पर खर्च ज्यादा होने के कारण लोगों को स्वास्थ्य जैसी जरूरतों में कटौती करनी पड़ रही है। रिपोर्ट के अनुसार पेट्रोल-डीजल पर होने वाला खर्च 13% बढ़ा है।

SBI कार्ड से होने वाले खर्च के विश्लेषण से पता चला है कि पेट्रोल-डीजल के बढ़े दामों से निपटने के लिए लोगों को किराना, स्वास्थ्य सेवाओं सहित काम की अन्य सेवाओं पर खर्च कम कर दिया इससे इन उत्पादों की मांग में भी गिरावट आई है। रिपोर्ट के मुताबिक गैर-जरूरी खर्च के लिए रखे पैसों में से पेट्रोल-डीजल पर होने वाला खर्च जून 2021 में बढ़कर 75% हो गया। जबकि इसी साल मार्च में यह 62% था।

रोजाना तय होते हैं पेट्रोल-डीजल के रेट
ऑयल मार्केटिंग कंपनियां कीमतों की समीक्षा के बाद रोजाना पेट्रोल और डीजल के रेट तय करती हैं। इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम सुबह 6 बजे पेट्रोल और डीजल की दरों बदलाव करती हैं।

पेट्रोल-डीजल का का रेट आप SMS के जरिए भी जान सकते हैं। इंडियन ऑयल के कस्टमरों को RSP स्पेस पेट्रोल पंप का कोड लिखकर 9224992249 नंबर पर और बीपीसीएल उपभोक्ता RSP लिखकर 9223112222 नंबर पर भेजना होगा। वहीं, एचपीसीएल उपभोक्ता 'HPPrice' लिखकर 9222201122 नंबर पर भेजकर आज का भाव पता कर सकते हैं।