• Home
  • Market
  • Indians invested more than 3200 crores in American stock market, investment increased by 120% in five years

स्टॉक मार्केट /भारतीयों ने अमेरिकी शेयर बाजार में 3200 करोड़ से ज्यादा का निवेश किया, पांच साल में निवेश 120% बढ़ा

अमेरिकी स्टॉक मार्केट में दक्षिण भारत के राज्यों में कर्नाटक और तामिलनाडु से अधिक निवेश किया जाता है अमेरिकी स्टॉक मार्केट में दक्षिण भारत के राज्यों में कर्नाटक और तामिलनाडु से अधिक निवेश किया जाता है

  • नए निवेशक फेसबुक, एपल, अमेजन, माइक्रोसॉफ्ट जैसी कंपनियों में निवेश करना पसंद करते हैं
  • आरबीआई के नियमों के अनुसार विदेशों में व्यक्ति सालाना 1.86 करोड़ रुपए तक का ही निवेश कर सकता है

मनी भास्कर

Jul 08,2020 05:28:17 PM IST

विमुक्त दवे, अहमदाबाद. भारतीय शेयर बाजार में विदेशी निवेश की खबरें हम आए दिन पढ़ते हैं, लेकिन भारतीयों द्वारा विदेशों में निवेश की खबरें कम ही आती हैं। इसीलिए दैनिक भास्कर ने यह जानने की कोशिश की कि भारतीयों द्वारा अमेरिकी स्टॉक मार्केट में कितना निवेश किया जाता है। अमेरिकी मार्केट में निवेश की सुविधा की शुरुआत करने वाले एचडीएफसी सिक्युरिटीज के डिजिटल और डिस्ट्रीब्यूशन के हेड नंदकिशोर पुरोहित ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2019-20 के दौरान भारतीयों ने अमेरिकीस्टॉक मार्केट में 431 मिलियन डॉलर (करीब 3224 करोड़ रुपए) का निवेश किया।

फेसबुक, एपल, अमेजन जैसे स्टॉक्स निवेशकों की पहली पसंद
हाल ही में ग्लोबल इन्वेस्टिंग सर्विस शुरू करने वाले अलंकित लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर अंकित अग्रवाल ने बताया - नए निवेशक फेसबुक, एपल, अमेजन, माइक्रोसॉफ्ट जैसी कंपनियों में निवेश करना पसंद करते हैं। ग्लोबल निवेशक डाइवर्सिफाई पोर्टफोलियो रखते हैं और अमेरिकी स्टॉक मार्केट में इसके लिए सुनहरा मौका रहता है।

सेफ इन्वेस्टमेंट के लिए अमेरिकी मार्केट में निवेश होता है
नंदकिशोर पुरोहित बताते हैं कि जब भारतीय बाजार गिरावट में और अमेरिकी बाजार अच्छी स्थिति में होता है तब कई ग्राहक अपने निवेश को शिफ्ट करने के लिए अकाउंट खोलते हैं। इसके अलावा निवेशकों को करंसी का भी फायदा मिलता है, क्योंकि डॉलर के मुकाबले रुपया अक्सर कमजोर होता रहता है। अमेरिकी बाजारों के मुख्य मुनाफों में विनिमय और अनुकूलता है, जो भारतीय ग्राहकों को नास्डेक स्टॉक मार्केट की और आकर्षित करते हैं।

पश्चिम और दक्षिण भारत से ज्यादा निवेश होता है
अंकित अग्रवाल बताते हैं कि भारत से अमेरिकी स्टॉक मार्केट में गुजरात और महाराष्ट्र जैसे राज्यों से ज्यादा निवेश होता है। इसी तरह दक्षिण भारत के राज्यों में कर्नाटक और तामिलनाडु से अधिक निवेश किया जाता है। हाल के कुछ समय से उत्तरी भारत के राज्यों में से भी निवेश बढ़ा है। अमेरिकी मार्केट में विदेशी निवेशकों आईपीओ में निवेश नहीं कर सकते हैं, लेकिन लिस्टिंग बाद उन कंपनियों के शेयर में निवेश कर सकते हैं।

सिक्युरिटीज कंपनियों को इन्वेस्टमेंट बढ़ने की आशा
एचडीएफसी सिक्युरिटीज में अभी 30,000 से भी ज्यादा रजिस्टर्ड यूजर्स और 10,000 से ज्यादा अकाउंट हैं। कंपनी ने मार्च 2020 के अंत तक 50000 अकाउंट खोलने का लक्ष्य रखा था। इसी तरह अलंकित लिमिटेड ने मार्च तक 36,000 अकाउंट खोलने का लक्ष्य रखा था। एचडीएफसी के ग्राहकों का औसत निवेश 9000 डॉलर (करीब 6-7 लाख रुपए) है। आरबीआई के नियमों के अनुसार विदेशों में व्यक्ति सालाना 2.5 लाख डॉलर (करीब 1.86 करोड़ रुपए) तक का ही निवेश कर सकता है।

X
अमेरिकी स्टॉक मार्केट में दक्षिण भारत के राज्यों में कर्नाटक और तामिलनाडु से अधिक निवेश किया जाता हैअमेरिकी स्टॉक मार्केट में दक्षिण भारत के राज्यों में कर्नाटक और तामिलनाडु से अधिक निवेश किया जाता है

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.