पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61305.950.94 %
  • NIFTY18338.550.97 %
  • GOLD(MCX 10 GM)478990 %
  • SILVER(MCX 1 KG)629570 %
  • Business News
  • LIC News; Life Insurance Corporation Of India Gives Rs 1.34 Lakh Crore Claims To Policy Holders

पॉलिसीधारकों को 1.34 लाख करोड़ दिया:LIC ने 1.84 लाख करोड़ रुपए का नया प्रीमियम हासिल किया, 3.45 लाख नए एजेंट जोड़े

मुंबई6 महीने पहलेलेखक: अजीत सिंह
  • कॉपी लिंक
  • फर्स्ट ईयर प्रीमियम में इसकी बाजार हिस्सेदारी इस साल मार्च में 64.74% रही है
  • पेंशन एवं ग्रुप स्कीम में नए बिजनेस प्रीमियम में 1 लाख 27 हजार 768 करोड़ रुपए का प्रीमियम मिला

देश की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी और देश निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) ने कोरोना के समय में 1.84 लाख करोड़ रुपए का नया प्रीमियम हासिल किया है। इससे भी चौंकाने वाली बात यह है कि इसने इसी दौरान 1.34 लाख करोड़ रुपए अपने पॉलिसीधारकों को दिया है। यह पैसा पॉलिसीधारकों को दावों के रूप में दिया गया है।

चुनौती भरे समय में बेहतरीन प्रदर्शन

दरअसल पिछले 1 साल में कोरोना की वजह से चुनौती भरा समय रहा है। लेकिन LIC ने इन सभी को पीछे छोड़ते हुए बेहतरीन कारोबार किया है। साथ ही उसने अपने पॉलिसीधारकों का इसी तर्ज पर ख्याल भी रखा है। इसके लिए उसने ढेर सारी योजनाएं भी शुरू की। वित्तीय वर्ष 2020-21 में इसने पहली बार फर्स्ट ईयर प्रीमियम इनकम के रूप में 56 हजार 406 करोड़ रुपए हासिल किया है। यह पैसा इंडिविजुअल अश्योरेंस बिजनेस के तहत आया है। यह एक साल पहले की तुलना में 10.11% ज्यादा है।

2.10 करोड़ पॉलिसीज की बिक्री की है

इसी तरह इसने इसी समय में 2.10 करोड़ पॉलिसीज की बिक्री की है। इसमें से 46.72 लाख पॉलिसीज मार्च महीने में अकेले बेची गई हैं। यानी एक साल पहले की तुलना में इसमें 2.99 गुना की बढ़त रही है। पॉलिसीज के मामले में इसकी बाजार हिस्सेदारी 81.04% मार्च 2021 में रही है। जबकि पिछले साल मार्च में यह 74.58% थी। फर्स्ट ईयर प्रीमियम में इसकी बाजार हिस्सेदारी इस साल मार्च में 64.74% रही है जबकि पूरे साल के दौरान यह 66.18% रही है।

पेंशन एवं ग्रुप स्कीम का भी अच्छा प्रदर्शन

LIC की पेंशन एवं ग्रुप स्कीम्स वर्टिकल भी नया रिकॉर्ड बनाया है। नए बिजनेस प्रीमियम में इसने 1 लाख 27 हजार 768 करोड़ रुपए की रकम हासिल की है। 1 साल पहले यह 1 लाख 26 हजार 749 करोड़ रुपए था। नई स्कीम के रूप में भी LIC ने एक रिकॉर्ड बनाया है। कंपनी ने इसी दौरान 3 लाख 45 हजार 469 नए एजेंट जोड़े हैं। इसके साथ ही इसके कुल एजेंट्स की संख्या 13 लाख 53 हजार 808 हो गई है। इस साल में कंपनी ने 16,564 एमडीआरटी क्वालीफायर्स का निर्माण किया है। 26,997 सेंचुरियन एजेंट्स को भी क्रिएट किया है।

2020-21 में LIC और इसके बीएंडएसी चैनल ने 2.46 लाख पॉलिसीज बेची हैं और 1,862.73 करोड़ रुपए का प्रीमियम हासिल किया है। 1 साल पहले की तुलना में प्रीमियम में 23.46 पर्सेंट की ग्रोथ रही है।

यूलिप पर भी किया फोकस

कुछ समय पहले तक कंपनी ने यूनिट लिंक्ड प्लान यानी यूलिप पर फोकस कम कर दिया था, पर अब इसने मजबूती से इस सेगमेंट में वापसी की है। इसके लिए इसने SIIP और निवेश प्लस जैसे दो नए प्रोडक्ट को लांच किया है। इसके तहत इसने 90 हजार पॉलिसीज की बिक्री की है। इससे 800 करोड़ रुपए का प्रीमियम मिलेगा। इसमें कंपनी ने नेट असेट वैल्यू यानी NAV, पोर्टफोलियो और स्विच के विकल्पों को ऑन लाइन कर दिया है।

2.19 करोड़ दावों को सेटल किया

दावों की बात करें तो कंपनी ने 2020-21 के दौरान 2.19 करोड़ मैच्योरिटी, मनी बैक और एन्यूटीज के दावों को सेटल किया है। इसके तहत पॉलिसीधारकों को 1.16 लाख करोड़ रुपए का पेमेंट किया है। इसी दौरान 9.59 लाख मृत्यु के दावों को भी सेटल किया है। इसके तहत 18,137 करोड़ रुपए का पेमेंट किया है।

डिजिटल पहल शुरू की

LIC ने कोरोना से हालांकि पहले ही तमाम डिजिटल पहल शुरू किया था। इसका इसे कोरोना के समय में फायदा मिला है। इससे ग्राहकों के अनुभव में सुधार हुआ है। रिन्यूअल का प्रीमियम, लोन का पेमेंट और लोन के ब्याज का पेमेंट ऑन लाइन किया जा सकता है। इसे इंटरनेट बैंकिंग, क्रेडिट या डेबिट कार्ड के साथ यूपीआई, पेटीएम, फोन पे, गूगल पे और अमेजन पे जैसे प्लेटफॉर्म के तहत किया जा सकता है।

LIC के मुताबिक, सभी पेमेंट चैनल फ्री हैं और इसके लिए किसी तरह का चार्ज नहीं लगता है। प्रीमियम का पेमेंट भी इसी तरह से डायरेक्ट डेबिट के जरिए किया जा सकता है। LIC ने हाल में किसी भी सेटेलाइट ऑफिस से रिवाइवल सुविधा की भी शुरुआत की है।