पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX48690.8-0.96 %
  • NIFTY14696.5-1.04 %
  • GOLD(MCX 10 GM)475690 %
  • SILVER(MCX 1 KG)698750 %
  • Business News
  • National Pension System ; NPS ; Aadhaar KYC ; KYC ; Aadhaar ; Pension Account ; Now Aadhaar Will Be Able To Open Accounts In The National Pension System Through EKYC, PFRDA Allowed This

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुविधा:अब आधार eKYC के जरिए नेशनल पेंशन सिस्टम में खोल सकेंगे अकाउंट, PFRDA ने दी इसकी इजाजत

नई दिल्ली13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना महामारी को देखते हुए पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (PFRDA) ने नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) के तहत खाता खोलने के लिए ऑनलाइन आधार e-KYC के जरिए ऑनलाइन अकाउंट खोलने की सुविधा दी है। अभी तक eNPS के तहत रजिस्ट्रेशन आधार ऑफलाइन e-KYC या पैन और बैंक खाते के माध्यम से होता था।

कैसे खोल सकेंगे अकाउंट

  1. आधार का उपयोग करके ऑनलाइन NPS अकाउंट खोलने के लिए, सब्सक्राइबर्स को eNPS पोर्टल पर जाना होगा।
  2. सब्सक्राइबर्स को "नेशनल पेंशन सिस्टम" पर क्लिक करना होगा और बाद में "रजिस्ट्रेशन" ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  3. अब खाता खोलने की कैटेगिरी "व्यक्तिगत सब्सक्राइबर" या "कॉर्पोरेट सब्सक्राइबर" में से किसी एक को चुनना होगा। इसके अलावा आपको "भारत का नागरिक" या "भारत का अनिवासी (NRI)" या "भारत का प्रवासी नागरिक (OCI)" में से किसी एक को चुनना होगा।
  4. इसके बाद आपको "आधार ऑनलाइन / ऑफलाइन केवाईसी" ऑप्शन को चुनना होगा। इसके अलवा खाता खोलने के लिए 'टीयर टाइप' का चयन करना होगा।
  5. “आधार ऑनलाइन” प्रक्रिया को जारी रखने के लिए, सब्सक्राइबर्स को UIDAI द्वारा दिए गए “आधार” (12 अंक) या “वर्चुअल आईडी” (16 अंक) नंबर का चयन करने और “जनरेट ओटीपी” पर क्लिक करना होगा।
  6. सब्सक्राइबर को “जनरेट OTP” पर क्लिक करना होगा और आधार में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर मिले OTP को सबमिट करना होगा।
  7. NPS रजिस्ट्रेशन प्रोसेस को पूरा करने के लिए सब्सक्राइबर को अन्य जरूरी जानकारियां भरनी होंगी।
  8. आखिर में आपको NPS में योगदान करना होगा। पेमेंट करने के बाद डिजिटली रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस पुरी हो जाएगी।

क्या है नेशनल पेंशन स्कीम?
नेशनल पेंशन स्कीम (NPS) को जनवरी 2004 में सरकारी कर्मचारियों के लिए शुरू किया गया था। 2009 में इसे सभी कैटेगरी के लोगों के लिए खोल दिया गया। कोई भी व्यक्ति अपने कामकाजी जीवन के दौरान पेंशन खाते में नियमित रूप से योगदान दे सकता है। इकट्ठा हुई धन राशि के एक हिस्से को वह एक बार में निकाल भी सकता है और बची हुई राशि का इस्तेमाल रिटायरमेंट के बाद नियमित आय प्राप्त करने के लिए कर सकता है। व्यक्ति के निवेश और उस पर मिलने वाले रिटर्न से NPS खाता बढ़ता है। इस स्कीम में केंद्र सरकार, राज्य सरकार, निजी क्षेत्र के कर्मचारी और आम नागरिक भी निवेश कर सकते हैं।

NPS ने बीते 1 साल में दिया 12-15% तक का रिटर्न
एनपीएस ग्राहकों को इक्विटी से एक साल में करीब 12.5-17% तक रिटर्न मिला है। प्रेफरेंशियल शेयर ने 12-14% मुनाफा दिया है, जबकि सरकारी बॉन्ड में निवेश के जरिए एनपीएस ग्राहकों ने 10-15% तक रिटर्न कमाया है।