पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • 22.5% Increase In The Company's Net Profit, Declaration Of Dividend Of Rs 8 Per Share

रिलायंस इंडस्ट्री Q4 रिजल्ट:कंपनी के नेट प्रॉफिट में 22.5% की बढ़ोतरी, 100 अरब डॉलर के रेवेन्यू वाली पहली भारतीय फर्म बनी

मुंबई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने 31 मार्च को खत्म तिमाही के नतीजे शुक्रवार को घोषित किए। इस तिमाही में कंपनी का नेट प्रॉफिट सालाना आधार पर 22.5% बढ़कर 16,203 करोड़ रुपए हो गया। पिछले साल की समान तिमाही में ये 13,227 करोड़ रुपए था। ऑपरेशन से रेवेन्यू 36.79% बढ़कर 211,887 करोड़ रुपए हो गया जो पिछले साल 154,896 करोड़ रुपए था। कंपनी का FY22 में 104.6 अरब डॉलर (7,92,756 करोड़ रुपए) रेवेन्यू रहा। 100 अरब डॉलर के रेवेन्यू वाली रिलायंस पहली भारतीय फर्म है।

8 रुपए के डिविडेंड का ऐलान
रिलायंस ने 8 रुपए के डिविडेंड का भी ऐलान किया है। रिलायंस के शेयर शुक्रवार को 12.90 रुपए या 0.49% लुढ़ककर 2,628 रुपए पर बंद हुए। दिनभर के कारोबार में शेयर ने 2,593.55 का निचला और 2,659 का उच्चतम स्तर बनाया। इस साल की शुरुआत से अब तक शेयर ने 9.32% का रिटर्न दिया है जबकि सेंसेक्स में इस दौरान 7.35% की गिरावट रही है। पिछले एक साल की बात करें तो कंपनी ने 36% का रिटर्न दिया है। सेंसेक्स ने इस दौरान 11.44% का रिटर्न दिया।

ऑपरेटिंग मार्जिन 10.1% रहा
मार्च तिमाही के लिए ऑपरेटिंग मार्जिन 10.1% रहा, जबकि दिसंबर तिमाही में यह 10.6% और एक साल पहले की तिमाही में 9.5% था। तिमाही के लिए नेट मार्जिन 7.7% रहा, जो दिसंबर तिमाही में 9.8% और एक साल पहले की तिमाही में 8.7% था।

डिजिटल और रिटेल सेगमेंट की ग्रोथ से खुश
रिलायंस के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी ने कहा, “महामारी के कारण चल रही चुनौतियों और जियोपॉलिटिकल अनिश्चितता के बढ़ने के बावजूद, रिलायंस ने FY 2021-22 में मजबूत प्रदर्शन दिया है। मुझे अपने डिजिटल सर्विसेज और रिटेल सेगमेंट में मजबूत ग्रोथ से खुशी है।" उन्होंने कहा, "हमारे O2C बिजनेस ने एनर्जी मार्केट में अस्थिरता के बावजूद स्ट्रॉन्ग रिकवरी दिखाई है।"

Q4 हाइलाइट्स:
रिलायंस जियो

  • तिमाही में ग्रॉस रेवेन्यू 26,139 करोड़ रुपए (3.4 अरब डॉलर) रहे जो 20.7% ज्यादा है।
  • EBITDA 10,918 करोड़ रुपए (1.4 अरब डॉलर) रहा जो 27.4% की बढ़ोतरी है।
  • नेट प्रॉफिट 4,313 करोड़ रुपए (569 मिलियन डॉलर) रहा जो 22.9% की ग्रोथ है।
  • कैश प्रॉफिट 9,623 करोड़ रुपए (1.3 अरब डॉलर) रहा जो 24.0% की ग्रोथ है।
  • 31 मार्च 2022 तक टोटल कस्टमर बेस 410.2 मिलियन था।
  • तिमाही के दौरान एआरपीयू 167.6 रुपए प्रति ग्राहक प्रति माह रहा।
  • तिमाही के दौरान कुल डेटा ट्रैफिक 24.6 अरब जीबी था जो 47.5% की बढ़ोतरी है।

रिटेल

  • तिमाही में ग्रॉस रेवेन्यू 58,017 करोड़ रुपए (7.7 अरब डॉलर) रहे, जो 23.3% ज्यादा है।
  • EBITDA 3,705 करोड़ रुपए (489 मिलियन डॉलर) रहा, जो 2.4% ज्यादा है।
  • नेट प्रॉफिट 2,139 करोड़ रुपए (282 मिलियन डॉलर) रहा, जो 4.8% कम है।
  • कैश प्रॉफिट 2,878 करोड़ रुपए (380 मिलियन डॉलर) रहा, जो 3.8% ज्यादा है।
  • कुल 15,196 फिजिकल स्टोर ऑपरेशनल रहे। तिमाही के दौरान 793 स्टोर खुले।
  • एरिया ऑफ ऑपरेशन- पिछले साल की मार्च तिमाही में 33.8 मिलियन वर्ग फुट था जो इस तिमाही में 41.6 मिलियन वर्ग फुट हो गया।

ऑइल टू केमिकल (O2C)

  • Q4FY22 के लिए सेगमेंट रेवेन्यू YoY 44.2% बढ़कर 145,786 करोड़ हो गया, जो मुख्य रूप से कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी के कारण है। मांग में लगातार सुधार के साथ प्रोडक्ट वॉल्यूम भी 4.2% ज्यादा रहा।
  • Q4FY22 के लिए सेगमेंट EBITDA YoY 24.8% बढ़कर 14,241 करोड़ रुपए हो गया। तिमाही के लिए EBITDA मार्जिन सालाना आधार पर 150 बीपीएस घटकर 9.8 प्रतिशत हो गया।
खबरें और भी हैं...