पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61716.05-0.08 %
  • NIFTY18418.75-0.32 %
  • GOLD(MCX 10 GM)473880.43 %
  • SILVER(MCX 1 KG)637561.3 %
  • Business News
  • Air India Privatisation; Narendra Modi Government Airline Letter To Companies To Over MPs VIP Facility

सरकार की एयरलाइन कंपनियों को चिट्ठी:सांसदों को उनकी पसंद की सीट दें; एयरपोर्ट पर VIP पार्किंग, चेक इन में प्राथमिकता और लॉउंज एक्सेस मिले

नई दिल्ली7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

एअर इंडिया के निजीकरण के बाद सरकार को एयरपोर्ट और फ्लाइट में सांसदों के VIP ट्रीटमेंट की चिंता सता रही है। सरकार ने एअर इंडिया समेत सभी एयरलाइंस कंपनियों को लेटर लिखा है, जिसमें सांसदों को स्पेशल ट्रीटमेंट देने की बात कही है। सरकार ने सभी एयरलाइन, एयरपोर्ट ऑपरेटर्स और विमानन सुरक्षा नियामक को एयरपोर्ट पर संसद सदस्यों (सांसदों) को प्रोटोकॉल, शिष्टाचार और सपोर्ट देने को कहा है।

एअर इंडिया के टाटा के हाथों में जाने के बाद देश में एलायंस एयर को छोड़कर बाकी सभी एयरलाइन निजी हाथों में हैं। इसके अलावा देश में PPP एयरपोर्ट की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है।

सांसदों को सीट बुकिंग में प्राथमिकता मिले
केंद्रीय उड्डयन मंत्रालय द्वारा 21 सितंबर, 2021 को लिखे गए एक लेटर में कहा गया है कि एयरपोर्ट पर सांसदों को प्रोटोकॉल,शिष्टाचार और समर्थन देने के लिए समय-समय पर निर्देश जारी किए गए हैं। एयरपोर्ट्स पर माननीय सांसदों को प्रोटोकॉल और शिष्टाचार के संबंध में लापरवाही के कुछ मामले सामने आए हैं। इसी के चलते निर्देशों को फिर से दोहराया जा रहा है और सभी संबंधितों से अनुरोध किया जाता है कि वे इसका सही से पालन करें।

इस लेटर में उस प्रोटोकॉल के बारे में बताया गया है जिसका एअर इंडिया को पालन करना है। हालांकि ये प्रोटोकॉल प्राइवेट एयरलाइंस के लिए नहीं था। लेटर के अनुसार सीट बुकिंग में सांसदों को प्राथमिकता देनी होगी। इसके अलावा अगर सीट खाली नहीं है, तो बुकिंग कैंसिल होने पर इसे सबसे पहले सांसद को देना होगा।

सरकार की चिट्ठी में सांसदों के सहयोग के लिए प्रोटोकॉल ऑफिसर की तैनाती का जिक्र है।
सरकार की चिट्ठी में सांसदों के सहयोग के लिए प्रोटोकॉल ऑफिसर की तैनाती का जिक्र है।

सरकार ने लेटर में ये सुविधाएं देने को कहा

  • एयरपोर्ट पर मौजूद सीनियर स्टाफ को सांसद के चेक-इन करते समय सुविधा और सहयोग देने को कहा है।
  • सांसद को उसकी पसंद की सीट दी जानी चाहिए।
  • सांसदों के लिए आगे वाली लाइन में सीटें आरक्षित करने की कोशिश करनी चाहिए।
  • अगर कोई सांसद एअर इंडिया में यात्रा करने वाला है, तो इसकी जानकारी पहले से संबंधित एयरपोर्ट के अधिकारियों को दी जानी चाहिए, ताकि उनके लिए उचित व्यवस्था की जा सके।
  • एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (AAI) और एयरपोर्ट संचालकों को सांसदों को मुफ्त चाय, कॉफी और पानी के साथ लाउंज सुविधा देने को भी कहा है।
  • सांसदों के लिए VIP पार्किंग का इंतजाम किया जाना चाहिए। इसके लिए संसद भवन के कार पार्किंग पास को मान्य किया जाना चाहिए।
  • सभी एयरपोर्ट पर एक प्रोटोकॉल अधिकारी नियुक्त करना चाहिए जो सांसदों को विशेष सुविधा दिलाने में मदद करेगा।
  • चेक इन के दौरान सिक्योरिटी चेकिंग के दौरान सांसदों को परेशानी का सामना न करना पड़े, इसके लिए CISF और एयरलाइंस आपस में कोऑर्डिनेट करें।

बड़ी हस्तियों को सम्मान मिलना आम बात
इस मामले में एक एयरलाइन के अधिकारी ने कहा कि फेमस लोगों को हवाई यात्रा और एयरपोर्ट पर VIP ट्रीटमेंट मिलता ही है। दूसरी ओर कई लोग ऐसे होते हैं जो बहुत ज्यादा फेमस नहीं होते हैं और इन्हें अपने पद या अपने बारे में खुद जानकारी देनी होती है। इसी तरह के लोगों के लिए इस तरह के नियम बनाए जाते हैं, ताकि उन्हें उपेक्षित महसूस न करना पड़े।

खबरें और भी हैं...