पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60967.050.24 %
  • NIFTY18125.40.06 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479130.65 %
  • SILVER(MCX 1 KG)654460.63 %
  • Business News
  • A Total Of 31 Companies, Including 8 Domestic Companies Selected By The Government; Expected To Invest More Than Rs 3,300 Crore

टेलीकॉम इक्विपमेंट PLI स्कीम:सरकार ने चुनी 16 MSME सहित कुल 31 कंपनियां; 3,300 करोड़ रुपए से अधिक का निवेश होने की उम्मीद

12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सांकेतिक तस्वीर। - Money Bhaskar
सांकेतिक तस्वीर।

जिन कंपनियों को टेलीकॉम इक्विपमेंट बनाने के लिए सरकार प्रोडक्शन लिंक्ड इन्सेंटिव (PLI) स्कीम का लाभ देगी, उसके नामों का ऐलान हो गया है। इस योजना के तहत इन्सेंटिव पाने के लिए 36 कंपनियों ने आवेदन किया था, जिसमें से 8 घरेलू कंपनियों सहित कुल 31 कंपनियों को मंजूरी दी गई है।

PLI स्कीम के तहत 16 MSME को मंजूरी मिली

टेलीकॉम, नेटवर्किंग के प्रोडक्ट बनाने के लिए PLI स्कीम के तहत जिन 31 कंपनियों को मंजूरी मिली है, उनमें फॉक्सकॉन, फ्लेक्सट्रॉनिक्स, नोकिया, जाबिल, राइजिंग स्टार, डिक्सन टेक्नोलॉजीज, VVDN टेक्नोलॉजीज, एचएफसीएल, तेजस नेटवर्क्स शामिल हैं। इस स्कीम का लाभ 16 एमएसएमई को भी दिया जाएगा।

ग्लोबल कंपनियों में फ्लेक्सट्रॉनिक्स, फॉक्सकॉन, नोकिया शामिल

PLI स्कीम के लिए चुनी गई ग्लोबल कंपनियों में कॉमस्कोप इंडिया, फ्लेक्सट्रॉनिक्स, फॉक्सकॉन इंडिया, जाबिल, नोकिया, राइजिंग स्टार्स, सनमीना-SCI इंडिया शामिल हैं। नॉन MSME सेगमेंट में आकाशस्था टेक, डिक्सन, HFCL टेक, ITI लिमिटेड, नियोलिंक टेलीकॉम, सिरमा टेक, तेजस नेटवर्क VVDN टेक को मंजूरी मिली है।

MSME कैटेगरी में कुल 16 कंपनियों का चुनाव हुआ

पात्र MSME में कोरल टेलीकॉम, एहूम IoT, एलकॉम इनोवेशन्‍स, फ्रॉग सेलसैट, GDN इंटरप्राइजेज, GX इंडिया, लेखा वायरलेस सोल्यूशंस, पनाशे डिजीलाइफ, प्रियराज इलेक्ट्रॉनिक्स, सिक्‍स्‍थ एनर्जी टेक्नोलॉजीज, स्काईक्वाड इलेक्ट्रॉनिक्स, STL नेटवर्क्‍स, सुरभि सैटकॉम, सिनेग्रा EMS, सिस्ट्रोम टेक्नोलॉजीज और त्‍येननिन वर्ल्डटेक शामिल हैं।

5 साल में 40,000 से अधिक नौकरियों की संभावना

सरकार का अनुमान है कि ये कंपनियां PLI स्कीम के तहत 3,345 करोड़ रुपए से ज्यादा का निवेश कर सकती हैं। इन कंपनियों के निवेश से अगले पांच साल में लगभग 1.80 लाख करोड़ रुपए का अतिरिक्त प्रोडक्शन हो सकता है। सबसे बड़ी बात यह है कि इससे अगले 5 साल में 40,000 से अधिक नई नौकरियां पैदा हो सकती हैं।

देशभर में 5G नेटवर्क शुरू करने में मदद मिलेगी

टेलीकॉम सेक्टर की PLI स्कीम के तहत कोर ट्रांसमिशन इक्विपमेंट, 4G या 5G के रेडियो एक्सेस नेटवर्क और वायरलेस इक्विपमेंट, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, टेलीकॉम स्विच और राउटर्स वगैरह को देश में बनाने पर जोर दिया जाएगा। इन सबसे जल्द देशभर में 5G नेटवर्क शुरू करने में मदद मिल सकती है।

4 से 7% के बीच इन्सेंटिव, MSME को 1% एक्सट्रा

सरकार इस योजना पर 12,195 करोड़ रुपए खर्च करने वाली है। इस योजना के तहत कई कैटेगरी में 4% से 7% के बीच इन्सेंटिव दिया जाएगा। सरकार ने छोटे-मझोले उद्यमों यानी (MSME) को बढ़ावा देने के लिए PLI स्कीम में खास उपाय किए हैं। उन्हें पहले तीन साल 1% ज्यादा इन्सेंटिव दिया जाएगा।

24 फरवरी को जारी हुई थी योजना के लिए अधिसूचना

DoT ने इसी साल 24 फरवरी को टेलीकॉम और नेटवर्किंग प्रॉडक्ट्स के लिए PLI योजना का ऐलान किया था। सरकार के मुताबिक, इसके तहत अगले पांच साल में 2.44 लाख करोड़ रुपए के इक्विपमेंट का प्रोडक्शन हो सकेगा।

नॉन MSME करेंगे कम से कम 100 करोड़ का निवेश

दूरसंचार विभाग की अधिसूचना के मुताबिक, स्कीम का लाभ पाने के लिए MSME को कम से कम 10 करोड़ रुपए का निवेश करना होगा। नॉन MSME सेगमेंट के आवेदकों के लिए इसकी मिनिमम लिमिट 100 करोड़ रुपए रखी गई है।

खबरें और भी हैं...