पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX48832.030.06 %
  • NIFTY14617.850.25 %
  • GOLD(MCX 10 GM)470210.83 %
  • SILVER(MCX 1 KG)689701.52 %
  • Business News
  • Share Market Nifty BSE NSE Crash Today; Expert Advice On Sectors For Long Term Investment इंट्राडे में शेयर बाजार के प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 48,580 और निफ्टी 14,459 को छुआ

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना ने बढ़ाई शेयर बाजार की चिंता:बाजार में गिरावट से BSE की मार्केट वैल्यू 2 लाख करोड़ रुपए घटी, जानिए एक्सपर्ट्स किन सेक्टर्स में दे रहे निवेश की सलाह

मुंबई12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

देश में 24 घंटे में कोरोना के नए मामले 1 लाख के पार पहुंच गया है। सरकार महामारी के प्रसार को रोकने के लिए कई राज्यों में जगह-जगह लॉकडाउन भी लगा रही है। इससे आर्थिक गतिविधियां बुरी तरह प्रभावित हो रही है। नतीजा यह है कि शेयर बाजार में सोमवार को भारी गिरावट के दर्ज की जा रही है।

कारोबारी दिन में सेंसेक्स 1400 पॉइंट्स से ज्यादा नीचे आ गया। भारी गिरावट के चलते BSE में लिस्ट कुल कंपनियों की मार्केट वैल्यू 2 लाख करोड़ रुपए घटकर 205 लाख करोड़ रुपए हो गई है, जो 1 अप्रैल को 207 लाख करोड़ रुपए थी।

कोरोना के मामलों ने बिगाड़ा बाजार का मूड
सोमवार को इंट्राडे में शेयर बाजार के प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स दिन के सबसे निचले स्तर 48,580 और निफ्टी 14,459 को छुआ। 26 मार्च के बाद पहली बार बाजार इस स्तर पर आया। सबसे ज्यादा गिरावट बैंकिंग और ऑटो शेयर हैं। निफ्टी बैंक इंडेक्स 4% तक फिसला। इसके अलावा बाजार के सबसे बड़े शेयरों में भी भारी बिकवाली है। इंडसइंड बैंक, बजाज फाइनेंस, बजाज फिनसर्व, SBI, HDFC, ICICI बैंक, रिलायंस सहित HDFC बैंक के शेयरों में 2% से 6% तक की गिरावट है।

अर्थव्यवस्था पर लॉकडाउन का बुरा असर
प्रॉफिटमार्ट सिक्योरिटीज के रिसर्च हेड अविनाश गोराक्षकर के मुताबिक देश में कोरोना के बढ़ते मामले बाजार में गिरावट जारी रख सकते हैं। क्योंकि इससे आर्थिक गतिविधियों के लिए दिक्कत खड़ी हो रही है। विदेशी निवेशक यानी FII ने भी बीते कुछ दिनों में निवेश कम किया है।

देश में फैट्रियों के उत्पादन के मापने वाला इंडेक्स मैन्यूफैक्चरिंग पर्चेजिंग मैनेजर इंडेक्स (PMI) भी मार्च में सात के सबसे निचले स्तर 55.4 पर आ गया है , जो फरवरी में 57.5 था। यानी प्रतिबंधों से उत्पादन भी प्रभावित हुआ है। देश की GDP में इस सेक्टर की 15% हिस्सेदारी है। रोजगार के लिहाज से भी यह काफी अहम है। ऐसे में यह गिरावट देश की अर्थव्यवस्था के प्रभाव को दर्शा रहा है।

निवेशकों के लिए खरीदारी की सलाह
मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेस टेक्निकल एंड डेरिवेटिव रिसर्च हेड चंदन तापड़िया के मुताबिक निवेशकों को गिरावट के बीच मेटल, IT और फार्मा सेक्टर के क्वालिटी शेयर खरीदने की सलाह होगी। ये अन्य के मुकाबले ज्यादा सेफ सेक्टर हैं।

अविनाश गोराक्षकर ने भी IT, फार्मा, स्पेशियल्टी केमिकल के साथ-साथ एक्सपोर्ट वाले सेक्टर में पॉजिटिव ग्रोथ का अनुमान दिया। इसके अलावा ऑनलाइन कंपनियों के शेयरों में भी निवेश की सलाह दी है, जिसमें इंडियामार्ट सहित अन्य शेयर शामिल हैं। निफ्टी पर उन्होंने कहा कि इंडेक्स 14400 के नीचे आता है तो यह 14 हजार के स्तर तक गिर आ सकता है।

खबरें और भी हैं...