पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Sensex Today; Stock Market LIVE Updates | Top Losers Today NSE And BSE

शेयर मार्केट:सेंसेक्स 709 अंक फिसलकर 51822 पर बंद, निफ्टी 15410 के करीब, टाटा स्टील और हिडाल्को के शेयर सबसे ज्यादा गिरे

नई दिल्ली9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सेंसेक्स और निफ्टी आज गिरावट के साथ बंद हुए। सेंसेक्स 709.54 पॉइंट या 1.35% की गिरावट के साथ 51,822.53​ पर और निफ्टी 225.50 पॉइंट या 1.44% की गिरावट के साथ 15,413.30 पर बंद हुआ। सबसे ज्यादा गिरावट मेटल और रियल्टी सेक्टर में रही। निफ्टी पर मेटल इंडेक्स में 4.87% की गिरावट रही। साथ ही बैंक, फाइनेंशियल और IT इंडेक्स में 1% से ज्यादा की गिरावट रही। आज के टॉप लूजर्स में टाटा स्टील, बजाज फाइनेंस, इंडसइंड बैंक, भारती एयरटेल, एक्सिस बैंक और रिलायंस शामिल हैं।

आज सेंसेक्स 345 पॉइंट की गिरावट के साथ 52,186 पर और निफ्टी 92 पॉइंट की गिरावट के साथ 15,545 पर खुला था। सेंसेक्स ने आज 52,272.85 का हाई और 51,739.98 का लो लेवल बनाया।

सेंसेक्स के 30 शेयर में से 3 में बढ़त और 27 में गिरावट रही।
सेंसेक्स के 30 शेयर में से 3 में बढ़त और 27 में गिरावट रही।

मिडकैप और स्मॉलकैप में गिरावट

BSE का मिडकैप 267.03 पॉइंट या 1.11%​ की गिरावट के साथ​​​​​​ 23,854.62 बंद हुआ।

BSE मिडकैप के बढ़त और गिरावट वाले टॉप शेयर।
BSE मिडकैप के बढ़त और गिरावट वाले टॉप शेयर।

BSE का स्मॉलकैप 329.60 पॉइंट या 1.53% की गिरावट के साथ 21,178.06 पर बंद हुआ।

BSE स्मॉकैप के बढ़त और गिरावट वाले टॉप शेयर।
BSE स्मॉकैप के बढ़त और गिरावट वाले टॉप शेयर।

मेटल इंडेक्स में सबसे ज्यादा गिरावट
आज निफ्टी के सभी सेक्टोरल इंडेक्स में गिरावट रही। सबसे ज्यादा 4.87% की गिरावट मेटल इंडेक्स में रही। इसके बाद 3.50% की गिरावट मीडिया में रही। वहीं रियल्टी में 2.19% की गिरावट रही। 1% तक की गिरावट बैंक, फाइनेंशियल सर्विस, IT, फार्मा और प्राइवेट बैंक इंडेक्स में रही।

रुपया अब तक के सबसे निचले स्तर पर
डॉलर के मुकाबले रुपया बुधवार को रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच गया। ये 27 पैसे कमजोर होकर 78.40 पर बंद हुआ। रुपया 78.13 पर खुला था और दिनभर के कारोबार में इसने 78.40 का निचला और 78.13 का उच्चतम स्तर बनाया। वित्तीय बाजारों से लगातार विदेशी फंड का आउटफ्लो और कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी ने रुपए पर दबाव बढ़ाया है।​​​​​​​