पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59005.270.88 %
  • NIFTY175620.95 %
  • GOLD(MCX 10 GM)463320.4 %
  • SILVER(MCX 1 KG)602350.53 %
  • Business News
  • The Company Will Raise Rs 1,282.98 Crore Through The Issue, Will Be Able To Invest Money By September 16

सनसेरा इंजीनियरिंग का IPO खुला:निवेशक 16 सितंबर तक लगा सकेंगे पैसा, कंपनी इश्यू के जरिए 1,282.98 करोड़ रुपए जुटाएगी

मुंबई8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ऑटोमोबाइल कंपोनेंट बनाने वाली सनसेरा इंजीनियरिंग का IPO आज से खुल गया है। निवेशक IPO में निवेश के लिए 16 सितंबर तक बोली लगा सकेंगे। इसके लिए कंपनी ने प्राइस बैंड 733-734 रुपए प्रति शेयर तय किया है। कंपनी अपर प्राइस बैंड के हिसाब से IPO के जरिए लगभग 1,282.98 करोड़ रुपए जुटाएगी। इसकी लिस्टिंग 24 सितंबर को NSE और BSE पर हो सकती है।

कम से कम कितना निवेश जरूरी
सनसेरा इंजीनियरिंग ने अपने इश्यू के लिए प्राइस बैंड 734-744 रुपए और 20 शेयर्स का एक लॉट साइज तय किया है। यानी अपर प्राइस बैंड के हिसाब से कम से कम 14,880 रुपए का निवेश करना होगा।

ग्रे मार्केट प्राइस
कंपनी ने IPO खुलने से पहले एंकर इन्वेस्टर्स से 382 करोड़ रुपए जुटाए हैं। सनसेरा इंजीनियरिंग के ग्रे मार्केट में अनलिस्टेड शेयर 75 रुपए प्रीमियम पर ट्रेड कर रहे हैं। यानी ग्रे मार्केट में सनसेरा इंजीनियरिंग के शेयर्स की ट्रेडिंग 819 (744+75) रुपए पर हो रही है। यह इश्यू प्राइस से 10% ज्यादा है।

ऑफर फॉर सेल होगा IPO
ये IPO पूरी तरह से ऑफर फॉर सेल होगा जिसमें प्रमोटर और शेयरहोल्डर्स अपनी हिस्सेदारी बेचेंगे। इश्यू 14 सितंबर से 16 सितंबर तक खुला रहेगा। 1.72 करोड़ शेयर्स ऑफर फॉर सेल (OFS) के जरिए बेचे जाएंगे। कंपनी में इन्वेस्टर्स क्लाइंट एबेने की 35.40% और CVCIGP II कर्मचारी एबेने की 19.83% हिस्सेदारी है।

35% हिस्सा आम निवेशकों के लिए रिजर्व
सनसेरा इंजीनियरिंग के IPO में 50% हिस्सा क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बॉयर्स (QIB), 15% हिस्सा नॉन-इंस्टीट्यूशनल इंवेस्टर्स और 35% हिस्सा रिटेल निवेशकों के लिए रिजर्व है। जबकि 9 करोड़ शेयर्स कंपनी के कर्मचारियों के लिए रिजर्व किए गए हैं। कंपनी के कर्मचारी 36 रुपए प्रति शेयर के डिस्काउंट प्राइस पर बोली लगा सकते हैं।

IPO के लिए ICICI सिक्योरिटीज, IIFL सिक्योरिटीज और नोमुरा फाइनेंशियल एडवाइजरी लीड मैनेजर हैं।

कंपनी का कारोबार
सनसेरा इंजीनियरिंग ऑटोमोटिव और नॉन-ऑटोमोटिव सेटर्स के लिए प्रेसिशन इंजीनियर्ड कंपोनेंट्स की मैन्युफैक्चरिंग करती है। यह पैसेंजर व्हीकल्स और टू-व्हीलर्स के लिए कनेक्टिंग रॉड्स, क्रैंकशाफ्ट्स और गियर शिफ्टर की प्रमुख मैन्युफैक्चरर है। कंपनी के पास देश में 15 मैन्युफैक्चरिंग प्लांट हैं। ये प्लांट कर्नाटक, हरियाणा, महाराष्ट्र, उत्तराखंड और गुजरात में हैं। कंपनी का एक प्लांट स्वीडन में भी है।

पिछले फाइनेंशियल ईयर में कंपनी की आय और मुनाफा बढ़ा
पिछले फाइनेंशियल ईयर में कंपनी की कुल इनकम बढ़कर 1,572.36 करोड़ रुपए थी। नेट प्रॉफिट में भी बढ़ोतरी हुई थी और यह 109.86 करोड़ रुपए हो गया था।

खबरें और भी हैं...