Home »States »Chhattisgarh» Traders Are In Trouble Because Of Note Ban In Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ में नोटबंदी के कारण कारोबारी परेशान, 50 फीसदी की गिरावट

छत्तीसगढ़ में नोटबंदी के कारण कारोबारी परेशान, 50 फीसदी की गिरावट
रायपुर। छत्तीसगढ़ में नोटबंदी के कारण कारोबार में 50 फीसदी की गिरावट आ गई है। कारोबारियों के मुताबिक कारोबार बढ़ाने के लिए सरकार को कैश बढ़ाना पड़ेगा। पीएम मोदी के निर्देशों पर बनी अधिकारियों की टीम ने छत्तीसगढ़ राज्य की रिपोर्ट केंद्र सरकार को भेजी है।
 
पीएम ने वित्त विभाग के 90 अफसरों को अलग अलग राज्यों में भेजा है। उनसे नोटबंदी के बाद कारोबार के हालातों की रिपोर्ट तैयार करने कहा गया है। छत्तीसगढ़ ने अपनी रिपोर्ट फाइनेंस मिनिस्ट्री को सौंप दी है। इतना ही नहीं, उन्होंने धान खरीदने के लिए सहकारी बैंकों को एक बड़ी राशि नए नोटों के रूप में उपलब्ध कराने भी कहा है। 

अधिकारियों ने सरगुजा और बस्तर के भीतरी इलाकों में जाकर जमीनी हालात का जायजा लिया। मैदानी स्थिति का जायजा लिया। छत्तीसगढ़ में कारोबारियों और आम लोगों के पास खरीदारी के लिए कैश ही नहीं है। पुराने नोट जमा कराने के बाद लोगों के पास नए नोट न होने से काफी परेशानी है।

 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY