पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Adani Enterprises FPO Opening On January 27, Know The Complete Process To Apply

10% डिस्काउंट में खरीदें अडाणी के शेयर:27 जनवरी को खुल रहा अडाणी एंटरप्राइजेज का FPO, जानें इसे अप्लाई करने की पूरी प्रोसेस

मुंबई12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अडाणी एंटरप्राइजेज लिमिटेड का 20,000 करोड़ रुपए का फॉलो-ऑन पब्लिक ऑफर (FPO) 27 जनवरी को खुल रहा है। इसका प्राइस बैंड 3,112-3,276 रुपए प्रति शेयर है। अगर प्राइस बैंड के निचले हिस्से को देखे तो शेयर करीब 10% डिस्काउंट पर मिल रहा है। FPO में रिटेल निवेशकों को 64 रुपए प्रति शेयर की छूट भी दी जाएगी। FPO में मिनिमम बिड लॉट 4 शेयर और उसके बाद 4 शेयरों के मल्टिपल में है।

कंपनी 100% बुक-बिल्ट ऑफर के तहत पार्ट्ली पेड बेसिस पर नए शेयर जारी करेगी। FPO के तहत, एम्प्लॉई कोटा 5%, रिटेल 35% और नॉन-इंस्टीट्यूशनल 15% निर्धारित किया गया है। एंकर इन्वेस्टर के लिए FPO दो दिन पहले यानी 25 जनवरी को खुलेगा। FPO के तहत मिले शेयरों को डीमैट अकाउंट में 7 फरवरी तक क्रेडिट किया जाएगा। 8 फरवरी से ये शेयर ट्रेड के लिए उपलब्ध होंगे।

एक्सपेंशन और कर्ज कम करने में मदद
ICICI सिक्योरिटीज, जेफरीज और SBI कैपिटल मार्केट्स को FPO के बुक रनिंग लीड मैनेजर के रूप में नियुक्त किया गया है। FPO से जुटाई रकम गौतम अडाणी को एक्सपेंशन और कर्ज कम करने में मदद करेगी। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक FPO के कारण गौतम अडाणी के नेतृत्व वाले प्रमोटर्स की हिस्सेदारी करीब 3.5% घटेगी।

डिस्काउंट पर शेयर खरीदने का मौका
स्वस्तिका इन्वेस्टमार्ट में इक्विटी मार्केट हेड गिरीश सोडानी ने कहा, 'FPO रिटेल निवेशकों के लिए डिस्काउंटेड वैल्यूएशन पर स्टॉक खरीदने का एक अच्छा मौका है। ऐसा इसलिए क्योंकि स्टॉक ने अतीत में अच्छा प्रदर्शन किया है। ग्रुप ने नए बिजनेसेज में प्रवेश किया है और अपने बिजनेस का तेजी से विस्तार किया है।' सितंबर तिमाही में, कंपनी का कंसोलिडेटेड नेट प्रॉफिस साल-दर-साल दोगुना से ज्यादा बढ़कर 460.94 करोड़ रुपए हो गया, जबकि कंसोलिडेटेड रेवेन्यू सालाना लगभग तीन गुना बढ़कर 38,175.23 करोड़ रुपए हो गया।

प्रमोटर्स की 72.63% हिस्सेदारी
सितंबर 2022 तक, प्रमोटरों के पास अडाणी एंटरप्राइजेज का 72.63% हिस्सा था, जबकि शेष 27.37% पब्लिक शेयरहोल्डर्स के पास था। लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन के पास पब्लिक शेयरहोल्डर्स के बीच 4.03% हिस्सेदारी थी, जबकि नोमुरा सिंगापुर, एपीएमएस इन्वेस्टमेंट फंड, एलारा इंडिया ऑपर्च्युनिटीज फंड और एलटीएस इन्वेस्टमेंट फंड के पास 1% और 2% के बीच हिस्सेदारी थी।

FPO क्या है?
FPO यानी फॉलो-ऑन पब्लिक ऑफर एक ऐसी प्रोसेस है जिसमें स्टॉक एक्सचेंज में पहले से लिस्टेड कंपनी मौजूदा शेयरधारकों या नए निवेशकों को नए शेयर जारी करती है। यह IPO से अलग है जहां कंपनी फंड इकट्ठा करने के लिए पहली बार अपने शेयर जारी करती है। FPO के जरिए कंपनी अपने इक्विटी बेस का विस्तार करती है।

FPO के मूल रूप से दो प्रमुख उद्देश्य है:
1) एक कंपनी में मौजूदा कर्ज को कम करना
2) कंपनी के एक्सपेंशन लिए अतिरिक्त पूंजी जुटाना

FPO में क्या होता है?
FPO में जारी शेयर की कीमत मार्केट प्राइस से कम होती है। कम कीमत पर शेयर जारी करने के पीछे प्राथमिक मकसद इसके इश्यू के लिए ज्यादा ग्राहकों को आकर्षित करना होता है। हालांकि, सब्सक्रिप्शन में शेयर की कम कीमत होने के कारण अकसर बाजार मूल्य भी नीचे आ जाता है और वो FPO प्राइस के करीब पहुंच जाता है।

शेयर में 3.50% की गिरावट
अडाणई एंटरप्राइजेज के FPO का प्राइस बैंड घोषित होने के बाद इसके शेयर में गिरावट देखी जा रही है। आज यानी गुरुवार को अडाणी का शेयर करीब 130 रुपए या 3.50% की गिरावट के साथ 3,463.60 रुपए पर कारोबार कर रहा है।

FPO के लिए अप्लाय कैसे करें?
IPO की ही तरह FPO के लिए भी अप्लाय करने के लिए डीमैट अकाउंट होना जरूरी है। इसे अप्लाय करने की प्रोसेस भी IPO की ही तरह है। अडाणी एंटरप्राइजेज का सब्सक्रिप्शन ओपन होने के बाद 4 शेयर की मिनिमम बिड लगाई जा सकती है। उससे ज्यादा शेयर चाहिए तो 4 के मल्टिपल में बिड कर सकते हैं। जितने शेयरों के लिए अप्लाय करेंगे उतना अमाउंट आपके अकाउंट में ब्लॉक हो जाएगा।