पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX48690.8-0.96 %
  • NIFTY14696.5-1.04 %
  • GOLD(MCX 10 GM)475690 %
  • SILVER(MCX 1 KG)698750 %
  • Business News
  • Bank Of Baroda Account; Customer Will Not Get Any Help In Other Branch

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बैंक ऑफ बड़ौदा की मनमानी:जहां आपका खाता है उसी ब्रांच से आपका काम होगा, दूसरी ब्रांच में कोई मदद नहीं मिलेगी

मुंबईएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
देश में बैंक ऑफ बड़ौदा आईटी के मामले में सबसे बेहतर सिस्टम अपनाने वाला बैंक है। इसके 19 देशों में 13 करोड़ ग्राहक हैं। इसी बैंक में देना बैंक और विजया बैंक का विलय हुआ है। तीनों मिलाकर अब एक बैंक हैं। इसका ग्रॉस NPA यानी बुरे फंसा कर्ज 8.48% रहा है - Money Bhaskar
देश में बैंक ऑफ बड़ौदा आईटी के मामले में सबसे बेहतर सिस्टम अपनाने वाला बैंक है। इसके 19 देशों में 13 करोड़ ग्राहक हैं। इसी बैंक में देना बैंक और विजया बैंक का विलय हुआ है। तीनों मिलाकर अब एक बैंक हैं। इसका ग्रॉस NPA यानी बुरे फंसा कर्ज 8.48% रहा है
  • बैंक ने एक ग्राहक को एनईएफटी करने से मना कर दिया
  • दूसरे ग्राहक की स्टैंप ड्यूटी भरने से मना कर दिया

देश में बड़े बैंकों में शामिल बैंक ऑफ बड़ौदा गजब का नियम अपनाया है। बैंक की जिस शाखा में आपका खाता होगा, उसी शाखा से ही आपको सभी काम निपटाने होंगे। दूसरी शाखा में आप गए तो बैंक आपका काम नहीं करेगा।

मुंबई के बोरीवली ब्रांच का है मामला

मामला मुंबई के बोरीवली पूर्व ब्रांच का है। इस ब्रांच में मंगलवार को दो ग्राहक पहुंचे। एक ग्राहक को घर खरीदने के लिए स्टैंप ड्यूटी का पेमेंट करना था। दूसरे ग्राहक को नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (NEFT) करना था। दोनों का खाता इस ब्रांच में नहीं था। बैंक के स्टॉफ ने स्टैंप ड्यूटी वाले ग्राहक को कहा कि आप अपने उसी ब्रांच में जाइए जहां आपका खाता है। ग्राहक ने कहा कि वहां पर सर्वर डाउन है।

बैंक के स्टॉफ ने एक नहीं सुनी

बैंक के स्टॉफ ने कहा कि फिर हम यहां से नहीं करेंगे। ग्राहक बार-बार कहता रहा कि एक दिन बाद उसे 6% स्टैंप ड्यूटी भरनी होगी, जो अभी 3% है। इससे उसे लाखों रुपए का नुकसान होगा। पर बैंक ने उसकी एक भी नहीं सुनी और उसे वापस लौटा दिया। बता दें कि महाराष्ट्र में घर खरीदने पर 31 मार्च तक 3% स्टैंप ड्यूटी है जो 1 अप्रैल से 6% हो जाएगी।

बैंक ने कहा अपनी शाखा में जाओ

दूसरे ग्राहक को कुछ पैसों का NEFT करना था। इस ग्राहक का खाता मुंबई के मसजिद बंदर इलाके में था। बैंक ने फिर से वही जवाब इस ग्राहक को भी दिया और कहा कि उसी शाखा में जाइए। ग्राहक ने कहा कि वहां आने जाने में 4 घंटे लगेंगे और अगर ऐसा है तो फिर आपके आईटी सिस्टम का क्या मतलब है? बैंक के स्टॉफ ने कहा कि आपको वहीं जाना होगा। यहां से नहीं करेंगे।

ब्रांच मैनेजर पूरी तरह से ग्राहक पर ही भड़क गए

ग्राहक ने जब ब्रांच मैनेजर से शिकायत की तो ब्रांच मैनेजर पूरी तरह भड़क गए। उन्होंने कहा कि स्टाफ सही कह रहा है। यहां से हम नहीं करेंगे। जब ग्राहक ने कहा कि आप लिख कर दे दीजिए कि नहीं करेंगे तो ब्रांच मैनेजर ने कहा कि हम वह भी नहीं देंगे और तुमको शिकायत भी अपने मेन ब्रांच से ही करनी होगी। इस मामले की शिकायत जब बैंक के ऊपरी अधिकारियों तक की गई तो बैंक स्टाफ ने NEFT फॉर्म ले तो लिया, पर यह ट्रांसफर भी करीबन 3 घंटे बाद किया गया।

हालांकि इस दौरान बैंक का स्टाफ टाल मटोल करता रहा और 1 घंटे बिठाने के बाद किसी तरह से ग्राहक का NEFT का फॉर्म लिया।

खाली-खाली रहती है ब्रांच

बता दें कि बैंक ऑफ बड़ौदा की यह ब्रांच बोरीवली रेलवे स्टेशन के पास है। बैंक में ज्यादा भीड़ भी नहीं होती है। पर यहां का स्टाफ और ब्रांच मैनेजर ने अघोषित रूप से यह फैसला किया है कि किसी और ब्रांच का काम यहां पर नहीं होगा। इस वजह से बैंक के ढेर सारे ग्राहकों को इस तरह की दिक्कतों का सामना करना होता है।

19 देशों में 13 करोड़ ग्राहक हैं

देश में बैंक ऑफ बड़ौदा तीसरा सबसे बड़ा बैंक है। आईटी के मामले में यह सबसे बेहतर सिस्टम अपनाने वाला बैंक है। इसके 19 देशों में 13 करोड़ ग्राहक हैं। इसी बैंक में देना बैंक और विजया बैंक का विलय हुआ है। तीनों मिलाकर अब एक बैंक हैं। इसका ग्रॉस NPA यानी बुरे फंसा कर्ज 8.48% रहा है। बैंक का कुल बिजनेस करीबन 16 लाख करोड़ रुपए का है। इसमें से 9.54 लाख करोड़ रुपए डिपॉजिट है जबकि 6.33 लाख करोड़ रुपए उधारी है।