पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60967.050.24 %
  • NIFTY18125.40.06 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479130.65 %
  • SILVER(MCX 1 KG)654460.63 %
  • Business News
  • Gold Imports Increased By 6 And A Half Times In The Month Of September, 250% More Than The Pre covid Level

सोने की मांग बढ़ी:सितंबर महीने में सोने का आयात साढ़े 6 गुना बढ़ा, प्री-कोविड लेवल से भी 250% ज्यादा

नई दिल्ली21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

त्योहारों के बीच देश में सोने की मांग पटरी पर लौट आई है। बीते महीने यानी सितंबर में 91 टन सोने का आयात हुआ। यह सितंबर 2020 के मुकाबले 658% और कोविड महामारी शुरू होने से पहले यानी सितंबर 2019 के मुकाबले 250% ज्यादा है। पिछले साल के मुकाबले सोने की कीमतों में 20% कमी और इस साल त्योहारों में बेहतर मांग की संभावना ने सोना आयात बढ़ा दिया है।

पिछले साल सितंबर में सिर्फ 12 टन सोने का आयात हुआ था। सितंबर 2019 में भी केवल 26 टन सोने का आयात हुआ था। तब कीमतें करीब 26% बढ़ गई थीं, जिसके चलते मांग कमजोर हो गई थी। लेकिन इस साल सितंबर में सोने का आयात उछलकर 91 टन हो गया। सरकारी सूत्रों ने सोमवार को बताया कि बीते माह 37,898 करोड़ का सोना आयात किया गया। इसके मुकाबले बीते साल सितंबर में सिर्फ 4,466 करोड़ रुपए के सोने का आयात हुआ था। इस हिसाब से बीते महीने सोना आयात 748% बढ़ा है।

इस साल अब तक 2,750 रु. घटे भाव
सोने कीमत में इस साल अब तक करीब 2,750 रुपए प्रति 10 ग्राम की कमी आई है। जनवरी में जेवराती सोना जहां 45,250 रुपए प्रति 10 ग्राम के आसपास था, वहीं इस माह इसकी कीमत करीब 42,500 रुपए रह गई। भाव घटने के चलते मांग को सपोर्ट मिला। इसके अलावा बड़े त्योहार सामने हैं, लिहाजा ज्वैलर्स ने सोना खरीदा है।

अक्टूबर में और बढ़ सकता है आयात
सोने का आयात बढ़ने का सिलसिला अक्टूबर में भी जारी रह सकता है। इस महीने दशहरा और फिर अगले महीने दिवाली है। इस बीच कई ऐसे मौके आते हैं, जब सोना खरीदना शुभ माना जाता है। केडिया एडवायजरी के डायरेक्टर अजय केडिया ने कहा है कि इस माह ज्यादा सोना आयात हो सकता है। मांग जोरदार रहेगी, लिहाजा कीमतों में तेजी की भी संभावना है।

सोना आयात में उछाल के चार बड़े कारण

  • लो बेस यानी सितंबर 2020 में काफी कम आयात होना
  • सोने की कीमत करीब 6 माह के निचले स्तर पर आना
  • त्योहारों के चलते सितंबर-अक्टूबर में मांग ज्यादा रहती है
  • त्योहारों के बाद शादियों के लिए सोने की खरीद बढ़ी है