पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX44149.72-0.25 %
  • NIFTY12968.95-0.14 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48751-0.44 %
  • SILVER(MCX 1 KG)59664-0.99 %
  • Business News
  • Zomato's Revenue Doubled To Rs 2,960 Crore In FY 2019 20, But The Deficit Increased By Just 5 Percent.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फायदा:वित्त वर्ष 2019-20 में जोमैटो का रेवेन्यू दोगुना बढ़कर 2,960 करोड़ रुपए पर पहुंचा, लेकिन घाटे में महज 5 प्रतिशत की वृद्धि हुई

नई दिल्ली5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कंपनी ने बताया कि जुलाई में इसका अनुमान है कि इसे 2.3 करोड़ डॉलर का रेवेन्यू होगा। कोविड से पहले की तुलना में यह 60 प्रतिशत होगा। हालांकि इसका मासिक घाटा एक मिलियन डॉलर से कम होगा
  • कंपनी को वित्त वर्ष 2021 की पहली तिमाही में प्रति ऑर्डर 27 रुपए का लाभ हुआ है
  • कंपनी ने कहा कि जैसे ही इसके बिजनसे की रिकवरी शुरू होगी यह कर्मचारियों की सैलरी को पहले के स्तर पर ला देगा

ऑनलाइन फूड डिलिवरी कंपनी जोमैटो की आय मार्च 2020 में समाप्त वित्त वर्ष में 39.4 करोड़ डॉलर (2,960 करोड़ रुपए) रही है। एक साल पहले के 1,440 करोड़ रुपए के रेवेन्यू की तुलना में इसमें दोगुना की वृद्धि हुई है। हालांकि इस दौरान कंपनी का घाटा 29.3 करोड़ डॉलर रहा है। एक साल पहले की तुलना में घाटे में महज 5 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

जुलाई में 2.3 करोड़ डॉलर का रेवेन्यू होगा

कंपनी ने बताया कि जुलाई में इसका अनुमान है कि इसे 2.3 करोड़ डॉलर का रेवेन्यू होगा। कोविड से पहले की तुलना में यह 60 प्रतिशत होगा। हालांकि इसका मासिक घाटा एक मिलियन डॉलर से कम होगा।

कारोबार को मुनाफे की ओर ले जाना है मुख्य लक्ष्य

जोमैटो ने कहा कि कारोबार को मुनाफे की ओर ले जाना उसका मुख्य लक्ष्य है और उसने इस मामले में अच्छी प्रगति की है। कंपनी को वित्त वर्ष 2021 की पहली तिमाही में प्रति ऑर्डर 27 रुपए का लाभ हुआ है जबकि एक साल पहले समान अवधि में उसे 47 रुपए प्रति ऑर्डर का घाटा हो रहा था। कंपनी का कहना है कि वह अगले 3-6 महीने में पूरी रिकवरी कर लेगी।

कटी हुई सैलरी का तीन गुना मिला इसॉप्स 

कंपनी ने कहा कि जैसे ही इसके बिजनेस की रिकवरी शुरू होगी यह कर्मचारियों की सैलरी को पहले के स्तर पर ला देगा। यह उनके लिए होगा जिनकी सैलरी अप्रैल में कटी थी। उन्हें वो कटी हुई सैलरी दे दी जाएगी। साथ ही कंपनी ने उन कर्मचारियों को इसॉप्स भी दिया है, जिन्होंने अपनी मर्जी से सैलरी कटवाई थी। यह इसॉप्स कटी हुई सैलरी का तीन गुना है।