पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61813.350.83 %
  • NIFTY18507.750.92 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47189-1.48 %
  • SILVER(MCX 1 KG)631020.23 %
  • Business News
  • Lockdown ; Corona Crisis ; Work From Home ; Central Government Makes Big Decision On Work Frame Home, Employees Of IT BPO Companies Will Work From Home Till 31 July, Government Has Increased Exemption Limit

कोविड-19:केन्द्र सरकार का वर्क फ्राॅम होम पर बड़ा फैसला, आईटी-बीपीओ कंपनियों के कर्मचारी 31 जुलाई तक करेंगे घर से काम, सरकार ने बढ़ाई छूट की सीमा

नई दिल्लीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
आईटी-बीपीओ कंपनियों को जुलाई अंत तक बढ़ाना होगा वर्क फ्रॉम होम - Money Bhaskar
आईटी-बीपीओ कंपनियों को जुलाई अंत तक बढ़ाना होगा वर्क फ्रॉम होम
  • वर्क फ्रॉम होम की मौजूदा समयसीमा 30 अप्रैल को खत्म हो रही थी
  • मौजूदा समय में आईटी सेक्टर के 85 फीसदी कर्मचारी घर से काम कर रहे हैं

कोरोनावारयस से संक्रमित मामलों में बढ़त को देखते हुए सरकार ने आईटी कंपनियों के कर्मचारियों के लिए घर से काम करने की छूट को 31 जुलाई तक बढ़ा दिया है। मंगलवार को केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद की अध्यक्षता में हुई प्रदेश सरकारों के मंत्रियों के साथ बैठक में समयसीमा बढ़ाने को मंजूरी दी गई। इससे पहले ये समय सीमा 30 अप्रैल को खत्म हो रही थी। केंद्रीय मंत्री के मुताबिक फिलहाल आईटी सेक्टर के 85 फीसदी कर्मचारी घर से ही काम कर रहे हैं और आने वाले समय में वर्क फ्रॉम होम सामान्य प्रक्रिया हो जाएगी। उनके मुताबिक घर से काम सही तरीके से हो इसके लिए ज्यादा से ज्यादा छूट कंपनियों को दी गई है। जिससे उनके काम काज में कोई असर न पड़े।

कोरोना से निपटने के लिए नए तकनीक पर काम करें युवा कारोबारी
रविशंकर प्रसाद ने इसके साथ ही युवा कारोबारियों को नई तकनीक और खोज सामने रखने को कहा है जिससे कोरोना संकट से निपटने में मदद मिले। उनके मुताबिक सरकार कोरोना संकट को एक अवसर के रूप में भी देख रही है, जिससे आईटी सेक्टर में बड़े बदलाव लाए जा सकें।

फीचर फोन के लिए जल्द लॉन्च किया जाएगा आरोग्य सेतु ऐप
स्मार्टफोन यूजर्स के बीच लोकप्रिय हो चुके कोरोनावायरस ट्रैकिंग आरोग्य सेतु ऐप को जल्द ही फीचर फोन के लिए भी लॉन्च किया जाएगा। केन्द्रीय दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इस बात की जानकारी दी है। इससे 4 करोड़ यूजर्स को फायदा होगा। 2 अप्रैल को लॉन्च हुए इस ऐप को अब तक 7.5 करोड़ यूजर्स ने डाउलनोड किए हैं। केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्री ने कहा कि उनका मंत्रालय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लगातार फेक न्यूज की निगरानी कर रहा है और उनसे सख्ती से निपटा जा रहा है।