पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX52574.460.44 %
  • NIFTY15746.50.4 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47005-0.25 %
  • SILVER(MCX 1 KG)67877-1.16 %
  • Business News
  • Moody's Terms HDFC Bank's Multiple Digital Outages 'credit Negative'

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मूडीज का बयान:डिजिटल सेवाओं पर रुकावटों से HDFC बैंक की क्रेडिट पर निगेटिव असर पड़ेगा, दूसरे बैंकों के पास जा सकते हैं ग्राहक

नई दिल्ली6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मूडीज का कहना है कि RBI की कार्रवाई से HDFC बैंक के डिजिटल 2.0 अभियान को लॉन्च करने में देरी होगी। - Money Bhaskar
मूडीज का कहना है कि RBI की कार्रवाई से HDFC बैंक के डिजिटल 2.0 अभियान को लॉन्च करने में देरी होगी।
  • बीते दो वर्षों में कई बार इंटरनेट बैंकिंग समेत अन्य सेवाओं में रुकावट आई है
  • HDFC बैंक के डिजिटल 2.0 अभियान पर रोक लगा चुका है RBI

ग्लोबल रेटिंग एजेंसी मूडीज ने सोमवार को कहा कि HDFC बैंक में आई कई रुकावटों के कारण इसकी क्रेडिट पर निगेटिव असर पड़ेगा। रेटिंग एजेंसी का कहना है कि बार-बार होने वाली इन घटनाओं से बैंक के रेवेन्यू पर भी असर पड़ेगा और ग्राहक दूसरे बैंकों के पास जा सकते हैं। बार-बार की रुकावटों के कारण तेजी से बढ़ते डिजिटल ग्राहक आधार के बीच बैंक की ब्रांड परसेप्शन को नुकसान हो सकता है।

नई डिजिटल सेवाएं लॉन्च करने पर लगी रोक

पिछले सप्ताह रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने HDFC बैंक की ओर से लॉन्च की जाने वाली नई डिजिटल सेवाओं पर रोक लगा दी थी। साथ ही RBI ने नए क्रेडिट कार्ड की लॉन्चिंग पर भी रोक लगा दी थी। HDFC बैंक में पिछले दो साल में इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग और पेमेंट सेवाओं में कई रुकावटों के बाद RBI ने यह रोक लगाई थी। ग्राहकों को बेहतर सेवाएं देने के लिए HDFC बैंक डिजिटल 2.0 अभियान लॉन्च करने की योजना बना रहा था।

कमजोर डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्टर के कारण हुई कार्रवाई

मूडीज का कहना है कि HDFC बैंक का डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर कमजोर होने और ऑपरेशन में लचीलापन होने के कारण RBI ने यह कार्रवाई की है। इससे बैंक की क्रेडिट निगेटिव होगी क्योंकि बैंक ग्राहक जोड़ने और ग्राहक सेवा के लिए डिजिटल चैनलों पर भरोसा कर रहा है। हालांकि, रेटिंग एजेंसी ने RBI के कार्रवाई से बैंक के मौजूदा कारोबार और वित्तीय प्रोफाइल पर पड़ने वाले असर को लेकर कोई अनुमान नहीं जताया है।

RBI की कार्रवाई से डिजिटल 2.0 अभियान में देरी होगी

रेटिंग एजेंसी का कहना है कि RBI की कार्रवाई से HDFC बैंक के डिजिटल 2.0 अभियान को लॉन्च करने में देरी होगी। इस अभियान के जरिए बैंक सभी ग्राहकों की डिजिटल ट्रांजेक्शनों को एक प्लेटफॉर्म पर कंसॉलिडेट करना चाहता है। इसमें पेमेंट, सेविंग्स, इंवेस्टमेंट्स, शॉपिंग, ट्रेड, इंश्योरेंस और एडवाइजरी सेवाएं शामिल हैं।

डिपॉजिट के लिहाज से HDFC देश का दूसरा सबसे बड़ा बैंक

डिपॉजिट के लिहाज से HDFC बैंक देश का दूसरा सबसे बड़ा बैंक है। डिजिटल ट्रांजेक्शन में HDFC बैंक को महारत हासिल है। 31 मार्च 2020 को समाप्त हुए वित्त वर्ष में बैंक के 95% रिटेल ट्रांजेक्शन डिजिटल तरीके से हुए थे। वित्त वर्ष 2018 में रिटेल ट्रांजेक्शन में डिजिटल की 85% हिस्सेदारी थी।