पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Pm Modi Cabinate Meting ; Announcement Of Second PLI Scheme For Solar PV Modules, This Will Accelerate The Target Of Generating 500 GW Non conventional Energy

कैबिनेट बैठक:सोलर पीवी मॉड्यूल के लिए दूसरी PLI स्कीम को मंजूरी, इससे 500 गीगा वॉट गैर पारंपरिक ऊर्जा जेनरेट करने के लक्ष्य में तेजी आएगी

नई दिल्ली12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आज यानी 21 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक में कई अहम फैसले लिए गए। बैठक में लिए गए निर्णयों की जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर बताया कि सेमीकंडक्टर फैब्रिकेशन पॉलिसी को और आकर्षक बनाया जाएगा। वहीं इसके अलावा सोलर पीवी मॉड्यूल के दूसरी PLI स्कीम का भी ऐलान आज किया गया। इसके अलावा राष्ट्रीय लॉजिस्टिक्स नीति को भी मंजूरी मिली है।

सोलर PV मॉड्यूल के लिए दूसरी PLI स्कीम का ऐलान
कैबिनेट बैठक में आज दूसरा बड़ा फैसला सोलर पीवी मॉड्यूल के दूसरी PLI स्कीम को लेकर हुआ। 19,500 करोड़ रुपए की PLI स्कीम की घोषणा की गई है। इस स्कीम से सोलर पैनल को देश में मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा मिलेगा। इससे न केवल देश के आयात में कमी आएगी बल्कि भारत नियार्त करने की स्थिति बनेगी। इसके अलावा इससे 2030 तक 500 गीगा वॉट गैर पारंपरिक ऊर्जा जेनरेट करने के लक्ष्य के तहत बहुत तेजी आएगी।

सेमीकंडक्टर में निवेश की सीमा हटी
कैबिनेट ने भारत में सेमीकंडक्‍टर के विकास और डिस्प्ले मैन्युफैक्चरिंग इकोसिस्टम कार्यक्रम में कई संशोधनों को मंजूरी दी है। भारत में सेमीकंडक्टर फैब की स्थापना की योजना के तहत सभी प्रौद्योगिकी नोड्स के लिए परियोजना लागत के 50 प्रतिशत की समानता के आधार पर वित्तीय सहायता। इसके अलावा अब डिस्प्ले फैब स्थापित करने की योजना के तहत परियोजना लागत के 50% की समानता के आधार पर वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई जागगी।

राष्ट्रीय लॉजिस्टिक्स नीति को मंजूरी
मंत्रिमंडल ने राष्ट्रीय लॉजिस्टिक्स नीति को मंजूरी दी गई है। एकीकृत लॉजिस्टिक्स इंटरफेस प्लेटफॉर्म की शुरुआत की गई है जिसमें 30 डिजिटल सिस्टम इंटीग्रेटेड हैं। इससे लॉजिस्टिक्स के क्षेत्र में डिजिटल तकनीक का लाभ मिलेगा और व्यापार करने में आसानी होगी।

क्या है PLI स्कीम?
इस योजना के अनुसार, केंद्र अतिरिक्त उत्पादन पर प्रोत्साहन देगा और कंपनियों को भारत में बने उत्पादों को निर्यात करने की अनुमति देगा। PLI स्कीम का लक्ष्य प्रतिस्पर्धात्मक माहौल बनाने के लिए निवेशकों को प्रोत्साहित करना है।