पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX48832.030.06 %
  • NIFTY14617.850.25 %
  • GOLD(MCX 10 GM)470210.83 %
  • SILVER(MCX 1 KG)689701.52 %
  • Business News
  • Jio ; Airtel ; Mukesh Ambani ; Reliance Jio Joined Hands With Airtel To Provide Better Facilities To Its Users, Bought Spectrum From Airtel For 1497 Crores

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टेलीकॉम:अपने यूजर्स को बेहतर सुविधा देने के लिए रिलायंस जियो ने एयरटेल से मिलाया हाथ, 1497 करोड़ में एयरटेल से खरीदा स्पेक्ट्रम

मुंबई10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

रिलायंस जियो ने आंध्र प्रदेश, दिल्ली और मुंबई सर्किल में 800 मेगाहर्ट्ज बैंड में कुछ स्पेक्ट्रम खरीदने के लिए भारती एयरटेल के साथ समझौता किया है। यह सौदा करीब 1,497 करोड़ रुपए का है। बयान के अनुसार रिलायंस जियो 800 मेगाहर्ट्ज बैंड में आंध्र प्रदेश, दिल्ली और मुंबई में अतिरिक्त स्पेक्ट्रम का उपयोग कर अपने ग्राहकों को बेहतर सेवाएं दे सकेगी।

1,497 करोड़ रुपए की हुई डील
रिलायंस जियो की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक यह सौदा करीब 1,497 करोड़ रुपए का है। बयान के अनुसार आंध्र प्रदेश, दिल्ली और मुंबई सर्किल में रिलायंस जियो के पास कुल 7.5 मेगाहर्ट्ज अतिरिक्त स्पेक्ट्रम उपलब्ध होगा। रिलायंस जियो 800 मेगाहर्ट्ज बैंड में आंध्र प्रदेश में 3.75, दिल्ली में 1.25 और मुंबई में 2.50 मेगाहर्ट्ज अतिरिक्त स्पेक्ट्रम का उपयोग कर अपने ग्राहकों को बेहतर सेवाएं दे सकेगा। इन तीनों सर्किल में रिलायंस जियो के पास कुल 7.5 मेगाहर्ट्ज अतिरिक्त स्पेक्ट्रम उपलब्ध होगा।

जियो के अनुसार नए स्पेक्ट्रम के जुड़ने के साथ ही रिलायंस जियो का बुनियादी ढांचा और नेटवर्क क्षमता और बेहतर होगी। स्पेक्ट्रम के उपयोग के लिए हुए समझौते के बाद रिलायंस जियो के पास मुंबई सर्किल के 800 मेगाहर्ट्ज बैंड में 2X15 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम तथा आंध्र प्रदेश और दिल्ली सर्किल में 800 मेगाहर्ट्ज बैंड में 2X10 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम उपलब्ध होंगे। कंपनी के अनुसार इससे इन सर्किलों में ग्राहक सेवाओं को और मजबूत किया जा सकेगा।

भारत में जियो के 40 करोड़ यूजर
देश में जियो के ग्राहको की संख्या 40 करोड़ के करीब है। वहीं एयरटेल के ग्राहकों की संख्या 37 करोड़ के करीब था। देश में कुल मोबाइल फोन ग्राहकों की संख्या 96 करोड़ है।