Home »States »Maharashtra» Parrikar Won A Crucial Trust Vote In The Goa Assembly On Thursday As 22 Legislators Backed The BJP Led Coalition

पर्रिकर ने हासिल किया विश्वास मत, समर्थन में पड़े 22 वोट

नई दिल्‍ली।  कांग्रेस की तमाम कोशिशों के बावजूद मनोहर पर्रिकर ने गोवा विधानसभा में बहुमत हासिल कर लिया है। उन्होंने गुरुवार को शक्ति परीक्षण के दौरान उन्‍हें 22 सदस्यों का समर्थन मिला, जबकि विरोध में 16 वोट पड़े। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पर्रिकर सरकार को गुरुवार को बहुमत साबित करना था। गोवा विधानसभा में 40 सीटें हैं। वोटिंग के दौरान कांग्रेस विधायक विश्वजीत राणे ने वोटिंग नहीं की और वह वोटिंग से बाहर रहे। पणजी से बीजेपी विधायक सिद्धार्थ को फ्लोर टेस्ट के लिए गोवा विधानसभा का प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किया गया था। रक्षा मंत्री के पद से इस्तीफा देकर 61 साल के पर्रिकर चौथी बार गोवा के मुख्यमंत्री बने हैं। उन्हें गोवा फॉरवर्ड पार्टी (3), महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (3), और निर्दलियों (3) का समर्थन मिला।
 
 
सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचा था मामला
 
राज्‍य में 17 सीट लेकर सबसे बड़ी पार्टी रही कांग्रेस लगातार भारतीय जनता पार्टी पर विधायकों की खरीद – फरोख्‍त के आरोप लगा रही है। दरअसल, चुनाव में बीजेपी ने 13 सीटें जीती थी। जबकि कांग्रेस के पास 17 सीटें हैं। बहुमत के लिए किसी भी पार्टी को 21 सीटों की जरूरत थी। ऐसे में भाजपा ने सबसे पहले राज्‍यपाल मृदुला सिन्‍हा के सामने सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया। वहीं कांग्रेस का कहना है कि सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते राज्‍यपाल को उसे न्‍यौता देना चाहिए था। मामले को लेकर कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट भी गई लेकिन वहां भी उसे कड़ी फटकार मिली और कोर्ट द्वारा मनोहर पर्रिकर सरकार को 16 मार्च तक बहुमत हासिल करने का आदेश दिया गया। 
 
राहुल पर पर्रिकर कटाक्ष
 
विश्वासमत जीतने के बाद मुख्यमंत्री पर्रिकर ने राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा,  हम चाहते हैं कि वो मेहनत करें और अगली बार सरकार बनाने का सपना देखें। पर्रिकर ने साथ ही कहा कि ' स्पीकर ने हाथ उठवाकर विधायकों की गिनती कर ली। हम पहले से कह रहे थे कि हमारे पास नंबर है और फ्लोर पर हमने यह साबित कर दिया।' उन्होंने आगे कहा कि पार्टी के पास 23 विधायकों का समर्थन है, लेकिन प्रोटेम स्पीकर वोट नहीं डालते हैं, इसलिए नंबर 22 का रहा। उन्होंने कहा, 'कांग्रेस के पास शुरू से ही बहुमत नहीं था।'  

और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY