पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX48690.8-0.96 %
  • NIFTY14696.5-1.04 %
  • GOLD(MCX 10 GM)475690 %
  • SILVER(MCX 1 KG)698750 %
  • Business News
  • China Tightens Its Grip On Technology Firms, Sent Notices To 34 Big Companies, From Tencent To ByteDance

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टेक कंपनियों के बेलगाम विस्तार पर लगेगी रोक:जैक मा के जरिए चीन ने कसा टेक्नोलॉजी कंपनियों पर शिकंजा, अच्छे दिन बीतने का संकेत है 34 बड़ी कंपनियों को नोटिस

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जैक मा पर हुए चीन की सरकार के हालिया हमलों का असर कुछ हफ्तों में नहीं दिखेगा। लेकिन यह तय है कि देश की समूची टेक्नोलॉजी इंडस्ट्री को सरकार की नजर लग गई है। सरकार ने पहले अलीबाबा पर दबदबे का गलत इस्तेमाल करने के लिए रिकॉर्ड 2.8 अरब डॉलर (21,057 करोड़ रुपए) का जुर्माना लगाया। उसके बाद ऐंट ग्रुप कंपनी का कारोबारी ढांचा बदलने का हुक्म जारी किया।

देश की 34 बड़ी कंपनियों को नोटिस

मंगलवार को चीनी रेगुलेटरों ने देश की 34 बड़ी कंपनियों को नोटिस भेजा था। नोटिस टेनसेंट से लेकर टिकटोक की मालिक बाइटडांस तक को भेजा गया। उसमें साफ संदेश दिया गया है- हद में रहें। इसके मायने यह है कि चीन के इंटरनेट वर्ल्ड में बरसों से चल रही विस्तार की सरपट दौड़ रुकेगी। अलीबाबा, ऐंट या टेनसेंट जैसी दिग्गज डेटा और वित्तीय ताकत से छोटी कंपनियों को धौंस में नहीं ले सकेंगी।

घटेगी कंपनियों की खरीद-फरोख्त

शंघाई की कंपनी चाइना स्किनी के फाउंडर मार्क टैनर के मुताबिक ऐंट को नियमों में बांधा जाना और अलीबाबा पर अरबों का जुर्माना, बाकी कंपनियों को विस्तार योजनाएं कंट्रोल में रखने की चेतावनी है। वहां इंटरनेट दिग्गज कंपनियों की तरफ से दूसरी कंपनियों की खरीदी कम होगी और नियमों का पालन बढ़ेगा। ऐंट को कंज्यूमर लेंडिंग बिजनेस से देश की सबसे बड़ी पेमेंट सर्विस को अलग करना होगा।

सुस्त होगी दिग्गजों की ग्रोथ की राह

टेनसेंट और मितुआन जैसी दिग्गजों को भी ग्रोथ की राह पर बढ़ते अपने कदम धीमे करने होंगे। हालांकि इन दोनों दिग्गतों के खिलाफ सरकार की तरफ से कोई सख्ती नहीं हुई है। पिछले दशक की शुरुआत में अलीबाबा के जैक मा और टेनसेंट के पोनी मा ने रिटेल से टेलीकॉम सेक्टर में एंट्री करके देश में इंटरनेट एंपायर खड़ा किया था। लेकिन बाजार पर इनका एकाधिकार बनने और उसके गलत इस्तेमाल से सरकार और रेगुलेटर चौकन्ने हो गए।

ऐंट के IPO के वक्त जैक ने किया था चुभता कमेंट

नवंबर 2020 में ऐंट के रिकॉर्ड IPO से पहले जैक मा ने बैंकिंग रेगुलेटर्स पर चुभता हुआ कमेंट कर दिया। उसके बाद जो कार्रवाई का दौर शुरू हुआ, उससे उनके टेक एंपायर की हालत बिगड़ने लगी। अक्टूबर से अब तक अलीबाबा का वैल्यूएशन 200 अरब डॉलर (15,03,870 करोड़ रुपए) नीचे आ चुका है।

कसी जाएगी टेनसेंट से लेकर मेतुआन तक की नकेल

टेनसेंट से लेकर मेतुआन जैसी दिग्गज कंपनियां भी अपनी फील्ड में दबदबे की वजह से जल्द कार्रवाई की जद में आ सकती हैं। कम्युनिटी ई-कॉमर्स के क्षेत्र में विस्तार कर रही मेतुआन मर्चेंट से एक्सक्लूसिविटी क्लॉज साइन कराने के कारोबारी चलन की वजह से चलते फंस सकती है।

छह गुना कम हुआ ऐंट का वैल्यूएशन

अलीपे पेमेंट सर्विस को ऐंट के दूसरे प्रोडक्ट से गलत तरीके से कनेक्शन पर रोक लगने से जैक के ग्रुप की कारोबारी संभावनाओं पर ग्रहण लग सकता है। IPO के समय इसका 30 गुना से ज्यादा का वैल्यूएशन आज दूसरे बैंकों जितना 5 गुना हो सकता है। जैक की कंपनी को कोई भी नया फाइनेंशियल सर्विस शुरू करने से पहले एप्लिकेशन देनी पड़ेगी और रजिस्ट्रेशन कराना पड़ेगा, जो ब्यूरोक्रेसी के चक्कर में फंस सकता है।

खबरें और भी हैं...