Home »States »Maharashtra» Special Court Here Has Confirmed The ED Order To Attach Rs 4,200 Crore Assets Of Liquor Baron Vijay Mallya And Others.

PMLA केस : माल्‍या के 4200 करोड़ के एसेट्स जब्‍त करेगा ईडी, कोर्ट से मिली मंजूरी

नई दिल्‍ली. शराब कारोबारी विजय माल्या की 4200 करोड़ रुपए की एसेट अटैच करने के ईडी के ऑर्डर को मुंबई की एक स्पेशल कोर्ट ने मंजूरी दे दी। अब ईडी के लिए एसेट्स अटैच करने का रास्ता साफ हो गया है। बता दें कि पिछले साल सितंबर में ईडी ने प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए)  के तहत विजय माल्या के खिलाफ एसेट अटैच करने का ऑर्डर जारी किया था। इसमें माल्‍या और उनसे जुड़ी दूसरी कपंनियों के फ्लैट, फॉर्म हाउस, शेयर और एफडी शामिल हैं। इन एसेट्स की मार्केट वैल्‍यू 6,630 करोड़....
 
 
 
- ईडी ने पहले कहा था कि इन एसेट्स की मार्केट वैल्‍यू 6,630 करोड़ रुपए है। हालांकि इनकी बुक वैल्‍यू 4,234.84 करोड़ रह गई है।
- एडजुडिकेटिंग अथॉरिटी ऑफ पीएमएलए के मेंबर तुषार शाह ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि ये एसेट्स मनी लॉन्ड्रिंग का हिस्सा हैं। ऐसे में इन एसेट्स की पीएमएलए की  सेक्‍शन 5 के सब-सेक्‍शन (1) के तहत अटैचमेंट की पुष्टि की जाती है।
- ईडी अब इन एसेट्स को अटैच यानी कुर्क कर सकेगा। शाह ने कहा कि इस मामले की जांच जारी रहने के दौरान भी कुर्की जारी रहेगी। 
 
माल्‍या ने क्रिमिनल कॉन्सपेरेसी
- एजेंसी का आरोप है कि ये एसेट्स क्रिमिनल कॉन्सपेरेसी के जरिए हासिल किए गए। एजेंसी के मुताबिक, माल्या ने किंगफिशर एयरलाइंस और यूनाइटेड ब्रेवरीज होल्डिंग्स के साथ मिलकर ये काॅन्सपेरेसी की और बैंकों की मिलीभगत के जरिए लोन हासिल किए।
- इस अमाउंट में से 4,930.34 करोड़ रुपए का अब पेमेंट नहीं किया गया है। पीएमएलए के तहत ईडी द्वारा जारी अटैचमेंट का ऑर्डर आरोपी को अपनी गलत तरीके से जुटाई गई एसेट्स का लाभ लेने से रोकना है। इसे संबंधित पीएमएलए प्राधिकरण के समक्ष 180 दिन के भीतर चुनौती दी जा सकती है।
 
माल्‍या ने शेयर भी अपने पास रखे
- ईडी का ये भी आरोप है कि माल्‍या ने बड़ी तादाद में शेयर भी अपने पास रखे थे। ये शेयर उन कंपनियों के नाम पर रखे गए थे, जो डायरेक्ट और इनडायरेक्ट तौर पर माल्‍या के कंट्रोल में आते थे।
- ईडी ने कहा- ऐसा लगता है कि केएफए के प्रमोटर्स- माल्‍या और यूबीएचएल के पास काफी फंड था, लेकिन बैंक लोन चुकाने की उनकी कोई नीयत नहीं थी। उन्‍होंने जानबूझकर करीब 3,600 करोड़ रुपए के शेयर अपने पास रखे।
 
ईडी अब लेगा एक्शन
- कोर्ट से मंजूरी मिलने के बाद ईडी माल्‍या और उनसे जुड़ी फर्म्‍स की प्रॉपर्टीज को कुर्क करने की कार्रवाई शुरू कर देगी। एजेंसी ने आरोप लगाया था कि ये एसेट्स क्रिमिनल कॉन्सपेरेसी  के जरिए हासिल किए गए।  

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY