पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61110.83-0.24 %
  • NIFTY18229.5-0.2 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47363-0.05 %
  • SILVER(MCX 1 KG)642760.82 %
  • Business News
  • Retail Investors Of The Country Can Invest In Shares Of American Companies Apple, Google, Facebook And Amazon Without Any Brokerage Charge.

शेयर का दसवां हिस्सा भी खरीद सकते हैं:देश के रिटेल निवेशक अमेरिकी कंपनियों एपल, गूगल, फेसबुक और अमेजन के शेयरों में बिना किसी ब्रोकरेज चार्ज के कर सकते हैं निवेश

मुंबईएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
इन प्लेटफार्मों की मदद से भारतीय निवेशक ग्लोबल स्टॉक, ग्लोबल बॉन्ड, ट्रेजरी बॉन्ड और आरईआईटी (रिट) जैसे असेट्स की खरीदारी कर सकते हैं - Money Bhaskar
इन प्लेटफार्मों की मदद से भारतीय निवेशक ग्लोबल स्टॉक, ग्लोबल बॉन्ड, ट्रेजरी बॉन्ड और आरईआईटी (रिट) जैसे असेट्स की खरीदारी कर सकते हैं
  • 75 रुपए या एक डॉलर से कर सकते हैं निवेश
  • कई ब्रोकरेज हाउस ने शुरू किया डायरेक्ट प्लेटफॉर्म

देश के रिटेल निवेशक अमेरिकी शेयर बाजार में लिस्टेड दुनिया की बड़ी कंपनियों के शेयरों में निवेश कर सकते हैं। यह निवेश 75 रुपए या एक डॉलर से शुरू किया जा सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि ढेर सारे ब्रोकरेज हाउस ने डायरेक्ट प्लेटफॉर्म शुरू किया है। निवेशक इसके जरिए निवेश कर सकते हैं। इसमें कोई चार्ज नहीं है और अगर कोई शेयर महंगा है तो आप उसका दसवां हिस्सा भी खरीद सकते हैं।

रिटेल निवेशकों की बढ़ रही है दिलचस्पी

विदेशी शेयर बाजारों खासकर अमेरिकी स्टॉक एक्सचेंज में देश के रिटेल निवेशकों की दिलचस्पी बढ़ रही है। इस कारण से कई प्लेटफॉर्म शुरू किए गए हैं। इन प्लेटफॉर्म के जरिए अमेरिकी शेयर बाजारों में डायरेक्ट निवेश किया जा सकता है। जिन ब्रोकरेज हाउस ने यह सुविधा शुरू की है उसमें एक्सिस सिक्योरिटीज, आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज, मैटरट्रस्ट, वेस्टेड फाइनेंस और विनवेस्टा जैसे ब्रोकिंग प्लेटफॉर्म का समावेश है। इन सभी ने ग्लोबल निवेश सेवाओं को लांच किया है।

रिटेल निवेशकों के लिए है अच्छी सुविधा

ब्रोकरेज हाउस के इस प्लेटफॉर्म से अमेरिकी बाजार में आसानी से निवेश किया जा सकता है। इसके तहत निवेशक आसानी से एपल, गूगल, फेसबुक और अमेजन जैसी बड़ी कंपनियों के शेयरों को खरीद सकते हैं। इसमें एक डॉलर का भी शेयर खरीद सकते हैं। इन प्लेटफॉर्म्स की खास बात यह है कि इनके जरिए कोई भी रिटेल निवेशक कम से कम एक डॉलर का निवेश कर सकता है। इतना ही नहीं, अगर कोई शेयर काफी महंगा है तो एक शेयर से कम की खरीदारी भी कर सकते हैं।

यानी अगर किसी एक शेयर की कीमत 10 डॉलर है तो रिटेल निवेशक एक डॉलर लगाकर उस एक शेयर का 10वां हिस्सा खरीद सकता है।

रिट, ट्रेजरी बांड भी खरीद सकते हैं दिलचस्प बात ये है कि ये ग्लोबल इनवेस्टमेंट प्लेटफॉर्म छोटे भारतीय निवेशकों से किसी भी तरह का ब्रोकरेज चार्ज भी नहीं वसूलते हैं। इन प्लेटफार्मों की मदद से भारतीय निवेशक ग्लोबल स्टॉक, ग्लोबल बॉन्ड, ट्रेजरी बॉन्ड और आरईआईटी (रिट) जैसे असेट्स की खरीदारी कर सकते हैं।

खबरें और भी हैं...