• Home
  • Jobs Lost During Lockdown, ABVKY ESIC Update: Claim 50 Percent Of Your Salary For UP To Three Month, Know Benefits and Eligibility

फायदे की बात /नौकरी छूट गई है तो सैलरी का 50% हिस्सा 3 महीने तक मिलता रहेगा, सरकार 44 हजार करोड़ रुपए का फंड जारी करेगी

आप चाहते हैं कि आपको भी फायदा मिले तो  इसके लिए ईएसआईसी के डाटा बेस में आपका आधार और बैंक खाता लिंक होना चाहिए। तभी आपको किसी तरह का फायदा मिल सकेगा आप चाहते हैं कि आपको भी फायदा मिले तो इसके लिए ईएसआईसी के डाटा बेस में आपका आधार और बैंक खाता लिंक होना चाहिए। तभी आपको किसी तरह का फायदा मिल सकेगा

  • गलत व्यवहार, कानूनी कार्रवाई से बेरोजगार हुए तो फायदा नहीं मिलेगा

मनी भास्कर

Oct 17,2020 12:52:24 PM IST

मुंबई. कोरोना संकट में अगर आपकी नौकरी छूट गई है तो भी सैलरी का 50 पर्सेंट हिस्सा मिलता रहेगा। यही नहीं, अगर दोबारा नौकरी मिल गई है तो भी आपको यह सुविधा मिलती रहेगी। हालांकि इसके लिए आपको कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआईसी) से अपने आपको जोड़ना होगा। आप यह दावा बेरोजगारी राहत पाने के तहत कर सकते हैं। इसके तहत अचानक नौकरी छूटने के बाद तीन महीने तक एक तय आर्थिक मदद दी जाती है।

जल्द ही शुरू होगा बड़ा अभियान

दरअसल अटल बीमित कल्याण योजना (एबीकेवाई) के लिए सरकार जल्द ही बड़ा अभियान शुरू करने जा रही है। सरकार की योजना है कि इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाया जाए ताकि इसका फायदा बहुत से लोगों को मिल सके। सरकार इसके लिए 44 हजार करोड़ रुपए का फंड जारी करेगी।

ईएसआईसी की अटल बीमित योजना में रजिस्ट्रेशन कराना होगा

अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको ईएसआईसी की अटल बीमित व्‍यक्ति कल्‍याण योजना के लिए रजिस्ट्रेशन कराना होगा। आप कर्मचारी राज्य बीमा निगम की वेबसाइट पर जाकर इस योजना का फॉर्म डाउनलोड कर अप्लाई कर सकते हैं। अगर आप ऑर्गनाइज्ड सेक्टर में नौकरी करते हैं और कंपनी आपका पीएफ या ईएसआईसी हर महीने आपके वेतन से काटती है तो आप इसका फायदा ले सकते हैं।

दिसंबर तक लाभ उठा सकते हैं

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यह फायदा आप दिसंबर तक उठा सकते हैं। यानी दिसंबर तक आपकी नौकरी चली जाती है तो भी आप इसके योग्य हैं। यह फायदा तभी मिलेगा जब आप ईएसआईसी के सदस्य होंगे। सितंबर में ही ईएसआईसी ने अटल बीमित कल्याण योजना को एक जुलाई 2020 से 30 जून 2021 तक के लिए बढ़ाने का फैसला किया था। नए सामाजिक सुरक्षा कोड कानून के तहत सरकार ने यह भी फैसला किया है कि वह ईएसआईसी की सेवाओं का दायरा देश के सभी 740 जिलो में बढ़ाएगी।

आयुष्मान भारत स्कीम के तहत करार

रोजगार मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि इसके लिए आयुष्‍मान भारत स्‍कीम के तहत रजिस्टर्ड अस्‍पतालों और थर्ड पार्टी सर्विस प्रोवाइडरों के साथ करार किया गया है। अगर किसी गलत व्यवहार, निजी कारण या फिर किसी कानूनी कार्रवाई के चलते बेरोजगारी की स्थिति पैदा होती है तो इस स्कीम का फायदा नहीं मिलेगा। ईएसआईसी के डाटा बेस में इंश्योर्ड व्यक्ति का आधार और बैंक खाता लिंक होना चाहिए। तभी उसे किसी तरह का फायदा मिल सकेगा।

नौकरी छूटने के 30 दिनों के बाद आवेदन किया जा सकता है

इसकी शर्तों के मुताबिक नौकरी छूटने के 30 दिनों के बाद ही इस स्कीम के लिए अब आवेदन किया जा सकता है। पहले यह समय सीमा 90 दिनों की थी। आपको इस स्कीम के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आपका आवेदन सही पाया जाता है और शर्तों को पूरा करता है तो मंजूरी मिलने के 15 दिनों के बाद आपके बैंक खाते में रकम ट्रांसफर की जाएगी।

प्रवासी मजदूरों का ध्यान रखने का संदेश

इसके जरिए सरकार यह संदेश देना चाहती है कि वह प्रवासी मजदूरों का ध्यान रख रही है। क्योंकि ऐसे आरोप लगे हैं कि सरकार प्रवासी मजदूरों पर कोई ध्यान नहीं दे रही है। मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि करीबन 400 दावे रोजाना इसके जरिए मिल रहे हैं। पहले इसके जरिए 25 पर्सेंट ही सैलरी मिलती थी, बाद में बढ़ाकर 50 पर्सेंट कर दिया गया। ईएसआईसी करीबन 3.4 करोड़ परिवारों को मेडिकल इंश्योरेंस के जरिए सेवा देती है।

X
आप चाहते हैं कि आपको भी फायदा मिले तो  इसके लिए ईएसआईसी के डाटा बेस में आपका आधार और बैंक खाता लिंक होना चाहिए। तभी आपको किसी तरह का फायदा मिल सकेगाआप चाहते हैं कि आपको भी फायदा मिले तो इसके लिए ईएसआईसी के डाटा बेस में आपका आधार और बैंक खाता लिंक होना चाहिए। तभी आपको किसी तरह का फायदा मिल सकेगा

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.