पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX52344.450.04 %
  • NIFTY15683.35-0.05 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47122-0.57 %
  • SILVER(MCX 1 KG)68675-1.23 %
  • Business News
  • Pune On Tops India Best Healthcare System, While Delhi Is The Worst City

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्वास्थ्य सुविधाओं के मामले में सर्वे:हेल्थ की सुविधा और हवा की क्वालिटी के मामले में पुणे टॉप पर, दिल्ली सबसे फिसड्‌डी

मुंबईएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रिपोर्ट के मुताबिक, अगर सरकारी अस्पतालों और निजी दोनों को मिला कर देखा जाए तो देश में हर 1000 लोगों पर 1.4 बिस्तर ही मौजूद है। जबकि सरकारी अस्पतालों में यह अनुपात आधा बिस्तर का हो जाता है - Money Bhaskar
रिपोर्ट के मुताबिक, अगर सरकारी अस्पतालों और निजी दोनों को मिला कर देखा जाए तो देश में हर 1000 लोगों पर 1.4 बिस्तर ही मौजूद है। जबकि सरकारी अस्पतालों में यह अनुपात आधा बिस्तर का हो जाता है
  • दिल्ली में एनसीआर को भी कवर किया गया है जिसमें नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम भी आते हैं
  • अहमदाबाद हर 1000 लोगों पर 1.2 बिस्तरों के साथ तीसरे नंबर पर है

देश में बुनियादी स्वास्थ्य सेवाओं के मामले में पुणे सबसे टॉप पर है। जबकि दिल्ली सबसे फिसड्‌डी शहर है। एक ऑन लाइन सर्वे में यह जानकारी आई है। दिल्ली में राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) को भी कवर किया गया है जिसमें गुरुग्राम, फरीदाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद भी आते हैं।

दिल्ली में हवा और पानी की क्वालिटी भी खराब

दिल्ली को सबसे खराब इसलिए माना गया है क्योंकि यहां मुख्य रूप से हवा और पानी की क्वालिटी, साफ- सफाई और नगर निगम का प्रदर्शन सही नहीं है। एलारा टेक्नोलॉजी की रियल्टी फर्म ने स्टेट ऑफ हेल्थकेयर इन इंडिया के नाम से इस रिपोर्ट को जारी किया है। इसमें कहा गया है कि देश में हर 1000 आदमी पर केवल आधा बिस्तर ही उपलब्ध है। पुणे में प्रति एक हजार लोगों पर 3.5 अस्पताल के बिस्तर उपलब्ध हैं। यह देश के राष्ट्रीय औसत से बहुत ज्यादा है।

8 शहरों को शामिल किया गया है

कुल 8 बड़े शहरों को इस सर्वे में शामिल किया गया है। इसमें बंगलुरू, चेन्नई, अहमदाबाद, दिल्ली, एनसीआर, हैदराबाद, कोलकाता, पुणे और मुंबई शामिल हैं। इस रिपोर्ट के मुताबिक, पुणे ने जीवन स्तर में आसानी, पानी की क्वालिटी के साथ टिकाऊ पहले जैसे कई पैमाने पर ज्यादा स्कोर हासिल किया है। यह रैंकिंग प्रति 1 हजार लोगों पर अस्पतालों के बिस्तरों की संख्या, हवा की क्वालिटी, जीविका के इंडेक्स आदि के आधार पर की गई है।

पुणे में कोविड की वजह से हालत खराब

हालांकि पुणे में इस समय कोविड की वजह से हालत ज्यादा खराब है। यह अभी भी पब्लिक हेल्थ की सुविधा को लेकर काफी संघर्ष कर रहा है। अहमदाबाद इसी तरह दूसरे नंबर पर है। यहां पर हर 1000 की जनता पर 3.2 के अनुपात में अस्पतालों में बिस्तर है। बंगलुरू तीसरे नंबर पर है। मुंबई इसके साथ ही चौथे नंबर पर है। यहां बिस्तरों की संख्या, हवा की क्वालिटी का स्कोर काफी कम रहा है।

दक्षिण भारत के भी शहरों की खराब स्थिति

दक्षिण भारत के शहर इसमें काफी फिसड्‌डी हैं। हैदराबाद पांचवें नंबर पर है तो चेन्नई छठें नंबर पर है। सातवें नंबर पर कोलकाता है। रिपोर्ट के मुताबिक, अगर सरकारी अस्पतालों और निजी दोनों को मिला कर देखा जाए तो देश में हर 1000 लोगों पर 1.4 बिस्तर ही मौजूद है। जबकि सरकारी अस्पतालों में यह अनुपात आधा बिस्तर का हो जाता है।

खबरें और भी हैं...