Home »States »Gujarat» At Least Seven Policemen, Including District Superintended Of Police R V Asari, Were Today Injured In Stone Pelting When Cops Tried To Stop A Farmers Rally Near Sanand Town In Gujara

गुजरात में किसानों की रैली में लाठी चार्ज, एसपी समेत 7 पुलिसकर्मी घायल

गुजरात में किसानों की रैली में लाठी चार्ज, एसपी समेत 7 पुलिसकर्मी घायल
अहमदाबाद। गुजरात के साणंद जिले में मंगलवार को पानी संकट की समस्‍या को लेकर हो रही किसानों की रैली उस वक्‍त हिंसक हो गई जब पुलिसकर्मियों ने इसे रोकने का प्रयास किया। इस दौरान हुई पत्थरबाजी में एसपी आर वी अंसारी समेत 7 पुलिसवाले घायल हो गए। जानकारी के मुताबिक पुलिस ने रैली को रोकने की कोशिश की। इसके बाद किसानों ने पथराव शुरू कर दिया। बाद में किसानों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज भी किया आंसू गैस के गोले भी छोड़े।
 
रैली को नहीं मिली थी मंजूरी
 
एसपी अंसारी ने बताया, पानी संकट की समस्या को उठाने के लिए नाल सरोवर गांव के लोगों ने गांधीनगर तक रैली निकाले जाने की घोषणा की थी, जिसे पुलिस ने मंजूरी नहीं दी थी। बाद में जब रैली साणंद के नजदीक पहुंची तो पुलिस ने उसे आगे नहीं जाने की सलाह दी।  एसपी ने बताया कि जब हम रैली के नेताओं से बात करने की कोशिश कर रहे थे, तभी भीड़ ने पत्थरबाजी शुरू कर दी। इसमें 7 पुलिसवाले घायल हो गए। इसके बाद स्थिति को काबू में करने के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज किया और आंसू गैस के गोले दागे। अंसारी ने बताया, 'रैली में करीब 3000 लोग थे। हमने हिंसा के मामले में 15 लोगों को गिरफ्तार किया है। फिलहाल स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है।'
 
कांग्रेस का भाजपा पर निशाना   
 
वहीं इस मामले पर अब राजनीति भी गर्म हो गई है। पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने पुलिस कार्रवाई की निंदा की है। कांग्रेस ने भी कार्रवाई को लेकर सवाल उठाए हैं। गुजरात कांग्रेस के प्रवक्ता मनीष दोषी ने कहा, ' गुजरात की बीजेपी सरकार किसानों के आवाज को दबा रही है और इस घटना के पीछे बीजेपी का हाथ है। इन किसानों की सिर्फ यह गलती है कि वह‍ पानी की मांग कर रहे थे। ' दोषी ने आगे कहा कि हम इस घटना की निंदा करते हैं। 
 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY