पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX48832.030.06 %
  • NIFTY14617.850.25 %
  • GOLD(MCX 10 GM)470210.83 %
  • SILVER(MCX 1 KG)689701.52 %
  • Business News
  • PLI Schemes Worth Rupee 10,738 Cr For Solar PV And White Goods Approved By Cabinet

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मेक इन इंडिया को बढ़ावा:एलईडी, एयर कंडीशनर और सोलर मॉड्यूल के लिए 10,738 करोड़ रुपए की PLI स्कीम को मंजूरी

नई दिल्ली10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स एंड अप्लायंसेज मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन के प्रेसीडेंट कमल नंदी का कहना है कि देश को एयर कंडीशनर मैन्युफैक्चरिंग में आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में यह एक महत्वपूर्ण कदम है। - Money Bhaskar
कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स एंड अप्लायंसेज मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन के प्रेसीडेंट कमल नंदी का कहना है कि देश को एयर कंडीशनर मैन्युफैक्चरिंग में आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में यह एक महत्वपूर्ण कदम है।
  • एयर कंडीशनर के लिए 6,328, सोलर मॉड्यूल के लिए 4,500 करोड़ की स्कीम
  • 13 में से अब तक 9 सेक्टर्स के लिए स्कीम का ऐलान, 4 स्कीम्स की घोषणा जल्द

मेक इन इंडिया को बढ़ावा देने के लिए केंद्रीय कैबिनेट ने बड़ा फैसला किया है। बुधवार को कैबिनेट ने दो सेक्टर्स के लिए 10,738 करोड़ रुपए की प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव (PLI) स्कीम को मंजूरी दे दी। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर और पीयूष गोयल ने बताया कि एलईडी और एयर कंडीशनर मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा देने के लिए 6,328 करोड़ रुपए की PLI स्कीम को मंजूरी दी गई है। जबकि सोलर पीवी मॉड्यूल की मैन्युफैक्चरिंग के लिए 4,500 करोड़ रुपए की PLI स्कीम को मंजूरी दी गई है।

अब तक 9 सेक्टर्स के लिए PLI स्कीम को मंजूरी

मेक इन इंडिया को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार ने ज्यादा से ज्यादा संभावना वाले 13 सेक्टर्स के लिए PLI स्कीम लागू करने का फैसला किया है। एलईडी-एयरकंडीशनर और सोलर मॉड्यूल सेक्टर को शामिल करते हुए अब तक 13 में से 9 सेक्टर्स के लिए PLI स्कीम मंजूर की जा चुकी है। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि शेष 4 स्कीम्स के लिए काम एडवांस स्तर पर चल रहा है। उन्होंने कहा कि इस स्कीम के जरिए देश में मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर को बढ़ावा मिलेगा।

4 लाख रोजगार मिलने की संभावना

एलईडी-एयर कंडीशनर सेक्टर के लिए PLI स्कीम 5 साल के लिए लागू रहेगी। इस स्कीम के जरिए इस सेक्टर में 7,920 करोड़ रुपए का निवेश होगा। स्कीम के तहत 1,68,000 करोड़ रुपए का उत्पादन होगा जिसमें से 64,400 करोड़ रुपए के उत्पादों का निर्यात किया जाएगा। इस स्कीम से 49,300 करोड़ रुपए का प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रेवेन्यू पैदा होगा। वहीं, करीब 4 लाख प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रोजगार पैदा होंगे। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए भी PLI स्कीम को मंजूरी की जानकारी दी है।

एयर कंडीशनर मैन्युफैक्चरर्स ने किया स्वागत

एयर कंडीशनर सेक्टर को PLI स्कीम में शामिल करने के फैसले का मैन्युफैक्चरर्स ने स्वागत किया है। एयर कंडीशनर मैन्युफैक्चरर्स का कहना है कि इस स्कीम से देश में उत्पादन को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी। कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स एंड अप्लायंसेज मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन (CEAMA) के प्रेसीडेंट कमल नंदी का कहना है कि देश को एयर कंडीशनर मैन्युफैक्चरिंग में आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में यह एक महत्वपूर्ण कदम है। इससे इस सेक्टर में तेजी से विकास की संभावना है।

खबरें और भी हैं...