पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Aadhaar Card Misuse; Aadhaar Authentication History Online (UIDAI) Important Updates

आपके आधार कार्ड का तो नहीं हो रहा गलत इस्तेमाल:आसानी से घर बैठे कर सकते हैं पता, गलत इस्तेमाल होने पर शिकायत का भी ऑप्शन

नई दिल्ली20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आधार कार्ड हमारे देश में एक जरूरी दस्तावेज है। आज हर सरकारी योजना का लाभ लेने से लेकर स्कूल में एडमिशन लेने जैसे कामों में आधार नंबर मांगा जाता है। इसके अलावा बैंक में अकाउंट खुलवाने से लेकर सिम कार्ड लेने तक सभी में आधार की आवश्यकता होती है। लेकिन आधार के गलत हाथों में पड़ने से इसके गलत इस्तेमाल की आशंका भी रहती है।

अगर आपको भी डर है कि कहीं कोर्ड आपके आधार नंबर का गलत इस्तेमाल तो नहीं हो रहा। तो आप यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) की ऑफिशियल साइट पर ऑनलाइन घर बैठे ये जांच सकते हैं कि आपके आधार नंबर का कब और कहां उपयोग हुआ है। इसके लिए आपसे कोई चार्ज भी नहीं लिया जाता है।

ये हैं इसकी प्रोसेस...

1. सबसे पहले आधार की वेबसाइट या इस लिंक uidai.gov.in/ पर जाना होगा।
2. यहां Aadhaar Services के नीचे की तरफ Aadhaar Authentication History का ऑप्शन मिलेगा, इस पर क्लिक करें।

3. यहां आपको आधार नंबर और दिखाई दे रहे सिक्योरिटी कोड को डालकर Send OTP पर क्लिक करना होगा।

4. इसके बाद आधार से लिंक रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर वैरिफिकेशन के लिए एक OTP आएगा, यह OTP डालकर Submit पर क्लिक करें।

5. इसके बाद आपको ऑथेंटिकेशन टाइप और डेट रेंज और OTP समेत मांगी गई सभी जानकारियां भरनी होगी। (नोट- आप 6 महीने तक का डेटा देख सकते हैं।

6. Verify OTP पर क्लिक करते ही आपके सामने लिस्ट आ जाएगी, जिसमें पिछले 6 महीनों में आधार का इस्तेमाल कब और कहां हुआ इसकी जानकारी होगी।

गलत इस्तेमाल पर ऐसे करें शिकायत
रिकॉर्ड देखने पर यदि आपको लगता है कि आधार कार्ड का गलत इस्तेमाल किया गया है तो आप तुरंत इसकी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। आप टोल फ्री नंबर 1947 पर कॉल या help@uidai.gov.in पर ईमेल करके शिकायत दर्ज कर सकते हैं या फिर https://resident.uidai.gov.in/file-complaint लिंक पर ऑनलाइन शिकायत भी कर सकते हैं।

व्यक्ति के मरने के बाद उसके आधार को रद्द करने की व्यवस्था नहीं
व्यक्ति की मृत्यु के बाद उसके आधार कार्ड को रद्द करने की कोई व्यवस्था नहीं है। ऐसे में मृतक के आधार कार्ड को संभालकर रखने और उसका गलत उपयोग न हो, ये देखने की जिम्मेदारी मृतक के परिवार की होती है। जिस व्यक्ति की मृत्यु हुई है, अगर वो व्यक्ति आधार के जरिए किसी योजना या सब्सिडी का लाभ ले रहा था, तो संबंधित विभाग को व्यक्ति की मौत की जानकारी देनी चाहिए। इससे उसका नाम उस योजना से हटा दिया जाएगा।

क्या करें: कोई व्यक्ति आधार ऐप या UIDAI वेबसाइट के माध्यम से मृतक व्यक्ति के आधार को लॉक कर सकता है। इससे मृत व्यक्ति के आधार नंबर के दुरुपयोग को रोकने में मदद मिलेगी। इसकी प्रोसेस जानने के लिए यहां क्लिक करें