Home »SME »Industry Voice» MSMEs Are Facing New Problems In Banks

बैंकों में कैश के अलावा अन्य सेवाएं ठप, कारोबारी परेशान

बैंकों में कैश के अलावा अन्य सेवाएं ठप, कारोबारी परेशान
 
नई दिल्‍ली। 500 और 1000 रुपए के नोट बंद होने के बाद बैंकों में लंबी-लंबी लाइनें लगी हैं। इससे बैंकों में नगद लेन-देन और एक्‍सचेंज के अलावा दूसरी सभी सेवाएं लगभग ठप हो गई हैं। इससे छोटे कारोबारियों को खासी परेशानी हो रही है। कारोबारियों का कहना है कि कैश के अलावा दूसरे काम कराने के लिए उनका बैंकों में घुसना तक मुश्किल हो गया है। किसी तरह वे बैंक में घुस भी जाएं तो अंदर लगभग सभी कर्मचारी कैश के काम में लगे हुए हैं। इसका असर उनके कारोबार पर पड़ रहा है।
 
ये काम हो रहे हैं प्रभावित
 
बैंकों में कैश के अलावा डिमांड ड्राफ्ट, पे-ऑर्डर, आरटीजीएस, एनआईएफटी, चेक क्‍लीयरेंस, बिल डिस्‍काउंटिंग, चेक बु‍क इश्‍यू कराना, एकाउंट्स स्‍टेटमेंट जैसे काम तो ठप पड़े हैं, लेकिन सबसे अधिक ओवरड्राफ्ट और लोन प्रोसेसिंग में हो रही है। छोटे कारोबारियों का कहना है कि ये काम नहीं होने से उन्‍हें बिजनेस में काफी दिक्‍कत हो रही है।
 
सर्वर हो जाता है डाउन
 
फरीदाबाद के स्‍टील व्‍यापारी संदीप सिंघल का कहना है कि उन्‍हें एक आरटीजीएस करना था। बैंक के अंदर पहुंचने में कड़ी मशक्‍कत करनी पड़ी। जब अंदर पहुंचा और आरटीजीएस के लिए अप्‍लाई किया तो बैंक का सर्वर डाउन हो गया। ऐसा अकसर हो रहा है। इससे हम जैसे कारोबारियों को बड़ी दिक्‍कत हो रही है।
 
लोन सेंक्‍शन है पर मिला नहीं
 
फरीदाबाद के एक ऑटो पार्ट्स कारोबारी एमएल खन्‍ना ने कहा कि उन्‍होंने एक नई मशीन इम्‍पोर्ट करनी है। इसके लिए उन्‍होंने लोन अप्‍लाई किया था। लोन लगभग सेंक्‍शन भी हो चुका है, लेकिन उसके बाद से प्रोसेसिंग रुकी हुई है। पहले तो दो-तीन दिन सब्र किया और खुद ही हालात सुधरने का इंतजार किया। उसके बाद से लगातार बैंक में जा रहे हैं। वैसे तो अंदर ही घुस पाते, किसी तरह घुस भी गया तो बैंक के अधिकारी एक-दो दिन रुकने की बात कह कर टाल रहे हैं। खन्‍ना ने कहा कि यदि कुछ दिन ऐसा ही रहा तो उनके लिए बड़ी मुश्किल हो जाएगी।
 
चेक से पेमेंट करें तो कैसे
 
गुड़गांव में इलेक्ट्रिकल आयटम बनाने वाले राजेश अग्रवाल ने कहा कि जब से नोट बंद हुए हैं, तब से ही हमने चेक से पेमेंट करनी शुरू कर दी, लेकिन दो दिन पहले चेक बुक खत्‍म हो गई। चेक बुक के लिए बैंक गए तो लाइन पर लगे लोगों ने अंदर नहीं घुसने दिया, इस बात पर उनसे झगड़ा हो गया। उसके बाद घर आ गए। अब इंतजार कर रहे हैं कि भीड़ कम हो तो बैंक से चेक बुक इश्‍यू कराई जाए। 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY