पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX56747.14-1.65 %
  • NIFTY16912.25-1.65 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476900.69 %
  • SILVER(MCX 1 KG)607550.12 %

हाथों में हथकड़ी लगाए नामांकन सेंटर पहुंचा मुखिया प्रत्याशी:हत्या के आरोप में गया जेल में बंद है, दिवंगता पत्नी रही है मुखिया; सीवान के हसनपुरा प्रखंड कार्यालय में भरा पर्चा

सीवान3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नामांकन सेंटर पहुंचा मुखिया प्रत्याशी शेख अबरे। - Money Bhaskar
नामांकन सेंटर पहुंचा मुखिया प्रत्याशी शेख अबरे।

बिहार पंचायत चुनाव के तीसरे चरण के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसमें सीवान जिले के हसनपुरा और हुसैनगंज प्रखंड भी शामिल हैं। सोमवार को हाथों में हथकड़ी लगाए, आंखों पर चश्मा चढ़ाए, पूरी ठसक और अंदाज के साथ एक मुखिया प्रत्याशी नामांकन सेंटर पहुंचा, जिससे लोग देखते रह गए।

पियाउर पंचायत से मुखिया प्रत्याशी के रूप में शेख अबरे आलम ने हसनपुरा प्रखंड कार्यालय परिसर में बने नामांकन सेंटर पर पर्चा दाखिल किया। वह गया जेल से हाथों में हथकड़ी लगाए पुलिस बल के साथ पहुंचा था।

दरअसल, 2 साल पहले हसनपुरा थाना इलाके के पियाउर गांव में एक व्यक्ति की हत्या हुई थी। इसमें पियाउर पंचायत के मुखिया पति शेख अबरे आलम को आरोपित किया गया था। इसी मामले में वह जेल में है। शेख अबरे आलम ने कहा- 'मुझे साजिश के तहत फंसाया गया है। मुझे केस के संबंध में कोई जानकारी नहीं है। इस चुनाव में जनता हमारे विकास के काम के बल पर एक बार फिर से जिताएगी।'

ज्ञात हो कि शेख अबरे आलम की पत्नी पियाउर पंचायत की मुखिया रही है। उनका हाल ही में 3 माह पहले देहांत हुआ है।

खबरें और भी हैं...