पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59141.160.71 %
  • NIFTY17629.50.63 %
  • GOLD(MCX 10 GM)46430-1.35 %
  • SILVER(MCX 1 KG)62034-1.58 %
  • Business News
  • Are You Traveling With Go Air? After The Ticket, Money Will Have To Be Given Separately For Each Seat, The Company Said This Is The Rule

कमाई का नया जरिया:क्या आप गो एयर से यात्रा कर रहे हैं? टिकट के बाद हर सीट के लिए अलग से देना होगा पैसा, कंपनी ने कहा नियम यही है

मुंबईएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
दरअसल अभी तक यह होता था कि आप किसी विशेष सीट जैसे विंडो, या आगे की या फिर ज्यादा जगह वाली सीट की मांग करते हैं तो आपको इसके लिए अतिरिक्त पैसा भरना होता है। गो एयर ने सभी सीटों के लिए अतिरिक्त पैसे का नियम लगाया है - Money Bhaskar
दरअसल अभी तक यह होता था कि आप किसी विशेष सीट जैसे विंडो, या आगे की या फिर ज्यादा जगह वाली सीट की मांग करते हैं तो आपको इसके लिए अतिरिक्त पैसा भरना होता है। गो एयर ने सभी सीटों के लिए अतिरिक्त पैसे का नियम लगाया है
  • किसी-किसी सीट के लिए कंपनी ने 1,999 रुपए भी चार्ज किया है
  • बिना पैसा दिए आप फ्लाइट के लिए आगे की वेब चेक-इन नहीं कर पाएंगे

आप अगर गो एयर से यात्रा करने की सोच रहे हैं तो एक बार आपको यह खबर जरूर पढ़नी चाहिए। दरअसल टिकट बुक करने के बाद भी आपको अब सीट के लिए पैसा देना होगा। यह 49 रुपए से लेकर 1,999 रुपए तक होगा। अगर आप पैसा नहीं देते हैं तो वेब चेक-इन नहीं होगा। वेब चेक-इन नहीं होगा तो आप यात्रा नहीं कर पाएंगे।

पीछे की बीच वाली सीट के लिए 49 रुपए देना होगा

इस मामले में एक ग्राहक अरविंद सिंह ने बताया कि उन्होंने गो एयर से मुंबई से वाराणसी जाने की 30 जुलाई की टिकट बुक की। बुकिंग के समय जो भी पैसा बताया गया उसका पेमेंट कर दिया गया। बुकिंग कन्फर्म हो गई। मंगलवार को जब वे वेब चेक-इन करने गए तो एयरलाइंस की वेबसाइट पर सीट सिलेक्ट करने को कहा गया। जब सीट को सिलेक्ट किया गया तो गो एयर ने 49 रुपए की मांग की।

पीछे की साइड और विंडो सीट के लिए 249 रुपए

यात्री ने बताया कि पहले तो उसे लगा कि विंडो सीट या इमर्जेंसी दरवाजे या फिर एकदम आगे की सीट होगी इसलिए पैसा मांगा जा रहा है। लेकिन जब यात्री ने किसी और सीट को सिलेक्ट किया तो उसके लिए भी वही पैसा मांगा गया। यही नहीं, विंडो सीट के लिए 250 रुपए, आगे की सीट के लिए 1999 रुपए अतिरिक्त मांगे गए। इस यात्री ने बताया कि यही नहीं, कंपनी ने कोई सूचना नही दी और 30 जुलाई की फ्लाइट को 31 जुलाई कर दिया। यह यात्री को तब पता चला जब वह वेब चेक-इन करने गया।

दरअसल अभी तक यह होता था कि आप किसी विशेष सीट जैसे विंडो, या आगे की या फिर ज्यादा जगह वाली सीट की मांग करते हैं तो आपको इसके लिए अतिरिक्त पैसा भरना होता है।

कोरोना में वेब चेक-इन जरूरी है

यात्री ने बताया कि सभी सीटों के लिए पैसा देने का यह नियम पहली बार दिख रहा है। जब तक आप पैसा नहीं देंगे, आप वेब चेक-इन नहीं कर सकते हैं। कोरोना के कारण सरकार ने नियम लगा दिया है कि जब तक आप वेब चेक-इन नहीं करते हैं तब तक आपको एयरपोर्ट के अंदर नहीं जाने दिया जाएगा। इसलिए सभी यात्रियों के लिए वेब चेक-इन जरूरी है।

इस बारे में गो एयर ने कहा कि यह नियम है और पहले से ही लागू किया गया है। गो एयर ने यह जवाब नहीं दिया कि यह क्यों लागू किया गया है। हालांकि इस मामले में स्पाइसजेट ने कहा कि उसके पास ऐसी कोई जानकारी नहीं है और वह केवल विशेष सीटों के लिए ही चार्ज करता है।

खबरें और भी हैं...