पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61716.05-0.08 %
  • NIFTY18418.75-0.32 %
  • GOLD(MCX 10 GM)473880.43 %
  • SILVER(MCX 1 KG)637561.3 %
  • Business News
  • Gold Demand Trends; Dainik Bhaskar Ground Report Maharashtra Mumbai

सोने की खरीदी पर ग्राउंड रिपोर्ट:त्योहारी सीजन में ज्वेलर्स को अच्छी बिक्री की उम्मीद, लेकिन बजट देखकर खरीदारी कर रहे ग्राहक

मुंबई7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नवरात्रि के साथ त्योहारी सीजन की शुरुआत हो गई है। यहां से लेकर दीवाली तक सोने की खरीदारी को शुभ माना जाता है। खासकर नवरात्रि के पहले दिन और फिर दीवाली के समय ज्यादातर लोग सोने और चांदी की खरीदी करते हैं। मुंबई के जवेरी बाजार सहित बांद्रा, अंधेरी और घाटकोपर में ज्वेलरी व्यापारियों को इस बार अच्छे व्यापार की उम्मीद कम ही लग रही है।

जवेरी बाजार में ज्वेलर्स के यहां नवरात्रि के पहले दिन अच्छी खासी भीड़ दिखने को मिली। हालांकि ज्वेलरी में कोई नया ट्रेंड तो नहीं आया, पर ज्वेलर्स का मानना है कि अभी इस बार ज्यादातर ग्राहक बहुत सावधानी से और जरूरी सामान पर ही फोकस कर रहे हैं।

अब लोग सोने में निवेश करना चाहते हैं
जवेरी बाजार में कारोबार करने वाले कुमार जैन कहते हैं कि कोरोना के बाद लोगों का उत्साह तो दिख रहा है। कोविड-19 के कारण शादियों में होने वाले खर्चे बचे हैं, तो लोग अब सोने में निवेश करना चाहते हैं। अभी तक जो ग्राहकों की भीड़ दिख रही है, उससे लग रहा है कि इस साल अच्छा कारोबार होने की उम्मीद है।

ग्राहक आ रहे, पर खरीदी औसत हो रही
बोरिवली में ज्वेलरी की सबसे बड़ी दुकानों में से एक पी.एन. गाडगिल ज्वेलर्स के मुताबिक, ग्राहक तो आ रहे हैं, पर औसत खरीदी हो रही है। ग्राहकों की संख्या में कमी नहीं है। हो सकता है कि आने वाले दिनों में ज्यादा खरीदारी हो।

जरूरी सामान खरीदने पर फोकस
अंधेरी में ज्वेलरी की दुकान में शॉपिंग करने आई तेजस्विनी पुरे बताती हैं कि फिलहाल उनका फोकस बस जरूरी सामानों पर है। चूंकि त्योहारी सीजन में गहनों की खरीदी शुभ माना जाता है, इसलिए वे खरीदारी करने आई हैं, पर उनका बजट एक तोले से भी कम की खरीदी का है। मालाड में अर्चना पाठक की भी कुछ इसी तरह की राय है। वे कहती हैं कि खरीदारी तो करनी ही है, पर हमें अपना बजट भी देखना होगा।

सोने का भाव अभी ठीक-ठाक
वैसे सोने की कीमतों से किसी को शिकायत नहीं है। पाठक कहती हैं कि सोने की कीमतें देखें तो पिछले साल की ही तरह हैं, बल्कि कम ही हैं। अगर यह ज्यादा होती तो वजन में कम सोना खरीदते, पर सोने का भाव अभी ठीक-ठाक है।
दुकानें बंद करने को लेकर दुकानदारों में नाराजगी
कुछ दुकानदारों की नाराजगी इस बात को लेकर है कि ज्वेलर्स की दुकानें रात 9 बजे से पहले बंद करने का आदेश है। उनका कहना है कि दुकानें खोलने का समय रात 10 बजे तक रहता तो अच्छा होता। दुकानें 9 बजे बंद करने का मतलब है कि साढ़े 8 बजे के बाद ग्राहकों को दुकान के अंदर नहीं लिया जाता और 8.45 तक ग्राहकों को खरीदारी पूरी करने के लिए कहा जाता है।

सितंबर में 91 टन सोने का आयात हुआ
त्योहारों के बीच देश में सोने की मांग पटरी पर लौट आई है। सितंबर में 91 टन सोने का आयात हुआ था। यह सितंबर 2020 के मुकाबले 658% और कोविड महामारी शुरू होने से पहले यानी सितंबर 2019 के मुकाबले 250% ज्यादा है। पिछले साल के मुकाबले सोने की कीमतों में 20% कमी और इस साल त्योहारों में बेहतर मांग की संभावना ने सोना आयात बढ़ा दिया है।

सितंबर 2019 में 26 टन सोने का आयात हुआ था
पिछले साल सितंबर में सिर्फ 12 टन सोने का आयात हुआ था। सितंबर 2019 में भी केवल 26 टन सोने का आयात हुआ था। तब कीमतें करीब 26% बढ़ गई थीं और मांग कमजोर हो गई थी, लेकिन इस साल सितंबर में सोने का आयात उछलकर 91 टन हो गया।