पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60967.050.24 %
  • NIFTY18125.40.06 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479130.65 %
  • SILVER(MCX 1 KG)654460.63 %
  • Business News
  • Mobikwik Will Raise Rs 1900 Crore, Issue May Be Launched Before Diwali

IPO को मिली मंजूरी:मोबिक्विक जुटाएगी 1900 करोड़ रुपए, दीवाली से पहले लॉन्च हो सकता है इश्यू

मुंबई18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

डिजिटल पेमेंट्स प्लेटफॉर्म मोबिक्विक को सेबी की तरफ से IPO लाने की मंजूरी मिल गई है। कंपनी इसके जरिए 1,900 करोड़ रुपए जुटाएगी। यह इश्यू दीवाली से पहले आ सकता है। यानी इस महीने के अंत में या अगले महीने की शुरुआत में IPO आ सकता है।

7,400 करोड़ का वैल्यूएशन

मोबिक्विक का वैल्यूएशन 1 अरब डॉलर यानी 7,400 करोड़ रुपए के करीब है। कंपनी अगले हफ्ते तक इस संबंध में इश्यू लाने का फैसला करेगी। इसी समय कंपनी इश्यू का प्राइस बैंड भी बता सकती है। मोबिक्विक का अप्रैल में 70 करोड़ डॉलर का वैल्यूएशन था। इसी वैल्यूएशन पर इसे फंडिंग मिली थी। कंपनी सेबी के पास जब अर्जी की थी, उस समय 1 अरब डॉलर के वैल्यूएशन का अनुमान लगा रही थी।

सॉवरेन वेल्थ फंड के निवेशकों से अच्छा रिस्पांस

कंपनी को सॉवरेन वेल्थ फंड के नि‌वेशकों की ओर से अच्छा रिस्पांस मिला है। फाइनेंशियल निवेशक भी एंकर निवेशक के रूप में IPO में दिलचस्पी दिखा रहे हैं। एंकर निवेशकों को इश्यू खुलने से एक दिन पहले शेयर दिया जाता है। यह शेयर IPO में तय की गई कीमत पर ही दिया जाता है। इसी से पता चलता है कि IPO को कितना डिमांड मिल सकता है।

गुड़गांव की कंपनी है

मोबिक्विक गुड़गांव की कंपनी है। यह पेटीएम, नायका और पॉलिसी बाजार की तरह की कंपनी है। पेटीएम, पॉलिसीबाजार और नायका भी IPO की तैयारी में हैं। इसी कैटेगरी की कंपनी जोमैटो जुलाई में IPO ला चुकी है। इसने निवेशकों को दोगुना का फायदा दिया है। मोबिक्विक की सेबी के पास जमा अर्जी के मुताबिक, कंपनी 1,500 करोड़ रुपए प्राइमरी शेयर को बेचकर जुटाना चाहती है। बाकी की रकम सेकेंडरी ट्रांजेक्शन के जरिए जुटाएगी। इसमें वर्तमान निवेशक अपने शेयर बेचेंगे। कंपनी के सीईओ बिपिन प्रीत सिंह, उपासना टाकू 191 करोड़ रुपए के शेयर को बेचेंगे।

2009 में शुरू हुई थी कंपनी

2009 में कंपनी को बिपिन प्रीत सिंह और उपासना ने शुरू किया था। इसमें बाकी निवेशक जैसे सिकोइया, बजाज फाइनेंस, अमेरिकन एक्सप्रेस, सिस्को और अबूधाबी इन्वेस्टमेंट अथॉरिटी ने भी निवेश किया है। सूत्रों के अनुसार अगले हफ्ते तक पेटीएम को भी सेबी की मंजूरी मिल सकती है। अगर ऐसा हुआ तो दोनों कंपनियां एक ही हफ्ते में अपने IPO ला सकती हैं। पेटीएम 16,600 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखी है। यह देश का सबसे बड़ा IPO होगा। वैसे दीवाली से पहले इसी महीने में पेटीएम, मोबिक्विक सहित कई कंपनियां अपने इश्यू ला सकती हैं।