पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX52344.450.04 %
  • NIFTY15683.35-0.05 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47122-0.57 %
  • SILVER(MCX 1 KG)68675-1.23 %
  • Business News
  • Retail Inflation In India Update; Drop In Food Prices, Narendra Modi Government Data Showed

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सब्जी और अनाज सस्ता हुआ:रिटेल महंगाई अप्रैल में घटकर 4.29% पर आई, खाने-पीने की चीजें सस्ती होने से आम आदमी को राहत

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सब्जी, अनाज और अन्य खान-पान के सामान सस्ते होने से रिटेल महंगाई अप्रैल में घटी है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक देश की रिटेल महंगाई मापने वाला कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (CPI) 4.29% पर आ गया, जो मार्च में चार महीने के सबसे ऊंचे स्तर 5.52% पर था।

खान-पान के सामान सस्ते होने से मिली राहत
रिपोर्ट के मुताबिक अप्रैल महीने में सब्जी के दाम 14.18% कम हुए। अनाज के दाम 2.96% और चीनी के 5.99% घटे। वहींं, कोरोना के चलते नॉन वेज आइटम की डिमांड ज्यादा रही, जिससे मीट, मछली, अंडा सहित तेल और घी के दाम 26% तक बढ़े। इसके अलावा फल भी 9.81% महंगे हुए। नेशनल स्टैस्टिकल्स ऑफिस द्वारा जारी डेटा के मुताबिक फ्यूल और लाइट कैटेगरी भी इस महीने 7.91% महंगा हुआ।

RBI के दायरे में महंगाई के आंकड़े
रिटेल महंगाई दर रिजर्व बैंक (RBI) के तय दायरे 4% (+/-2%) में ही है। खास बात यह है कि महंगाई दर लगातार 5वीं बार RBI के दायरे में रही। इसकी मुख्य वजह खाद्य यानी खाने-पीने की महंगाई रही जो अप्रैल में घटकर 2.02% रही। मार्च में यह 4.87% थी।

चालू फाइनेंशियल इयर के पहले हाफ में महंगाई पर RBI का अनुमान
RBI की MPC बैठक 5 अप्रैल को हुई थी, जिसमें शामिल सदस्यों ने चालू फाइनेंशियल इयर के पहले हाफ यानी शुरुआती 6 महीने में महंगाई बढ़ने की आशंका जताई थी। इसके लिए महंगाई दर 5.2% रहने का अनुमान भी दिया। इसके लिए RBI ने रेपो रेट 4% पर बनए रखा है। गवर्नर शक्तिकांत दास ने फाइनेंशियल इयर 2021-22 के लिए GDP ग्रोथ 10.5% रहने का अनुमान जताया है।

12 मई को सरकार ने इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन का आकंड़े भी जारी किए। इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन मापने वाला इंडेक्स मार्च में 22.4% बढ़ा है, जो फरवरी में 3.6% गिर गया था।

खबरें और भी हैं...