पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57317.270.1 %
  • NIFTY17103.80.29 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47917-0.1 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61746-1.71 %

तालिबान को साधने की कोशिश:चीनी एम्बेसडर ने अफगान विदेश मंत्री से मुलाकात की; कहा- अफगानिस्तान के अंदरूनी मामलों में दखल नहीं देंगे

काबुल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चीन सरकार तालिबान की नई हुकूमत से नजदीकियां बढ़ाने की कोशिश कर रही है। काबुल में चीन के एम्बेसेडर वांग यू ने मंगलवार को अफगानिस्तान के कार्यवाहक विदेश मंत्री आमिर खान मुत्तकी से मुलाकात की। वांग ने आमिर को भरोसा दिलाया कि चीन अफगानिस्तान के अंदरूनी मामलों में दखलंदाजी नहीं करेगा। वांग ने खान से ये भी कहा कि बीजिंग अफगानिस्तान की संप्रभुता का सम्मान करता है।

पिछले महीने तालिबान में नंबर दो नेता मुल्ला अब्दुल गनी बरादर ने चीन के विदेश मंत्री वांग यी से बीजिंग में मुलाकात की थी। चीन ने अफगानिस्तान को मदद की पेशकश भी की है। हालांकि, आधिकारिक मान्यता पर उसने अपने पत्ते नहीं खोले हैं।

वैक्सीन भी देगा चीन
वांग और आमिर की मुलाकात के दौरान आपसी रिश्तों पर विचार हुआ। मंगलवार को ही चीन ने ऐलान किया था कि वो अफगानिस्तान को 30 लाख कोविड वैक्सीन डोनेट करेगा। चीन ने 31 लाख डॉलर की सामग्री भी भेजने का ऐलान किया है। इसमें सर्दियों में काम आने वाला सामान और दवाएं भी शामिल हैं। वैक्सीन भी इसी रिलीफ पैकेज का हिस्सा है।

चीनी एम्बेसेडर ने क्या कहा
चीन के राजदूत ने आमिर से कहा- हम अफगानिस्तान की संप्रभुता और आजादी का सम्मान करते हैं। उसके अंदरूनी मामलों में दखलंदाजी नहीं करेंगे। विकास के लिए अफगान अवाम जिस रास्ते को चुनेंगे, चीन उसका समर्थन करेगा।

पिछले महीने 15 अगस्त को अफगानिस्तान पर कब्जा करने के बाद चीन और तालिबान के बीच यह दूसरी हाईलेवल मीटिंग है। अगस्त के आखिरी हफ्ते में तालिबान के डिप्टी पॉलिटिकल हेड अब्दुल सलाम हनफी ने चीनी एम्बेसेडर से मुलाकात की थी।

तालिबान का शुक्रिया
मुलाकात के दौरान वांग ने काबुल और देश के बाकी हिस्सों में चीनी नागरिकों और संस्थानों की सुरक्षा करने के लिए तालिबान का शुक्रिया अदा किया। आमिर ने भी मदद के लिए चीन को धन्यवाद कहा और उम्मीद जताई कि दोनों मुल्कों के बीच अच्छे पड़ोसियों के रिश्ते रहेंगे। आमिर ने भरोसा जताया कि चीन और दुनिया के दूसरे देशों की मदद से तालिबान प्रशासनिक सुधार करेगा और इनके जरिए आतंकवाद से मुकाबला कर सकेगा। आमिर ने ये भी कहा कि अफगानिस्तान की जमीन का इस्तेमाल दूसरे देशों के खिलाफ नहीं होने दिया जाएगा।

यूएन का भी साथ देंगे
जिनेवा में चीन के विदेश मंत्रालय के अफसर चेन झू ने भरोसा दिलाया कि संयुक्त राष्ट्र अफगानिस्तान में हालात बेहतर करने के लिए जो भी कदम उठाएगा, चीन उसमें पूरी मदद देगा और उनका समर्थन करेगा। झू ने यहीं अफगानिस्तान को 30 लाख वैक्सीन डोनेट करने का ऐलान किया। चेन ने कहा कि अफगानिस्तान के लिए यह मुश्किल वक्त है और दुनिया को उसकी मदद करनी चाहिए।

खबरें और भी हैं...