Home »States »Rajasthan» These States Approximately Consume One-Sixth Of The Total LPHN Biscuits Sold In The Country

सस्ते बिस्किट खाने में यूपी-महाराष्ट्र देश में सबसे आगे, उत्पादकों ने मांगी टैक्स में छूट

जयपुर। महाराष्‍ट्र, तमिलनाडु, उत्‍तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल लो प्राइस हाई न्‍यूट्रीशियन (एलपीएचएन) बिस्किट खाने में देश में सबसे आगे हैं। देश में हर साल 36 लाख टन एलपीएचएन बिस्किट की खपत होती है।
 
सस्‍तेबिस्किटकी टॉप5राज्‍यों में खपत
 
-महाराष्‍ट्र 1.90 लाख टन
-उत्‍तर प्रदेश 1.75 लाख टन
-तमिलनाडु 1.11 लाख टन
-पश्चिम बंगाल 1.02 लाख टन
-कर्नाटक 93 हजार टन
 
सस्‍ता होने के चलते आम लोगों की पहुंच में होता है यहबिस्किट
 
बिस्किट मैन्‍यूफैक्‍चरिंग वेलफेयर एसोसिएशन (बीएमडब्‍ल्‍यूए) के अध्‍यक्ष हर्ष दोषी के अनुसार यह बिस्किट सस्‍ते होते हैं। यह आमतौर पर देशभर में 2 से लेकर 5 रुपए की एमआरपी पर बेचे जाते हैं। इनमें ग्‍लूकोज, दूध होता है जो स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक है। औसतन इनके करीब 6 करोड़ पैकेट रोज बेचे जाते हैं।
 
काफी बढ़ा हैबिस्किटइंडस्‍ट्री का साइज
 
देश में बिस्किट इंडस्‍ट्री का साइज करीब 37500 करोड़ रुपए का है। इसमें से 26500 करोड़ रुपए का आर्गनाइज क्षेत्र की हिस्‍सेदारी है, जबकि 11 हजार करोड़ रुपए का कारोबार अनआर्गनाइज क्षेत्र में है। इस क्षेत्र में 72 लाख लोगों को रोजगार मिला हुआ है।  
 
जीएसटी में कर छूट की मांग
 
बिस्किट मैन्‍यूफैक्‍चरिंग वेलफेयर एसोसिएशन की मांग है कि सस्‍ते बिस्किट बनाने के लिए जीएसटी में कर छूट दी जाए। इनका तर्क है कि सस्‍ते बिस्किट आमलोग इस्‍तेमाल करते हैं, इसलिए इन पर टैक्‍स ज्‍यादा न लगाया जाए। 

और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY