पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61305.950.94 %
  • NIFTY18338.550.97 %
  • GOLD(MCX 10 GM)478990 %
  • SILVER(MCX 1 KG)629570 %
  • Business News
  • Taxpayers Can Use ITC To Discharge GST Dues For March

कारोबारियों के लिए अच्छी खबर:इनपुट टैक्स क्रेडिट से कर सकते हैं मार्च के बकाया GST का भुगतान

नई दिल्ली7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फरवरी महीने में एक बार फिर GST कलेक्शन 1 लाख करोड़ के पार जाते हुए 1.13 लाख करोड़ रुपए रहा है। - Money Bhaskar
फरवरी महीने में एक बार फिर GST कलेक्शन 1 लाख करोड़ के पार जाते हुए 1.13 लाख करोड़ रुपए रहा है।
  • वित्त मंत्रालय ने कहा- नकद GST भुगतान को लेकर कोई निर्देश नहीं दिया
  • लगातार पांच महीनों से 1 लाख करोड़ रु. के पार रहा है GST कलेक्शन

वित्त मंत्रालय ने कारोबारियों को अच्छी खबर दी है। मंत्रालय ने कहा है कि टैक्सपेयर मार्च के वस्तु एवं सेवा कर (GST) भुगतान के लिए इनपुट टैक्स क्रेडिट (ITC) का इस्तेमाल कर सकते हैं। सेंट्रल बोर्ड ऑफ इनडायरेक्ट टैक्सेस एंड कस्टम्स (CBIC) की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि टैक्सपेयर मार्च 2021 के GST बकाया के भुगतान के लिए क्रेडिट लेजर में उपलब्ध ITC का इस्तेमाल कर सकते हैं।

नकद GST भुगतान के लिए कोई निर्देश नहीं

एक अन्य आदेश में वित्त मंत्रालय ने उन खबरों का खंडन किया है जिसमें कहा गया है कि टैक्सपेयर्स को अधिक से अधिक GST नकद जमा करने का निर्देश दिया गया है। हाल ही में कुछ रिपोर्ट्स में कहा गया है कि GST अधिकारी टैक्सपेयर्स से अधिक से अधिक टैक्स का भुगतान नकद में करने के लिए कह रहे हैं।

लगातार पांचवें महीने 1 लाख करोड़ रुपए के पार रहा GST कलेक्शन

देश में कारोबारी गतिविधियां बढ़ने के साथ GST कलेक्शन में भी सुधार हो रहा है। फरवरी महीने में एक बार फिर GST कलेक्शन 1 लाख करोड़ के पार जाते हुए 1.13 लाख करोड़ रुपए रहा है। यह लगातार पांचवां महीना रहा है जब GST कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपए के पार रहा है।

मार्च में GST कलेक्शन को लेकर उम्मीदें

CNI रिसर्च के चेयरमैन किशोर ओस्तवाल कहते हैं कि मार्च 2020 में 97 हजार करोड़ रुपए का कलेक्शन था। 2019 मार्च में 1.09 लाख करोड़ रुपए का कलेक्शन था। पर इस साल मार्च बेहतर होगा। उम्मीद है कि मार्च में कलेक्शन 1.30 लाख करोड़ रुपए हो सकता है क्योंकि GST चोरी पर लगाम लगी है। साथ ही महीना 31 दिनों का है। फरवरी 28 दिनों का है। तो तीन दिन का मतलब 12-15 हजार करोड़ रुपए बढ़ना चाहिए।