पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61716.05-0.08 %
  • NIFTY18418.75-0.32 %
  • GOLD(MCX 10 GM)473880.43 %
  • SILVER(MCX 1 KG)637561.3 %
  • Business News
  • Aditya Birla Sunlife AMC Disappoints Investors, Shares Listed On BSE At Rs 712 With Zero Premium

आदित्य बिड़ला सनलाइफ AMC की लिस्टिंग:IPO लिस्टिंग ने निवेशकों को किया निराश, BSE पर जीरो प्रीमियम के साथ 712 रुपए पर लिस्ट हुए शेयर

मुंबई9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

असेट मैनेजमेंट कंपनी आदित्य बिड़ला सनलाइफ AMC के शेयर एक्सचेंज पर लिस्ट हो गए हैं। कंपनी के शेयर्स की लिस्टिंग उम्मीद के मुताबिक कमजोर रही। BSE पर इसके शेयर्स की लिस्टिंग जीरो प्रीमियम के साथ 712 रुपए पर ही हुई जो इसका अपर प्राइस बैंड था। जबकि NSE पर शेयर की लिस्टिंग सिर्फ 3 रुपए ऊपर 715 रुपए पर हुई है। कंपनी का इश्यू प्राइस 712 रुपए था। इश्यू 29 सितंबर को खुला था और एक अक्टूबर को बंद हुआ था।

इस IPO में नए शेयर जारी नहीं किए गए। यह इश्यू पूरी तरह से ऑफर फॉर सेल (OFS) था। जिसमें मौजूदा शेयरहोल्डर्स ने अपनी हिस्सेदारी बेची। आदित्य बिड़ला कैपिटल ने 28.51 लाख और सन लाइफ AMC 3.6 करोड़ इक्विटी शेयर्स बेचे हैं।

5.25 गुना सब्सक्राइब हुआ था इश्यू
आदित्य बिड़ला सनलाइफ AMC 2,768 करोड़ रुपए जुटाने के लिए का IPO लाई थी। इश्यू सिर्फ 5.25 गुना सब्सक्राइब हुआ था। इसमें क्वालीफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (QIB) ने 10.36 गुना बोली लगाई थी। जबकि नॉन-इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (NII)का पोर्शन 4.39 गुना सब्सक्राइब हुआ था। वहीं रिटेल इन्वेस्टर्स ने 3.24 गुना बोली लगाई थी।

कंपनी के बारे में जानकारी
आदित्य बिड़ला कैपिटल और सन लाइफ AMC का यह ज्वाइंट वेंचर देश की सबसे बड़ी गैर-बैंकिंग असेट मैनेजमेंट कंपनी है। यह देश की चौथी सबसे बड़ी AMC है। कंपनी का मुनाफा पिछले 3 फाइनेंशियल ईयर में बढ़ा है। फाइनेंशियल ईयर 2020 में कंपनी का मुनाफा 494.40 करोड़ रुपए था जो फाइनेंशियल ईयर 2020-21 में बढ़कर 526.28 करोड़ रुपए हो गया। हालांकि कंपनी के रेवेन्यू में पिछले 3 फाइनेंशियल ईयर में गिरावट रही है। फाइनेंशियल ईयर 2020-21 में गिरकर 1205.84 करोड़ रुपए रहा।

चौथा फंड हाउस लिस्ट
देश की म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री की यह चौथी कंपनी शेयर बाजार में लिस्ट हुई है। अभी तक HDFC म्यूचुअल फंड, निप्पोन म्यूचुअल फंड और UTI म्यूचुअल फंड लिस्टेड कंपनियां हैं। सबसे पहले साल 2017 में निप्पोन लिस्ट हुई थी। उसके बाद HDFC लिस्ट हुई थी। निप्पोन और HDFC के शेयर्स में निवेशकों को अच्छा फायदा हुआ है। यह इस साल लिस्ट होने वाली 43वीं कंपनी है।